पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX49792.120.8 %
  • NIFTY14644.70.85 %
  • GOLD(MCX 10 GM)490860.22 %
  • SILVER(MCX 1 KG)659170.23 %
  • Business News
  • Welcome 2021
  • 5G In India Launch Date | Tech Guru Abhishek Telang On 5G Launch & Spectrum Auction, Foldable Phones, Games Market And More

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टेक्नोलॉजी के लिए कैसा रहेगा 2021:जुलाई में शुरू हो सकती है 5G सर्विस, ई-स्पोर्ट्स का क्रेज तेजी से बढ़ेगा; कैमरा का फोकस वीडियो पर ज्यादा होगा

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अलग-अलग sectors के लिए 2021 कैसा रहेगा? इस पर हम आपको जाने-माने एक्सपर्ट की राय बता रहे हैं। अब तक आप अर्थव्यवस्था, शिक्षा, नौकरियां, राजनीति , एंटरटेनमेंट जैसे sectors पर आर्टिकल पढ़ चुके हैं। आज टेक एक्सपर्ट और टेक गुरु के नाम से चर्चित अभिषेक तैलंग से जानते हैं कि 2021 में टेक्नोलॉजी को लेकर क्या नया मिलेगा...

2020 भले ही कोविड-19 के लिए जाना जाए, लेकिन इस महामारी के चलते लोग टेक्नोलॉजी के करीब आ गए। वर्चुअल मेलजोल बढ़ाने के लिए लोग जहां ऐप्स का इस्तेमाल सीख गए। तो डिजिटल पेमेंट से डेली खर्च को आसान बना लिया। 2021 में भी टेक्नोलॉजी गेम चेंजर साबित होगी। एक तरफ जहां 5G का श्रीगणेश हो सकता है। तो दूसरी तरफ वायरलेस टेक्नोलॉजी लाइफ को आसान बनाएगी। आइए सभी के बारे में एक-एक करके जानते हैं...

1. 5G स्पीड का दम दिखेगा
5G का इंतजार काफी वक्त से हो रहा है। देश में 5G अनेबल ढेरों स्मार्टफोन बिक भी रहे हैं, पर 5G नेटवर्क का कहीं भी अता-पता नहीं है। 2021 में 5G देश में दस्तक दे देगा। सरकार जल्द ही 5G नेटवर्क के स्पैक्ट्रम आवंटन और नीलामी की प्रक्रिया की शुरूआत करेगी। उम्मीद है कि अप्रैल से देश के मेट्रो शहरों के चुनिंदा सर्किल में 5G ट्रायल भी शुरू हो जाएंगे।

इस प्लान के हिसाब से जुलाई-अगस्त से देश के मेट्रो शहरों के चुनिंदा सर्किल में 5G का आगाज हो जाएगा। रिलायंस जियो भी इंडिया मोबाइल कांग्रेस इवेंट के दौरान 2021 की दूसरी छमाही में 5G सर्विस शुरू करने का ऐलान कर चुकी है। 5G के आने से सबसे ज्यादा फायदा डिजिटल कंटेंट को होगा। मेडिकल और इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में भी 5G के फायदे मिलने शुरू हो जाएंगे।

5G के आने से इंटरनेट स्पीड में क्रांति आ जाएगी। 4G की तुलना 5G की डाउनलोड स्पीड 10 से 12 गुना तक बढ़ जाएगी। अभी भारत में मैक्सिमम 4G डाउनलोड स्पीड 33.3 Mbps रही है। जबकि 5G डाउनलोड स्पीड 200 Mbps से 370 Mbps तक होगी। अभी सऊदी अरब और दक्षिण कोरिया 5G स्पीड के मामले में सबसे ऊपर हैं।

2. मोबाइल बनेगा खेल का मैदान

पबजी मोबाइल तो बस झांकी थी, ई-स्पोर्ट्स का पूरा जलवा तो अभी बाकी है। भारत गेमिंग की दुनिया के लिए बहुत बड़ा बाजार है और 2020 में लॉकडाउन के दौरान इसकी असली ताकत लोगों को देखने को मिली। जब पबजी जैसे गेम के डाउनलोड और एक्टिव यूजर्स की तादाद, लगभग चौगुनी हो गई।

पबजी मोबाइल तो सरकार ने बैन कर दिया, पर उसकी वापसी के लिए कंपनियां करोड़ों डॉलर का भारतीय गेमिंग इंडस्ट्री में निवेश करने को तैयार बैठी हैं। पबजी के अलावा फौजी जैसे गेम भी भारतीय गेमिंग इंडस्ट्री को बढ़ावा ही देंगे। इसके साथ ही रिलायंस जियो, एयरटेल, पेटीएम जैसी कंपनियां भी ई-स्पोर्ट्स के बिजनेस में घुस गई हैं।

