पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %

31 जुलाई तक भर दे इनकम टैक्स रिटर्न, वरना देना पड़ेगा जुर्माना

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

यूटिलिटी डेस्क. यदि आपने अभी तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल नहीं किया है तो असेसमेंट ईयर 2018-19 के लिए रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2019 है। यदि आप इस तारीख से पहले रिटर्न फाइल नहीं करते हैं तो आपको 10 हजार रुपए तक का जुर्माना देना पड़ सकता है। यह ITR पर्सनल इनकम टैक्स, हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली और ऐसे टैक्सपेयर्स जिनके अकाउंट का ऑडिट नहीं होता है, उनको दाखिल करना होता है।

1) ITR से जुड़ी खास बातें...

आयकर विभाग के अनुसार, सभी करदाताओं को 31 जुलाई 2019 तक अपना ITR जमा करना जरूरी है। यदि कोई करदाता अंतिम तारीख तक ITR दाखिल नहीं करता है तो उसे जुर्माना देना पड़ेगा। 

- आयकर विभाग के अऩुसार, 31 जुलाई 2019 के बाद 31 दिसंबर 2019 तक ITR दाखिल करने वालों को 5000 हजार रुपए का जुर्माना देना होगा।

 

- यदि कोई करदाता 31 दिसंबर 2019 की तारीख भी चूक जाता है तो 31 मार्च 2020 तक ITR दाखिल करने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना दाखिल करना होगा। 

- यदि आप 31 मार्च 2020 तक भी आईटीआर दाखिल नहीं कर पाते हैं तो आयकर विभाग आपको नोटिस जारी कर सकता है। 

 

- ऐसे करदाता जिनकी आय 5 लाख रुपए से ज्यादा नहीं है उनको लेट फीस के रूप में मात्र 1 हजार रुपए ही देने होंगे।

यदि आप नौकरीपेशा हैं तो आयकर रिटर्न दाखिल करते समय फॉर्म-16 जरूर पेश करें। फॉर्म-16 कंपनियों की ओर से कर्मचारियों को दिया जाता है। 

- आमतौर पर कंपनियां 30 जून तक अपने कर्मचारियों को फॉर्म-16 भेज देती हैं लेकिन इस बार बदलाव के कारण इसमें देरी हो सकती है।

- यदि आपको भी अभी तक फॉर्म-16 नहीं मिला है तो कंपनी से जल्द से जल्द इसकी मांग करें। 

- फॉर्म-16 में कंपनी की ओर से पूरे साल में आपको दी गई रकम और टैक्स कटौती की जानकारी होती है।