पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Women
  • Health n fitness
  • From Applying Deodorant To Nipple Piercing, Know The Myths About Breast Cancer, How The Risk Of Getting Cancer Is High... What Is The Advice...

अंडरवायर ब्रा पहनने से कैंसर:डियोड्रेंट लगाने से लेकर निप्पल पियर्सिंग तक, ब्रेस्ट कैंसर को लेकर क्या है मिथ, कैसे कैंसर होने का खतरा ज्यादा...क्या है सलाह...

2 महीने पहलेलेखक: राधा तिवारी
  • कॉपी लिंक
  • क्या किसी का जूठा खाने से कैंसर फैलता है!
  • जानिए, क्या हैं गलत ब्रा पहनने के नुकसान

अक्टूबर को ब्रेस्ट कैंसर अवेयरनेस मंथ के तौर पर मनाया जाता है और इसका मकसद ब्रेस्ट कैंसर के बारे में जागरूकता फैलाना है। भारत में हर 8 में से 1 महिला ब्रेस्ट इसकी चपेट में है। यह प्रतिशत ग्रामीण भारत की तुलना में शहरों में अधिक है। ब्रेस्ट कैंसर को लेकर कई मिथ हैं। ये माना जाता है कि टाइट-फिटिंग ब्रा या अंडरवायर ब्रा पहनने से ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा होता है। और यहां तक कि रात को ब्रा पहनकर सोने से भी इस बीमारी के होने की संभावना बढ़ती है। ऐसे ही बहुत सारे मिथ कैंसर को लेकर हैं।

भारत में हर 8 में से 1 महिला को ब्रेस्ट कैंसर
भारत में हर 8 में से 1 महिला को ब्रेस्ट कैंसर

क्या ब्रा पहनने से होता है ब्रेस्ट कैंसर ?

ब्रेस्ट कैंसर से बचने के लिए ब्रा ना पहनने की सलाह बेतुकी ही है। अंडरवायर या किसी भी तरह की ब्रा और ब्रेस्ट कैंसर का कोई कनेक्शन नहीं है। हालांकि, कई बार इस तरह के दावे किए गए हैं कि बहुत टाइट अंडर गारमेंट्स पहनने से ब्रेस्ट लिम्फ में ड्रेनेज के प्रोसेस में रुकावट आती है। लेकिन, ऐसे कोई वैज्ञानिक तथ्य मौजूद नहीं हैं, जो ये साबित करें कि, टाइट ब्रा या अंडरवायर पहनने से ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है।

ब्रा और ब्रेस्ट कैंसर का कोई कनेक्शन नहीं
ब्रा और ब्रेस्ट कैंसर का कोई कनेक्शन नहीं

क्या कहती है स्टडी

यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के छात्र लू चेन ने कहा, 'विकासशील देशों की तुलना में विकसित देशों में ब्रेस्ट कैंसर आम होने का एक कारण ब्रा पहनने के तरीके को माना जाता था। लेकिन इसको लेकर कोई सबूत नहीं मिले। 'स्टडी में यह भी कहा गया कि ‘ब्रेस्ट कैंसर और ब्रा के बीच कोई सीधा ताल्लुक नहीं है। लेकिन हां, मोटापा और ब्रेस्ट कैंसर सीधे तौर पर जुड़े हुए हैं।

‘ब्रेस्ट कैंसर और ब्रा के बीच कोई सीधा ताल्लुक नहीं
‘ब्रेस्ट कैंसर और ब्रा के बीच कोई सीधा ताल्लुक नहीं

दूसरी स्टडी

1995 में सिडनी रॉस सिंगर और सोमा ग्रीस सेज़र द्वारा लिखी किताब ‘ड्रेस्ड टू किल’ में यह कहा गया कि ब्रा पहनने से शरीर के लिम्फैटिक सिस्टम पर असर पड़ता है जो बाद में ब्रेस्ट कैंसर होने का कारण बन जाता है। उस किताब के अनुसार टाइट ब्रा पहनने से ब्रेस्ट के पास का लिम्फ नोड में परेशानी होती है जो उसके फंक्शन को सही तरह से करने में रुकावट पैदा करता है और उस जगह पर लिम्फैटिक फ्लूइड जमा हो जाता है। असल में लिम्फैटिक सिस्टम शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में मदद करता है। यानि ब्रा पहनने से शरीर से ये टॉक्सिन फ्लूइड निकल नहीं पाता है जो ब्रेस्ट टिशू में जमा होने लगता है जो ब्रेस्ट कैंसर का कारण बन जाता है।