2021 में 5G आ जाने के बाद ई-स्पोर्ट्स का काया-कल्प हो जाएगा। देश के छोटे-छोटे शहरों से भी कई लोग ई-स्पोर्ट्स में अपना भविष्य तलाशने लगेंगे। ई-स्पोर्ट्स में रोजगार की भी बहुत संभावनाएं निकल कर आएंगी। जिसमें खेलने वालों के साथ-साथ, खेल खिलाने वाले, उसे मैनेज करने वाले और गेम डिजाइन और डेवलप करने वालों के लिए ढेरों अवसर होंगे।

3. चार्जर, इयरफोन अब भूल जाओ
एपल ने अपने आईफोन के साथ चार्जर, इयरफोन देने बंद किया। अब यही ट्रेंड 2021 में बाकी सभी फ्लैगशिप स्मार्टफोन में देखने को मिलेगा। शाओमी, सैमसंग समेत कई कंपनियों ने तो पहले ही इस कटौती का ऐलान कर दिया है। पूरी स्मार्टफोन इंडस्ट्री में ई-वेस्ट कम करने की वजह के साथ-साथ, इस कटौती के पीछे 'कमाई की रणनीति' भी जुड़ी हुई है।

इंडस्ट्री पूरी तरह से वायरलेस होने की राह पर है। कंज्यूमर को वायरलेस ईयरबड्स की आदत तो डल चुकी है, अब कंपनियां आपको वायरलेस चार्जर और वायरलेस पावर बैंक की भी आदत डलवाना चाहती हैं।

4. फोल्डेबल स्मार्टफोन की भरमार दिखेगी

साल 2020 में कई स्मार्टफोन कंपनियों ने अपने-अपने फोल्डिंग स्क्रीन वाले स्मार्टफोन बाजार में उतार दिए। इनमें से ज्यादातर स्मार्टफोन या तो पुराने क्लेम शेल डिजाइन की तरह खुलने वाले हैं, या किसी किताब की तरह स्क्रीन को फोल्ड करते हैं, या अजीबोगरीब डुअल स्क्रीन वाले फोन। अब 2021 में फोल्डिंग स्मार्टफोन में कई और तरह की डिजाइन देखने को मिलेंगी। जिसमें रोलेबल स्क्रीन वाले स्मार्टफोन भी होंगे।

डिजाइन के हिसाब से रोलेबल स्क्रीन ज्यादा बेहतर होगी, क्योंकि किताब की तरह फोल्ड होने वाली स्क्रीन के बीच में सिलवट के निशान पड़ने लगते हैं और फोन फोल्ड होने के बाद काफी मोटा हो जाता है। क्लेमशेल डिजाइन में भी सिलवट पड़ने का डर बना रहता है। ये डिजाइन सुंदर तो दिखती है पर इसमें फोन किसी टैबलेट कम्प्यूटर के साइज का नहीं हो पाता।

रोबेलबल स्क्रीन के ढेरों कॉन्सेप्ट डिजाइन देखकर इतना तो अंदाजा लग रहा है कि ये डिजाइन ज्यादा ‘प्रैक्टिकल’ होगी, क्योंकि यहां फोन के अंदर मौजूद मोटर्स, स्क्रीन को अपने अंदर समेट लेंगी। जैसे ‘चार्ट पेपर’ को हम रोल करते हैं। जिससे एक बटन दबाते ही स्क्रीन ‘फोन मोड’ से खींच कर ‘टैबलेट मोड’ में आ जाएगी। ये सारा कमाल फोन की बॉडी के अंदर मोटर्स की मदद से होगा। जिससे फोल्डेबल स्क्रीन की उम्र भी बढ़ेगी।

5. कैमरे का फोकस वीडियो पर ज्यादा होगा
2020 से पहले स्मार्टफोन के कैमरों का ज्यादातर फोकस ‘ये फोटो अच्छी खींचता है’ इस पर था, लेकिन 2021 से स्मार्टफोन के कैमरों का फोकस ‘ये वीडियो अच्छा रिकॉर्ड करता है’ इस पर हो जाएगा। इस बात के संकेत, 2020 के आखिरी क्वार्टर में लॉन्च हुए कई स्मार्टफोन में आपको इशारों-इशारों में कंपनियों ने दे दिया था।

आईफोन 12 सीरीज में डॉल्बी विजन पर जितना फोकस था, उतना ही नोट 20 अल्ट्रा में 8K वीडियो रिकॉर्डिंग और मैनुअल वीडियो शूटिंग मोड पर भी था। वहीं वीवो की एक्स सीरीज में गिंबल जैसा स्टेबलाइज्ड वीडियो और आई ऑटोफोकस जैसे वीडियो को बेहतर बनाने के फीचर्स दे कर किया गया। 2021 में लॉन्च होने वाले लगभग हर दूसरे-तीसरे स्मार्टफोन में आपको यही इबारत पढ़ने को मिलेगी।

Open Money Bhaskar in...
  • Money Bhaskar App
  • BrowserBrowser