पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57087.220.6 %
  • NIFTY16912.250 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %
  • Business News
  • Women
  • Rishtey
  • The Seven Rounds Made From Social Media Are Related To Sometimes Happiness And Sorrow, The Husband Of A Fraudulent Woman Who Has Made 4 Marriages On Facebook Commits Suicide, Expert's Tips Will Save You From The Forgery Of Online Marriages.

फेसबुक पर मिली दुल्हन माल लेकर फुर्र:कितनी चलती हैं साेशल मीडिया पर मोहब्बत वाली शादियां? सात फेरों का संबंध दे रहा है कभी खुशी कभी गम

2 महीने पहलेलेखक: निशा सिन्हा
  • कॉपी लिंक
  • ऑनलाइन दोस्ती में फ्रॉड से बचें, खासकर जब बात शादी की हो
  • सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के जरिए हुई ढेरों शादियां सक्सेसफुल भी

सोशल मीडिया से होने वाली शादियों के कई साइड इफेक्ट्स देखने को मिल रहे हैं। एक्सपर्ट के अनुसार डिजिटल युग के कपल को मिलाने में सोशल मीडिया शानदार प्लेटफॉर्म बनकर उभरा है, लेकिन प्यार-मोहब्बत से भरे इस प्लेटफॉर्म ने नकली रिश्तों को पनपने का मौका भी दिया है।

ऑनलाइन का मामला है, इसलिए सोच-समझकर कदम बढ़ाएं।
ऑनलाइन का मामला है, इसलिए सोच-समझकर कदम बढ़ाएं।

ऑनलाइन शादियों के मकड़जाल में मासूम बच्चे
‘सेव द चिल्ड्रन’ की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत के कुछ राज्यों में सोशल मीडिया के जरिए चाइल्ड मैरिज और सेक्शुअल अब्यूज के मामलों में 52% बढ़त हुई है। दक्षिण भारतीय राज्य तेलंगाना में ही अप्रैल 2020 और मार्च 2021 के बीच 1355 बच्चों की शादियां रोकी गईं। इसमें बड़ी संख्या में लड़कियां भी शामिल थीं। एक मामले में 15 साल की लड़की को उससे दोगुनी उम्र का आदमी बहला-फुसला कर शादी करना चाहता था। ऐन वक्त पर संस्था की ओर से शादी रुकवाई गई।

मामला यूं है कि लॉकडाउन में लड़की का स्कूल छूट गया था। उसने दोबारा स्कूल जाने की उम्मीद छोड़ दी थी। इसी दौरान सोशल मीडिया पर उसकी दोस्ती दोगुनी उम्र के एक शख्स से हुई। उसने लड़की को यह कहकर बहलाया कि शादी के बाद वह उसका दाखिला स्कूल में करा देगा। उसने लड़की को घर से भाग कर शादी करने को तैयार कर लिया, लेकिन बाद में संस्था की मदद से वह शख्स पकड़ा गया। संस्था ने सोशल मीडिया के जरिए ऐसी 5 शादियों को रोका। जहां कम उम्र की लड़कियों को शादी के लिए उकसाया जा रहा था।

आज सोशल मीडिया पर यूथ का बोलबाला है।
आज सोशल मीडिया पर यूथ का बोलबाला है।

अधेड़ को बुद्धू बना पैसे लेकर लापता हो गई विदेशी महिला
ग्वालियर के एक अधेड़ व्यक्ति की दोस्ती सोशल मीडिया पर कम उम्र की एक विदेशी महिला से हुई। फेसबुक पर ही यह रिश्ता परवान चढ़ा। एक दिन उस महिला ने कॉल कर उनसे पैसे की मदद मांगी। इन्होंने भी उसकी मासूम आवाज सुनते ही हजारों रुपए उसके खाते में ट्रांसफर कर दिए। कई उपाय कर लेने के बाद न पैसे वापस हुए और न ही बाद में महिला सोशल मीडिया प्रोफाइल पर एक्टिव दिखी।

बेवकूफ बनने से पहले पूरी जांच कर लें।
बेवकूफ बनने से पहले पूरी जांच कर लें।

रिश्तों का डराने वाला सच
कुछ साल पहले एक डिटेक्टिव एजेंसी के पास एक लड़का होने वाली दुल्हन की तहकीकात कराने पहुंचा। लड़के काे लड़की बहुत पसंद थी। दोनों की दोस्ती सोशल मीडिया साइट पर हुई थी। इसलिए एजेंसी के जरिए वह यह जानना चाहता था कि लड़की के बारे में सभी सूचनाएं सही हैं या नहीं। लड़की की पूरी छानबीन की गई। भारत डिटेक्टिव प्रा. लि. के सुनील कुमार सिंह ने लड़की की असलियत के जो डिटेल्स लड़के के सामने रखे, उसे सुनकर लड़का बेहोश होते-होते बचा।

