पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57858.150.64 %
  • NIFTY17277.950.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486870.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)63687-1.21 %

अब हर पैसेंजर सुरक्षित:8 पैसेंजर तक वाली गाड़ी में 6 एयरबैग्स अनिवार्य, नितिन गडकरी ने इसके GSR नोटिफिकेशन को दी मंजूरी

नई दिल्ली11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रोड ट्रांसपोर्ट और हाईवे मिनिस्टर नितिन गडकरी ने आज कार में 6 एयरबैग्स अनिवार्य करने के लिए GSR नोटिफिकेशन को मंजूरी दे दी है। गडकरी ने सोशल मीडिया पर पर बताया कि 8 पैसेंजर तक के मोटर वाहनों में सेफ्टी को बढ़ाने के लिए अब कम से कम 6 एयरबैग्स अनिवार्य हैं। यानी अब सभी कंपनियों के किसी भी कार के बेस मॉडल में 6 एयरबैग्स देने ही होंगे।

गडकरी ने कार में 6 एयरबैग्स देने की योजना पर पिछले साल से ही काम करना शुरू कर दिया था। इससे पहले मंत्रालय ने 1 जुलाई, 2019 से ड्राइवर एयरबैग और 1 जनवरी, 2022 से फ्रंट पैसेंजर एयरबैग को अनिवार्य कर दिया था।

कार सभी पैसेंजर के लिए सुरक्षित हो जाएगी

अभी ये साफ नहीं हुआ है कार में 6 एयरबैग्स कब से अनिवार्य किए जाएंगे। इसे लेकर फिलहाल गडकरी ने तारीख का एलान नहीं किया है। हालांकि, ये साफ है कि अब कार की सवारी ज्यादा सुरक्षित हो जाएगी। अभी किसी भी कार के बेस वैरिएंट में 2 एयरबैग्स मिलते हैं। इसमें एक ड्राइवर और दूसरा फ्रंट पैसेंजर के लिए होता है। कार में डुअल फ्रंट एयरबैग्स के साथ इमरजेंसी स्टॉप सिग्नल, एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS) के साथ इलेक्ट्रॉनिक ब्रेक डिस्ट्रीब्यूशन (EBD), हाई माउंटेड स्टॉप लैंप, इंपैक्ट सेंसिंग डोर अनलॉक इमोबिलाइजर, रियर पार्किंग सेंसर्स, स्पीड अलर्ट, सीट बेल्ट रिमाइंडर जैसे फीचर्स दिए गए हैं।

कस्टमर्स को एक्स्ट्रा खर्च करने होंगे इतने रुपए
कुछ ऑटो एक्सपर्ट्स के मुताबिक, पिछली सीट के पैसेंजर्स के लिए 4 एयरबैग्स जोड़ने 8,000 से 9,000 रुपए का खर्च आ सकता है। एक एयरबैग की कीमत करीब 1,800 रुपए होती है। वहीं, स्ट्रक्चर में बदलाव करने पर 500 रुपए का खर्च आएगा। डिवाइस और लेबर कॉस्ट भी बढ़ जाएगी। ऐसे में एंट्री लेवल मॉडल में 6 एयरबैग में आने वाले सभी खर्चों से कार की कीमत में करीब 30,000 रुपए बढ़ाए जा सकते हैं। यानी अब ग्राहकों को कार खरीदने के लिए ऐक्स्ट्रा बजट बढ़ाना होगा।

कैसे काम करते हैं एयरबैग
सामने से वाहन से टकराने पर एक सेकेंड से भी कम समय में एयरबैग खुलकर पैसेंजर के सिर और सीने का सुरक्षा देते हैं। इससे शरीर डैशबोर्ड से टकराने से बच जाता है। हां, एयरबैग आपको पूरी तरह सुरक्षा दे इसके लिए सीट बेल्ट जरूर लगा होना चाहिए। यदि सीट बेल्ट नहीं लगाया है तो एयरबैग ही चोट पहुंचा देते हैं। गर्दन की हड्‌डी टूटने के साथ चेहरे पर चोट लगने की भी आशंका होती है।