पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जरूरत की खबर:ट्रेन में नहीं ले जाना होगा चादर-कंबल, रेलवे की तरफ से दोबारा शुरू हुई सर्विस, जानिए आपकी ट्रेन में मिलेगा या नहीं

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अगर आप AC कोच में रिजर्वेशन करवाते हैं तो आपको एक बैग कम ले जाना होगा, क्योंकि चादर-कंबल की सुविधा अब पहले की तरह कई ट्रेनों में शुरू कर दी गई है।

रेलवे बोर्ड ने 10 मार्च को दिया था निर्देश
यह निर्देश तत्काल प्रभाव से लागू करना था, लेकिन सभी जोनल ने इसे लागू करने में काफी देर कर दी। 21 मार्च 2022 को ये निर्देश लागू करना शुरू किया गया। जिसकी शुरुआत हुई छपरा से दुर्ग जाने वाले सारनाथ एक्सप्रेस, बनारस नई दिल्ली एक्सप्रेस और बरेली भुज एक्सप्रेस से। हालांकि, 15 अप्रैल तक कुछ और ट्रेनों में भी ये सुविधा शुरू हो जाएगी। ये सुविधा अभी लंबी दूरी की ट्रेनों में ही दी जा रही है।

कोरोना वायरस की वजह से पिछले 2 साल से AC कोच के पर्दे और चादर-कंबल (बेडरोल) की सुविधा को बंद कर दिया गया था। यात्रियों की असुविधा को देखते हुए भारतीय रेल की तरफ से डिस्पोजल बेडरोल की सर्विस शुरू की गई थी। इसे पैसे देकर खरीदा जा सकता था।

क्या है डिस्पोजल बेडरोल सर्विस?
डिस्पोजल बेडरोल के लिए यात्रियों को अलग से पैसे देने पड़ते थे। यात्री 300 रुपए में इस बेडरोल को खरीदते थे। हालांकि, कुछ यात्रियों को ये सुविधा अच्छी लगी तो कुछ को बेकार। जिन ट्रेनों में कंबल-चादर की सुविधा शुरू की गई है वहां इस सर्विस को समाप्त कर दिया है।

सवाल: क्या बेडरोल के लिए यात्रियों से ट्रेन में एक्सट्रा पैसे लिए जाएंगे?
जवाब: भोपाल रेल डिविजन के जनसंपर्क अधिकारी सूबेदार सिंह
कहते हैं कि…भोपाल की लगभग सभी ट्रेनों में बेडरोल की सुविधा दोबारा शुरू की जा रही है, लेकिन इसके लिए कोई एक्सट्रा पैसे यात्रियों से ट्रेन में नहीं लिए जाएंगे।

वहीं, रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी भी यही बताते हैं कि बाकी ट्रेनों में भी यात्रियों को एक्सट्रा पैसे देने की जरूरत नहीं होगी। बेडरोल के चार्ज AC बर्थ की रिजर्वेशन टिकट में पहले ही जोड़ दिए गए हैं। हालांकि, गरीब रथ और दुरंतो एक्सप्रेस के स्लीपर बर्थ के यात्रियों को बेडरोल के लिए 25 रुपए देने होंगे।

21 मार्च से कई ट्रेनों में बेडरोल देना शुरू किया जा चुका है। 15 अप्रैल तक बाकी ट्रेनों में भी ये सुविधा शुरू हो जाएगी। आने वाले दिनों में जिन ट्रेनों में ये सुविधा शुरू होने वाली है वो कुछ इस तरह हैं-

1 अप्रैल से इंदौर और अंबेडकर नगर से चलने वाली इन ट्रेनों में बेडरोल की सुविधा शुरू कर दी गई है

  • इंदौर-दौंड एक्सप्रेस
  • इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस
  • इंदौर-नागपुर त्रिशताब्दी एक्सप्रेस
  • इंदौर-वेरावल महामना एक्सप्रेस
  • इंदौर-भंडारकुंड पेंचवैली एक्सप्रेस
  • इंदौर-बीकानेर महामना एक्सप्रेस
  • इंदौर-पटना एक्सप्रेस वाया सुल्तानपुर
  • इंदौर-पटना एक्सप्रेस वाया अयोध्या कैंट
  • डॉ अंबेडकर नगर-श्री माता वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस
  • डॉ अंबेडकर नगर-नागपुर एक्सप्रेस
  • डॉ अंबेडकर नगर-यशवंतपुर एक्सप्रेस

24 मार्च से इन ट्रेनों में बेडरोल की सुविधा शुरू हुई-

  • गोरखपुर-हिसार गोरखधाम एक्सप्रेस
  • लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस
  • लखनऊ-पाटलीपुत्र एक्सप्रेस
  • लखनऊ-मुंबई पुष्पक एक्सप्रेस

28 मार्च से इन ट्रेनों में बेडरोल देने की सुविधा शुरू हुई-

  • टनकपुर-सिंगरौली त्रिवेणी एक्सप्रेस
  • टनकपुर-शक्तिनगर त्रिवेणी एक्सप्रेस
  • रामेश्वरम एक्सप्रेस
  • बनारस-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • काठगोदाम-जैसलमेर
  • रामनगर-जैसलमेर
  • रामनगर-आगरा फोर्ट एक्सप्रेस

14 फरवरी से IRCTC ने सभी ट्रेनों में यात्रियों के लिए फूड सर्विस भी शुरू कर दी है। अब यात्रियों को ट्रेन में ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर की सुविधा पहले जैसी मिलेगी। लंच और डिनर में थाली दी जाएगी। वहीं ब्रेकफास्ट का मेन्यू अलग होगा।

सभी ट्रेनों में केटरिंग सर्विस के जरिए मिलेगा खाना
राजधानी, शताब्दी और दुरंतो जैसी लगभग 30% प्रीमियम ट्रेनों में दिसंबर 2021 से ही केटरिंग सर्विस शुरू कर दी गई थी। जनवरी 2022 तक 80% ट्रेनों में केटरिंग सर्विस शुरू हो गई थी। 14 फरवरी 2022 तक बची 20% ट्रेनों में केटरिंग सर्विस शुरू हो गई है।

इन सावधानियों के साथ ट्रेन में खरीद सकते हैं खाना

  • IRCTC के ई-केटरिंग से खाना ऑर्डर कर सकते हैं।
  • खाना खरीदते वक्त ऑनलाइन पेमेंट करें।
  • पैकेट का बाहरी कवर तुरंत फेक दें।
  • मास्क और सैनिटाइजर अपने साथ रखें।

खाना ऑर्डर करने का तरीका
यात्री IRCTC मोबाइल ऐप, www.ecatering.irctc.co.in वेबसाइट व ऐप या 1323 में कॉल करके आर्डर कर सकते हैं। इसके साथ केटरिंग वाली ट्रेनों में वहीं पर ऑर्डर करके खाना ले सकते हैं।

खबरें और भी हैं...