यह लड़की पहले भी कई लड़कों को सोशल मीडिया पर फंसा कर शादी कर चुकी थी। शादी करने के बाद साल-दो साल लड़के के साथ रहती और फिर सारा माल लेकर रफूचक्कर हो जाती। सुनील कुमार सिंह स्वीकारते हैं कि डिजिटल माध्यमों से होने वाली सभी शादियां ऐसी नहीं होतीं, पर इसमें ठगे जाने की आशंका होती है। वे यह भी मानते हैं कि केवल लड़कों ही नहीं, लड़कियों को भी बेवकूफ बनाया जा रहा है।

नादान लोग आसानी से आ जाते हैं झांसे में।
नादान लोग आसानी से आ जाते हैं झांसे में।

ऑनलाइन शादी करें, पर सावधानी जरूर बरतें
आईआईएम बेंगलुरु की पूर्व प्रोफेसर और सोशल मीडिया एक्सपर्ट सीमा गुप्ता का कहना है- आज बड़ी संख्या में यूथ सोशल मीडिया पर मौजूद हैं। वर्ल्ड में 34 साल या इससे कम आयु के करीब 67 प्रतिशत युवा केवल इंस्टाग्राम से ही जुड़े हैं। इसके अलावा फेसबुक, ट्विटर पर भी इनकी बड़ी संख्या हैं। इन माध्यमों की वजह से वे एक-दूसरे के नजदीक आते हैं।

साइबर क्राइम में लड़कियों के शामिल होने की एक वजह यह भी है कि डिजिटल वर्ल्ड को लेकर इनकी जानकारी बढ़ी है। इसलिए कुछ लड़कियां इसका इस्तेमाल गलत फायदा उठाने के लिए भी कर रही हैं। ऑनलाइन मीडिया से जुड़ने वाले लव बर्ड्स को शादी करने से पहले एक-दूसरे की अच्छी तरह छानबीन कर लेनी चाहिए।

कदम बढ़ाने के पहले हर पहलू को ठीक से जांच लें।
कदम बढ़ाने के पहले हर पहलू को ठीक से जांच लें।

असलियत से ऐसे हों रूबरू :
समस्या : सोशल मीडिया पर फेक प्रोफाइल भी होते हैं। इसमें फ्रॉड लड़का या लड़की जानबूझकर ऐसी फोटो लगाते हैं, जिसमें वे रईस नजर आएं। फोटोशॉप की मदद से वे अपनी ड्रेस पर महंगे ब्रांड का ‘लोगो’ लगा देते हैं, महंगी कार और आलीशान बंगले के साथ पिक्चर पोस्ट करते हैं। विदेशी लोकेशन पर सैर करने की मॉर्फ्ड पिक्चर्स अपलोड करते हैं। सीधे लोग इसे देखकर झांसे में आ जाते हैं।
समाधान : दोस्ती होने के बाद ऑफलाइन मिलें। कुछ मुलाकातों में सच आपके सामने आ जाएगा।

समस्या : कुछ झूठे लोग सोशल मीडिया प्रोफाइल में खुद को बड़ी कंपनी का इम्प्लॉई बताते हैं।
समाधान : प्रोफाइल में दिए हुए कंपनी के कॉन्टैक्ट नंबर पर फोन कर सच जानने की कोशिश करें। अगर शादी करने को लेकर सीरियस हैं, तो खुद कंपनी जाकर असलियत का पता लगाएं।

समस्या : चालबाज लोगों के सोशल मीडिया प्रोफाइल में सब कुछ बेहतरीन नजर आता है।
समाधान : जिंदगी अच्छी-बुरी सभी चीजों का संगम है। जब कोई भी चीज जरूरत से ज्यादा अच्छी नजर आ रही हो, तो सतर्क हो जाएं और सच को जाने बगैर शादी तक ना पहुंचे।

समस्या : जालसाज लड़कियों का टारगेट बन रहे हैं लड़के।
समाधान : एक्सपर्ट का मानना है लड़कियों की भोली इमेज, सुंदर चेहरे और बातों में लड़के आसानी से आ जाते हैं। कई बार कुछ गलत लड़के भी लड़कियों का प्रोफाइल बना कर ठगी करते हैं। इसलिए दोस्ती करने से पहले इनकी प्रोफाइल के हर पहलू पर गौर फरमाएं।