पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58490.93-0.89 %
  • NIFTY17396.9-1.07 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46149-0.06 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59920-1.88 %

फोर्ड इंडिया चेन्नई की यूनिट्स को बेचेगी:ऐसा होने से  2,600 कर्मचारियों को मिलेगी राहत, ओला और महिंद्रा एंड महिंद्रा को सौप सकती है दोनों यूनिट

नई दिल्ली10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

फोर्ड कंपनी ने भारत में प्रोडक्शन बंद कर रही है, इस बीच चेन्नई के माराईमलाई नगर में स्थित फोर्ड मोटर फैक्ट्ररी के लिए अच्छी खबर है। दरअसल तमिलनाडु राज्य सरकार ने फोर्ड इंडिया को एक अन्य ऑटोमोबाइल कंपनी से इस यूनिट को चलाने की बात कही है। यदि ऐसा होता है तो वहां काम कर रहे 2,600 कर्मचारियों को राहत मिल सकती है।

तमिलनाडु सरकार में इंडस्ट्री मामले के प्रमुख सचिव एन मुरुगनंदम ने मीडिया को बताया कि अगर उन्हें किसी कंपनी से अच्छी डील मिलेगी तो राज्य सरकार आसानी से उस कंपनी को जमीन दे देगी।

आपको बता दें कि पिछले ही साल फोर्ड की बिक्री और कंट्रैक्ट मैनुफैक्चरिंग के लिए ओला और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी दोनों फर्मों से बातचीत चल रही थी। लेकिन ये बातचीत सफल हुई या नहीं ये कंफर्म नहीं हो पाया।

प्रोडक्शन बंद होने से लगभग 40,000 लोग होंगे प्रभावित
एक दिन पहले ही फोर्ड मोटर कंपनी ऐलान कर चुकी है कि वह भारत में अपनी कार फैक्ट्रियों को बंद कर देगी और 2 बिलियन डॉलर (14.69 करोड़ रुपए) का रिस्ट्रक्चरिंग चार्ज चुकाएगी। कंपनी के अनुसार भारत में व्हीकल प्रोडक्शन बंद होने से 4,000 से ज्यादा कर्मचारियों और डीलरों के साथ लगभग 40,000 लोग प्रभावित होंगे।

कंपनी के साणंद व्हीकल असेंबली यूनिट चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही तक बंद होगी, वहीं चेन्नई इंजन और व्हीकल असेंबली प्लांट में अगले वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही से प्रोडक्शन बंद होगा।

चेन्नई यूनिट में सलाना 2 लाख व्हीकल बनाने की कैपेसिटी
350 एकड़ के एरिया में फैली चेन्नई यूनिट का सलाना प्रोडक्शन कैपेसिटी लगभग 2 लाख व्हीकल और 3.40 लाख इंजन का था। जहां फोर्ड इकोस्पोर्ट और फोर्ड एंडेवर कारों में अब तक लगभग 1 बिलियन डॉलर (लगभग 7.35 हजार करोड़) का निवेश हो चुका है जिन्हे लगभग 37 देशों में एक्सपोर्ट भी किया जाता था।

दूसरी ओर, साणंद यूनिट 460 एकड़ में फैली हुई है और इसमें 2.40 लाख व्हीकल और 2.70 लाख इंजन हर साल तैयार होते हैं। जहां फोर्ड एस्पायर और हैचबैक फोर्ड फिगो जैसी कारों को तैयार किया जाता है। जिनमें लगभग 1 बिलियन डॉलर का निवेश भी किया जा चुका है।

प्लांट के कर्मचारियों को भविष्य की चिंता
मराईमलाई नगर यूनिट में लगभग 2,600 कर्मचारी काम करते हैं, जिन्हें आने वाले दिनों में कंपनी क्या निर्णय लेगी इस बात की कोई जानकारी नहीं है। आज गणेश चतुर्थी उत्सव की वजह से प्लांट बंद रहा। वहीं जब मीडिया ने प्लांट में मौजूद सुरक्षा अधिकारियों से बंद के बारे में पूंछा तो उनका कहना था कि प्लांट लगभग एक सप्ताह तक बंद रहेगा।

चेन्नई फोर्ड वर्कर्स यूनियन के सचिव अरुण संजीव का कहना है कि हमें भी प्लांट के बंद होने की जानकारी मीडिया से मिली। हालांकि मैनेजमेंट ने सोमवार को एक बैठक बुलाई है, अब देखना होगा कि वह उस दिन क्या कहते हैं। अगर वे किसी दूसरी कंपनी को प्लांट सोपेंगे तो यहां के कर्मचारियों के लिए यह फैसला अच्छा साबित होगा।