पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Tech auto
  • The Company Started Manufacturing EcoSport Compact SUV, Decided To Close The Factories 10 Days Ago

फोर्ड इंडिया ने शुरू किया प्रोडक्शन:कंपनी ने इकोस्पोर्ट कॉपैक्ट SUV की शुरू की मैनुफैक्चरिंग, 10 दिन पहले ही फैक्ट्रीज बंद करने का लिया था फैसला

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फोर्ड इंडिया ने इकोस्पोर्ट कॉपैक्ट SUV का प्रोडक्शन करना फिर से शुरू कर दिया है। अमेरिकन ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड ने 10 दिन पहले ही अपने व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्रीज को बंद करने का फैसला लिया है। एक कर्मचारी ने बताया कि कंपनी को इस साल के अंत तक लगभग 30 हजार कारों को एक्सपोर्ट करना है। इसलिए प्रबंधन ने प्लांट बंद होने से संबंधित बातचीत के दौरान कर्मचारियों को प्रोडक्शन फिर से शुरू करने के लिए कहा है।

2022 की दूसरी तिमाही तक कंपनी प्रोडक्श जारी रखेगी
9 सितंबर को गणेश चतुर्थी उत्सव से एक दिन पहले, फोर्ड इंडिया ने घोषणा कि वह 2021 की चौथी तिमाही तक साणंद में व्हीकल असेंबली और 2022 की दूसरी तिमाही तक चेन्नई में व्हीकल और इंजन बनाना बंद कर देगा। भारत में चार में से तीन प्लांट्स को बंद करने के बाद कर्मचारी यूनियन ने फोर्ड मोटर कंपनी के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक करने को कहा है।

एस्पायर मॉडल साणंद में बनते हैं
कंपनी चेन्नई में इकोस्पोर्ट मॉडल बनाती है, जबकि फिगो और एस्पायर मॉडल साणंद में बनाए जाते हैं। फोर्ड इंडिया चेन्नई प्लांट में अमेरिका में बेचे जाने वाले इकोस्पोर्ट मॉडल को बनाता है और एस्पायर और फिगो मॉडल मैक्सिको और दक्षिण अफ्रीका में बेचे जाते हैं। पहले फोर्ड इंडिया चेन्नई में एंडेवर मॉडल बनाती थी लेकिन उसने हाल ही में उत्पादन बंद कर दिया है।

वहीं यूनियन के अधिकारियों का कहना है कि चेन्नई प्लांट के साथ वेतन समझौता हाल ही हुआ था। यह समझौता एक साल के लिए है। साणंद में वेतन को लेकर बातचीत बंद हो गई है क्योंकि कंपनी ने प्लांट को बंद करने का ऐलान कर चुकी है।

यूनियन के अधिकारियों के मुताबिक चेन्नई प्लांट और साणंद में काम करने वालों के वेतन में अंतर है। साणंद मजदूर संघ के महासचिव नयन कटेशिया ने मीडिया को बताया है कि साणंद में श्रमिकों की संख्या करीब 2,000 होगी।

फोर्ड इंडिया ने कहा था कि साणंद इंजन प्लांट में 500 से अधिक कर्मचारी, जो निर्यात के लिए इंजन का उत्पादन करते हैं और लगभग 100 कर्मचारी पार्ट और कस्टमर सर्विस को देखते हैं।

खबरें और भी हैं...