पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58490.93-0.89 %
  • NIFTY17396.9-1.07 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46149-0.06 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59920-1.88 %
  • Business News
  • Utility
  • Petrol ; Diesel ; Tax On Petrol ; Tax On Petrol Diesel ; States' Earnings From Petroleum Product Tax Increased 43% In 5 Years, Income Of Central Government Doubled

टैक्स का खेल:पेट्रोल-डीजल पर वैट से राज्यों की कमाई 5 साल में 43% बढ़ी, एक्साइज ड्यूटी से केंद्र सरकार की कमाई दोगुनी हुई

नई दिल्ली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी से लोगों को राहत देने के लिए राजस्थान सरकार ने वैल्यू एडेड टैक्स (वैट) में 2-2% की कटौती की है। इस कटौती के साथ अब राजस्थान में पेट्रोल पर वैट घटकर 36% और डीजल पर 26% रह गया है। हालांकि इस कटौती के बाद भी राजस्थान वैट वसूलने के मामले में टॉप राज्यों में बना हुआ है। पेट्रोलियम प्रोडक्ट पर टैक्स से राज्य सरकारों की कमाई 5 साल में 43% बढ़ी है। केंद्र सरकार की कमाई दोगुनी हो गई है।

मणिपुर में वैट सबसे ज्यादा, लक्षद्वीप में वैट नहीं
अब वैट वसूलने के मामले में मणिपुर सबसे आगे हो गया है। यहां पेट्रोल पर 36.50% और डीजल पर 22.50% टैक्स वसूला जा रहा है। इससे पहले सबसे ज्यादा वैट राजस्थान में ही था। बड़े राज्यों में तमिलनाडु में वैट कम है। यहां पेट्रोल पर 15% और डीजल पर 11% टैक्स वसूला जाता है। लेकिन पेंच यह है कि यहां वैट के साथ पेट्रोल पर 13.02 रुपए और डीजल पर 9.62 रुपए प्रति लीटर सेस (उपकर) भी वसूला जाता है। ज्यादातर राज्य सेस वसूल रहे हैं। लक्षद्वीप एक मात्र ऐसा राज्य है जहां वैट नहीं लिया जाता है।

राज्यों को मिलने वाला वैट 5 साल में 43% बढ़ा

राज्यों को पेट्रोल-डीजल पर वैट लगाने से होने वाली कमाई 5 साल में 43% बढ़ी है। वित्त वर्ष 2014-15 में इससे होने वाली कमाई 1.37 लाख करोड़ थी जो 2019-20 में बढ़कर 2 लाख करोड़ पर पहुंच गई। कोरोना के कारण लगाए गए लॉकडाउन के बावजूद चालू वित्त वर्ष 2020-21 की पहली छमाही (अप्रैल-सितंबर) में वैट से 78 हजार करोड़ की कमाई हुई है। पेट्रोलियम प्रोडक्ट पर एक्साइज ड्यूटी लगाकर केंद्र सरकार ने 2019-20 में 3.34 लाख करोड़ रुपए कमाए। मई 2014 में पहली बार जब मोदी सरकार बनी थी तब 2014-15 में एक्साइज ड्यूटी से 1.72 लाख करोड़ कमाई हुई थी, यानी सिर्फ 5 सालों में ही ये दोगुनी हो गई।

भोपाल में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल

अगर देश के बड़े राज्यों की राजधानियों की बात करें तो सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल भोपाल में बिक रहा है। यहां पेट्रोल 94.18 और डीजल 84.46 रुपए प्रति लीटर है। राजस्थान के जयपुर में अब पेट्रोल 92.50 और डीजल 84.61 प्रति लीटर पर आ गया है।

खबरें और भी हैं...