पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब गूगल में हो सकती है छंटनी:10,000 एम्प्लॉइज को निकालने का प्लान, कंपनी पर कॉस्ट कटिंग के साथ इन्वेस्टर का दबाव

वॉशिंगटन11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट जल्द ही 10,000 एम्प्लॉइज की छंटनी कर सकती है। इंफॉर्मेशन की एक रिपोर्ट में ये दावा किया गया है। एक्टिविस्ट हेज फंड का दबाव, मार्केट कंडीशन और कॉस्ट कटिंग के कारण ऐसा किया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक गूगल मैनेजर्स को 'खराब प्रदर्शन' करने वाले कर्मचारियों का विश्लेषण करने और उन्हें रैंक देने के लिए कहा गया है। कंपनी का प्लान 6% स्टाफ कम करने का है। सबसे कम रैंक वाले एमप्लॉइज को कंपनी से निकाल दिया जाएगा।

गूगल के एमप्लॉइज की संख्या ज्यादा
ब्रिटेन के हेज फंड बिलियनेयर क्रिस्टोफर हॉन ने अल्फाबेट को एक लेटर लिखा। इसमें कहा गया कि अल्फाफेट के एम्प्लॉइज को अन्य टेक दिग्गजों की तुलना में बहुत अधिक पेमेंट किया जाता है और एम्प्लॉइज की संख्या में भी कटौती करने की आवश्यकता है।

गूगल में 1,87,000 एम्प्लॉइज
अल्फाबेट के पास लगभग 1,87,000 कर्मचारी हैं। हॉन के अनुसार, कर्मचारियों की संख्या कंपनी में मौजूदा माहौल की जरूरतों से मेल नहीं खाती है। हॉन का दावा है कि सर्च इंजन को काफी कम वेतन वाले प्रोफेशनल्स के साथ कुशलता से चलाया जा सकता है।

एम्प्लॉई की ऐवरेज सैलरी 2,95,884 डॉलर
सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन फाइलिंग के अनुसार, पिछले साल अल्फाबेट के एमप्लॉइज की ऐवरेज सैलरी करीब 2,95,884 डॉलर थी। हॉन ने अपने लेटर में कहा कि यह सैलरी माइक्रोसॉफ्ट के अपने कर्मचारियों को दिए जाने वाले वेतन से लगभग 70% अधिक है।

अमेरिका की 20 सबसे बड़ी टेक कंपनियों की तुलना में, अल्फाबेट ने अपने एमप्लॉइज को कॉम्पिटिटर्स की तुलना में 153% ज्यादा पेमेंट किया।

ट्विटर, मेटा, अमेजन ने भी छंटनी की
गूगल से पहले ट्विटर, मेटा, अमेजन जैसी कंपनियां भी बड़ी छंटनी कर चुकी है। ट्विटर ने करीब 50% एम्प्लॉइज को निकाला है, जबकि मेटा ने अपने इतिहास की सबसे बड़ी छंटनी करते हुए 11,000 लोगों को निकाला है।

वहीं न्यूयॉर्क टाइम्स में दावा किया गया है कि अमेजन में भी 10,000 से ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी की जा चुकी है। अमेजन ने खुद भी अगले साल तक छंटनी जारी रहने की जानकारी दी थी।