पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कुट्‌टू का गोलगप्पा, सूप के साथ परोसें:पर्व के मौसम में मेहमान आ जाएं तो बनाएं ये, इसकी वीडियो हमें भेजकर जीतें इनाम

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

त्योहार पूजा-पाठ के साथ हमारी समृद्ध परंपराओं की अभिव्यक्ति भी हैं। भास्कर ने 12 राज्यों के 27 शहरों की महिला पाठकों के सुझावों के अनुरूप इस बार खास तैयारी की है।

महिलाओं के मुताबिक त्योहारों में पूजा के साथ पकवानों का विशेष महत्व है। महिला पाठकों के सुझावों के अनुरूप भास्कर 30 दिन तक रोज एक विशिष्ट भारतीय व्यंजन की विधि बताएगा। इसके लिए हमने राज्यों के जाने-माने शेफ का पैनल बनाया है।

हर दिन एक शेफ अपने राज्य के एक खास पकवान की विधि बताएंगे। यानी इस त्योहार परिवार के लिए रोज नया स्वाद और खुशियों की महक तीस दिन तक लगातार।

पर्व के पकवान सीरीज की दूसरी रेसिपी हैं पंपकिन सूप और कुट्‌टू गोलगप्पा। इसे बनाने का तरीका सीखा रहे हैं स्ट्रीट स्टोरीज रेस्तरां, झारखंड के शेफ निशांत चौबे।

पंपकिन सूप और कुट्‌टू गोलगप्पा बनाने में...

सामग्री - 4 लोगों के लिए
बनाने का समय - 30 मिनट

क्या चाहिए
पंपकिन सूप के लिए - कद्दू- 450 ग्राम, नारियल का दूध- 300 मि.ली, कढ़ी पत्ता- थोड़े-से, सूखी खड़ी लाल मिर्च- थोड़ी-सी, अदरक- 50 ग्राम बारीक कटी हुई, नारियल तेल- 4 बड़े चम्मच, लाल मिर्च पाउडर- 2 छोटे चम्मच।

गोलगप्पा के लिए - कुट्‌टू का आटा- 500 ग्राम, आलू- 200 ग्राम उबले और मसले हुए, गर्म पानी- आटा गूंधने के लिए, तेल- तलने के लिए, सेंधा नमक- स्वादानुसार।

ऐसे बनाएं
पंपकिन सूप के लिए - कद्दू को छीलकर छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। अब पैन में नारियल तेल गर्म करें। इसमें अदरक डालकर भूनें। खड़ी लाल मिर्च और कढ़ी पत्ता तड़काएं। फिर कद्दू के टुकड़े इसमें डालकर मिलाएं।

लगभग दो कप पानी डालकर कुछ मिनट पकाएं। जब कद्दू मुलायम होकर पक जाए तो आंच बंद करें और इसे ठंडा करके बारीक पीस लें।

इस सूप को एक तरफ रख दें। अब पैन में नारियल का दूध गर्म करें। इसमें सेंधा नमक मिलाएं।
गोलगप्पा बनाने के लिए - : कुट्टू के आटे में आलू मिलाकर थोड़ा-थोड़ा गर्म पानी डालते हुए गूंध लें। आटे को पतला बेलें और पसंदीदा आकार के कटर से कई गोलगप्पे काट लें। इन्हें गर्म तेल में सुनहरा भूरा तल लें।

ऐसे परोसें
गहरी प्लेट में कुछ उबले हुए कद्दू के टुकड़े रखें। नारियल दूध का घोल और कुट्‌टू के गोलगप्पे डालें। ऊपर से कद्दू का सूप डाल दें। नारियल के बारीक टुकड़े डालकर परोसें।

अब जानते हैं कि खानपान विशेषज्ञ पुष्पेश पंत क्या कहते हैं इस डिश के बारे में

भारत के अनेक प्रदेशों में कुट्टू के आटे का प्रयोग फलाहार में किया जाता है। इससे तरह-तरह के व्यंजन तैयार किए जाते हैं। यह अनाज नहीं बल्कि छद्म अनाज है, इसलिए इसे उपवास में खा सकते हैं। इसमें पोषक तत्व और खनिज संतुलित मात्रा में मिलते हैं।

रेसिपी किस तरह बनानी है, आपने सीख ली हैं न तो अब बारी आती है इनाम जीतने की

शेफ के बनाए व्यंजन को बनाकर आप इसका वीडियो 9190000090 पर मिस्ड कॉल के जरिए हम से शेयर कर सकते हैं। बेस्ट पांच वीडियो को रोज मिलेंगे आकर्षक इनाम ।

खबरें और भी हैं...