पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Tech auto
  • Indian Apps Install Volume Increased To 39%, Chinese Apps’ Market Share Falls From 38% To 29% Say Study

भारत में कम हुआ चीनी ऐप्स का क्रेज:देसी ऐप्स का इंस्टॉल वॉल्यूम बढ़कर 39% हुआ, चीनी ऐप्स का वॉल्यूम 38% से घटकर 29% पर पहुंचा

नई दिल्ली9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भारत में इजराइल, अमेरिका, रूस और जर्मनी के ऐप पकड़ बना रहे हैं
  • भारत में ऐप इंस्टॉल का लगभग 85% टियर-2 और 3 शहरों से आता है

चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने का असर दिखाई देने लगा है। देश में पिछले साल टॉप इंस्टॉल में भारतीय ऐप का इंस्टॉल वॉल्यूम बढ़कर 39% हो गया जो 2018 में लगभग 37% था। वहीं चीनी ऐप्स का इंस्टॉल वॉल्यूम जो 2019 में 38% था वह 2020 में घटकर 29% रह गया।

एनालिस्टिक फर्म ऐप्सफ्लायर की रिपोर्ट से यह जानकारी सामने आई। ऐप्सफ्लायर इंडिया के कंट्री मैनेजर संजय त्रिशाल के मुताबिक बैन की वजह से चीनी कंपनियों का मार्केट घटा है। वहीं भारतीय कंपनियों ने साल-दर-साल अच्छी बढ़त हासिल की है।

85% ऐप इस्टॉलेशन टियर -2 और टियर -3 शहरों में

  • रिपोर्ट के मुताबिक, चीन को हु्ए इस नुकासान के बाद इजराइल, अमेरिका, रूस और जर्मनी के ऐप्स ने बाजार में अपनी पकड़ बना रहे हैं। इन देशों ने भारत के तेजी से बढ़ते ऐप बाजार में और अधिक वृद्धि की है।
  • भारत में ऐप इंस्टॉल का लगभग 85% टियर -2 और टियर -3 शहरों से आता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐप में रीजनल कंटेंट डालने से यूजर के ऐप पर बने रहने की संभावना ज्यादा रहती है। ऐप्सफ्लायर की इस रिपोर्ट के मुताबिक छोटे शहरों और कस्बों के बाहर ऐप इंस्टॉल में गेमिंग, फाइनेंस और एंटरटेनमेंट कैटेगरी हावी है।
  • ओटीटी स्ट्रीमिंग ऐप की वजह से वीडियो खपत भी बढी। कोरोना के चलते आम लोगों के बीच डिजिटल पेमेंट और फाइनेंशियल ऐप डाउनलोड करने और उनका उपयोग करने का चलन बढ़ा है।

लोगों को लाइट और कम डेटा की खपत करने वाले ऐप पसंद
लोगों के घर पर अधिक समय बिताने के साथ, एक ओर ऐप्स पर निर्भरता बढ़ गई। लेकिन, दूसरी तरफ, इसका मतलब यह भी था कि यूजर्स के पास अपने फोन से अनचाहे ऐप्स को हटाने के लिए अधिक समय भी मिला है। भारतीय ऐप यूजर्स उन ऐप्स को पसंद कर रहे हैं जो फोन पर कम जगह लेते हैं और कम डेटा की खपत करते हैं और खराब नेटवर्क वाले क्षेत्र में भी बेहतर तरीके से काम करते हैं।