पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शेफ की बनाई रेसिपी बनाकर जीतें इनाम:घर पर बनाएं भगवान जगन्नाथ का भोग दालमा, पंचफोरन का लगेगा तड़का; सीखें तरीका

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

त्योहार पूजा-पाठ के साथ हमारी समृद्ध परंपराओं की अभिव्यक्ति भी हैं। भास्कर ने 12 राज्यों के 27 शहरों की महिला पाठकों के सुझावों के अनुरूप इस बार खास तैयारी की है।

महिलाओं के मुताबिक त्योहारों में पूजा के साथ पकवानों का विशेष महत्व है। आज से नवरात्र प्रतिपदा के साथ त्योहारों के सीजन का शुभारंभ होगा।

महिला पाठकों के सुझावों के अनुरूप भास्कर 30 दिन तक रोज एक विशिष्ट भारतीय व्यंजन की विधि बताएगा। इसके लिए हमने राज्यों के जाने-माने शेफ का पैनल बनाया है।

हर दिन एक शेफ अपने राज्य के एक खास पकवान की विधि बताएंगे। यानी इस त्योहार परिवार के लिए रोज नया स्वाद और खुशियों की महक तीस दिन तक लगातार।

रोज जीतिए पांच इनाम
शेफ के बनाए व्यंजन को आप भी बनाकर इसका वीडियो हमसे शेयर कर सकते हैं। रोज सबसे बेस्ट पांच वीडियो को मिलेंगे आकर्षक इनाम। आप इसका वीडियो 9190000090 पर मिस्ड कॉल के जरिए हम से शेयर कर सकते हैं।

अब पर्व के पकवान सीरीज की पहली रेसिपी की बात करते हैं। आज हम आपको बताएंगे ओडिशा की traditional dish डालमा (दालमा) बनाने का तरीका।

क्या है इस डिश की खासियत पहले वो समझते हैं...

ओडिशा के पुरी शहर में श्री जगन्नाथ धाम है जहां का छप्पन भोग वाला नैवेद्य विश्वविख्यात है

खान-पान विशेषज्ञ पुष्पेश पंत कहते हैं- वास्तव में इस भोग की संख्या छप्पन से कई गुना अधिक है क्योंकि यह ऋतु चक्र तथा पर्व उत्सवों के अनुसार बदलता रहता है। सात्विक और पौष्टिक व्यंजनों का स्वरूप लगभग एक हजार साल से बदला नहीं। इसी संदर्भ में दालमा विशेष रूप से उल्लेखनीय है। दाल में डाली जाने वाली मौसमी सब्जियां एवं फल इसे सदा बहार बनाते हैं और भगवान को समर्पित आहार का यह अभिन्न हिस्सा बना रहता है।

अब अपूर्बा रथ से इस डिश को बनाना सीखते हैं, जो कंसल्टिंग शेफ हैं, भुवनेश्वर, ओडिशा में।

उड़िया डालमा (दालमा) बनाने के लिए इन चीजों की जरूरत होगी-

  • अरहर / तूर दाल- 1 कप
  • सब्जियां, कटी हुई-
  • जिमीकंद- ½ कप
  • कद्दू- ½ कप
  • कच्चा केला- ½ कप
  • परवल / लौकी - ½ कप
  • बैगन - ½ कप
  • मोरिंगा या सहजन - ½ कप
  • बीन्स- ½ कप
  • तेज पत्ते - 2
  • हल्दी पाउडर- 1 छोटा चम्मच
  • नमक - स्वादानुसार
  • कसा हुआ नारियल- ¾ कप
  • पानी - 4 कप

स्पाइस मिक्स के लिए-

  • सूखी लाल मिर्च - 4
  • जीरा - 1 बड़ा चम्मच

तड़के के लिए-

  • पंच फोरान- 1 छोटा चम्मच
  • घी- 2 बड़े चम्मच
  • हींग - एक चुटकी
  • अदरक - 2 छोटे चम्मच, मोटे कटा हुआ

गार्निशिंग के लिए-

  • हरा धनिया - एक मुट्ठी, कटा हुआ

बनाने का तरीका-

  • दाल को धोकर कम से कम 45 मिनट के लिए भिगो दें।
  • फिर, सभी सब्जियों को धोकर छील लें और क्यूब्स में काट लें।
  • सब्जियों को नमक और हल्दी के पानी में भिगो दें। एक पैन को गरम कर, उसमें जीरा, 2 लाल मिर्च डालकर ड्राई रोस्ट करें।
  • मसाले भुन जाने के बाद इन्हें ठंडा होने दें फिर पीसकर बारीक पाउडर बनाएं।
  • अब इन्हें एक तरफ रख दें। एक प्रेशर कुकर में दाल, तेजपत्ता हल्दी पाउडर और स्वादानुसार नमक डालें।
  • आवश्यकतानुसार पानी डालकर मध्यम आंच पर पकाएं।
  • कुकर का सारा प्रेशर निकल जाने के बाद ही कुकर खोलें।
  • दाल अच्छी तरह से पकी होनी चाहिए, लेकिन सब्जी ज्यादा घुली नहीं होनी चाहिए।
  • आपको लगता है कि मिश्रण बहुत सूखा या गाढ़ा है, तो उसमें पानी डालें।
  • दालमा के बर्तन में ताजा कद्दूकस किया हुआ नारियल डालें।
  • फिर तैयार भुना जीरा और लाल मिर्च पाउडर दालमा पर छिड़कें।
  • इसे ढककर और 5 मिनट के लिए मध्यम आंच पर उबलने दीजिए।
  • अब बारी तड़के की है। इसके लिए घी, कटा हुआ अदरक और पंच फोरन डालें।
  • पंचफोरन चटकने के बाद, बची हुई लाल मिर्च डालें और इसमें एक चुटकी हींग डालें। तड़के को लगभग 30 सेकंड तक या महक आने तक पकने दें।
  • उबली हुई दाल और सब्जी के मिश्रण में घी का यह तड़का डालें।
  • दाल में फ्लेवर मिलाने के लिए इसे 3-4 मिनट के लिए ढककर रख दीजिए।
  • दालमा को कटे हुए हरे धनिये से गार्निश करें। आपका दालमा चावल और घी के साथ परोसने के लिए तैयार है।

नोट-

पंच फोरन - यह एक 5 मसाले का मिश्रण है जो आमतौर पर पूर्व भारत की रसोई में इस्तेमाल किया जाता है, इसे जीरा, सरसों के बीज (राई), सौंफ, मेथी दाना, और प्याज के बीज या कलौंजी से तैयार किया जाता है।

खबरें और भी हैं...