ब्रेस्ट कैंसर को लेकर कई मिथ
ब्रेस्ट कैंसर को लेकर कई मिथ

टाइट ब्रा है नुकसानदायक

करीब 70 से 80 प्रतिशत महिलाएं गलत साइज की ब्रा पहनती हैं और एक्सरसाइज के दौरान स्पोर्ट्स ब्रा भी नहीं पहनती हैं। आपको बता दें कि इससे आप गंभीर बीमारियों की चपेट में आ सकती हैं। क्योंकि गलत ब्रा पहनने से सिर्फ पीठ या गर्दन दर्द नहीं बल्कि ब्रेस्ट कैंसर, हार्टबर्न, पाचन संबंधी समस्याओं, स्किन रैशेज और सिर दर्द की समस्याएं भी हो सकती है। इसलिए आप भी गलत साइज की पहनती तो अलर्ट हो जाएं।

ब्रेस्ट कैंसर के क्या कारण हो सकते हैं

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार बच्चे नहीं पैदा करना, अधिक उम्र में पहला बच्चा होना, स्तनपान नहीं कराना, वजन में अत्यधिक वृद्धि और अक्सर शराब का सेवन करना, खराब और अनियंत्रित लाइफस्टाइल ब्रेस्ट कैंसर के प्रमुख कारण हैं। इसके अलावा अनुवांशिक रूप से भी स्तन कैंसर की बीमारी होना संभव है।

क्या कहते हैं कैंसर स्पेशलिस्ट

सीनियर ऑंकोलॉजिस्ट डॉक्टर अजय शर्मा , मैक्स हॉस्पिटल
सीनियर ऑंकोलॉजिस्ट डॉक्टर अजय शर्मा , मैक्स हॉस्पिटल

शालिमार बाग, मैक्स हॉस्पिटल के सीनियर ऑंकोलॉजिस्ट डॉक्टर अजय शर्मा ने बताया कि कैंसर और ब्रा का सीधा संबंध नहीं है। आज तक प्रमाण नहीं मिला है। अभी तक डॉक्टरों को ऐसा तथ्य नहीं मिला है जिसमें कहा जा सके कि अंडरवायर ब्रा रात को पहनकर सोने से स्तन कैंसर हो जाता है। ब्रा के रंग या उसके प्रकार का ब्रेस्ट कैंसर से कोई लेना-देना नहीं है। कहने का मतलब ये हैं कि पैडेड, अंडर-वायर्ड या डार्क रंगों वाली ब्रा आपकी स्किन पर रैशेज हो सकते हैं लेकिन इनका ब्रेस्ट कैंसर से कोई लेना-देना नहीं होता।

कैंसर से जुड़े ये हैं 10 मिथक (Common Cancer Myths)

1. क्या डियोड्रेंट कैंसर का कारण बनता है?

डियोड्रेंटया एंटीपर्सपिरेंट के इस्तेमाल से ब्रेस्ट कैंसर नहीं होता है। दरअसल, डियोड्रेंट के उत्पादन में कई प्रकार के केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है, जिनमें एल्युमिनियम भी होने के भी दावे किए जाते हैं। हालांकि, इस बात की पुष्टि करने वाले कोई वैज्ञानिक तथ्य अभी तक उपलब्ध नहीं कराए गए हैं।

डियोड्रेंट से कोई खतरा नहीं
डियोड्रेंट से कोई खतरा नहीं

2. क्या अंडरवायर ब्रा से ब्रेस्ट कैंसर होता है?

अंडरवायर ब्रा से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा नहीं बढ़ता है। इस पर अभी तक कोई रिसर्च सामने नहीं आयी है। जो इस बात की पुष्टि करें।

3. क्या ब्रेस्ट में चोट लगने से कैंसर हो सकता है?

ब्रेस्ट में चोट लगने या गिरने से ब्रेस्ट कैंसर नहीं होगा। चोट लगने से सूजन का कारण बन सकता है,

4. क्या टेंशन से कैंसर होता है?

इस बात का कोई सबूत नहीं है कि तनाव से आपके स्तन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। कई अध्ययनों ने तनाव और स्तन कैंसर के बीच संबंधों को देखा है, लेकिन स्पष्ट संबंध दिखाने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं।

5. क्या निप्पल पियर्सिंग से ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है?

इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि निप्पल पियर्सिंग से ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है।

6. क्या मोबाइल फोन से ब्रेस्ट कैंसर होता है?

इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि मोबाइल फोन से निकलने वाले रेडिएशन से आपको ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है. इस तरह की कोई रिसर्च सामने नहीं आई है।

मोबाइल फोन से ब्रेस्ट कैंसर नहीं होता
मोबाइल फोन से ब्रेस्ट कैंसर नहीं होता

7. क्या आईवीएफ से ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है?

इसका कोई प्रमाण नहीं है कि आईवीएफ (इन विट्रो फर्टिलाइजेशन) उपचार आपके ब्रेस्ट कैंसर के जोखिम को प्रभावित करता है।

8. क्या गर्भपात से स्तन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है?

गर्भपात से ब्रेस्ट कैंसर का कोई कनेक्शन नहीं है. गर्भपात कराने से हार्मोनल दिक्कत हो सकती है.

9. क्या कैंसर छूने से फैलता है?

यह एकदम बेतुकी बात है, जिस पर ज्यादातर लोग विश्वास करते हैं। अगर कोई व्यक्ति कैंसर से पीड़ित है तो वे उसके पास जाने से भी कतराते हैं। हालांकि कुछ प्रकार के कैंसर ऐसे होते हैं जो कि विभिन्न प्रकार के वायरस और बैक्टीरिया से फैलते हैं। जैसे कि सर्विकल, लिवर और पेट का कैंसर। cancer.gov के अनुसार, कैंसर कभी भी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में छूने से नहीं फैलता। यह सिर्फ ऑर्गन या फिर टिशू ट्रांसप्लांटेशन के केस में ही संभव है।

10. क्या परिवार में किसी एक को कैंसर, मतलब सभी को कैंसर ?

अगर फैमिली हिस्ट्री में किसी एक व्यक्ति को कैंसर रहा है तो फिर उस परिवार में अन्य सदस्यों में कैंसर होने का रिस्क बढ़ जाता है। लेकिन आमतौर पर ऐसा नहीं होता

11. क्या आर्टिफिशियल स्वीटनर से कैंसर होता है ?

Cancer.gov के अनुसार शोधकर्ताओं ने आर्टिफिशल स्वीटनर्स की सुरक्षा को मापने के लिए उन पर कई तरह के परीक्षण किए और उन्हें ऐसा कोई तत्व नहीं मिला जिससे साबित हो सके कि आर्टिफिशियल स्वीटनर का सेवन करने से किसी भी प्रकार का कैंसर होता है।

12. क्या किसी का जूठा खाने से कैंसर फैलता है ?

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि कैंसर जूठा खाने या किसी और चीज से फैलता है. डॉक्टर ने बताया कि कैंसर के एक से दूसरे में फैलने की प्रवृत्ति होती ही नहीं हैं। कैंसर के लिए फैलने जैसा शब्द ही ठीक नहीं है। कैंसर न जूठा खाने से फैलता है और न किसी और चीज से. इसलिए जागरूक रहिए सतर्क रहिए।

गलत ब्रा पहनने के नुकसान

  • गलत साइज और टाइट ब्रा पहनने से ब्रेस्ट पेन हो सकता है।
  • टाइट ब्रा पहनने से ब्लड सर्कुलेशन में दिक्कत होती है।
  • कई बार ब्रा के बहुत अधिक टाइट होने से ब्रेस्ट टिशू के डैमेज होने का खतरा भी रहता है।
  • गलत साइज की ब्रा पहनने से कंधों और गर्दन में भी दर्द उठ सकता है।
  • गलत ब्रा पहनने से त्वचा की कई तरह की बीमारियां भी हो सकती हैं। जिनमें त्वचा पर लाल दाने, खुजली और रैशेज़ हो जाना सबसे आम हैं।

ऐसे कोई लक्षण दिखे तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें:

  • ब्रेस्ट की स्किन में किसी भी प्रकार का बदलाव
  • निप्पलों में बदलाव
  • निप्पलों से लिक्विड फ्लूइड निकलना
  • ब्रेस्ट में दर्द
  • ब्रेस्ट का नरम महसूस होना
  • ब्रेस्ट में किसी प्रकार की गिल्टी या गांठ उभरना
खबरें और भी हैं...