पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60967.050.24 %
  • NIFTY18125.40.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479130.65 %
  • SILVER(MCX 1 KG)654460.63 %
  • Business News
  • Tech auto
  • Facebook's 'Secret Dangerous Individuals & Organizations List' Has Leak, Know The Name From India 

फेसबुक की बड़ी लापरवाही:इंटरसेप्टर ने फेसबुक की ‘सीक्रेट ब्लैकलिस्ट’ लीक की, इसमें भारत के 10 खतरनाक संगठनों के नाम शामिल

नई दिल्ली11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

फेसबुक ने दंगा भड़काने और क्रिमिनल एक्टिविटी करने वाले लोगों और संगठन की ब्लैक लिस्ट तैयार की थी। ये लिस्ट फेसबुक ने अब तक सीक्रेट तरीके से अपने पास रखी थी, लेकिन अमेरिका की न्यूज वेबसाइट इंटरसेप्टर ने इस लिस्ट को लीक कर दिया है। इसमें दुनियाभर के 4 हजार से ज्यादा ऑर्गेनाइजेशंस और इंडिविजुअल्स के नाम शामिल हैं। बात भारत की करें तो इनमें हिंदुत्व ग्रुप सनातन संस्था, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया-माओवादी जैसे 10 संगठनों के नाम शामिल हैं।

दरअसल, फेसबुक अपने प्लेटफॉर्म पर दंगा भड़काने, क्रिमिनल एक्टिविटी को रोकने के लिए एक ब्लैक लिस्ट को तैयार रखता है। इसे कंपनी ने 'सीक्रेट डेंजरस इंडिविजुअल्स एंड ऑर्गेनाइजेशंस लिस्ट' नाम दिया है। इसे इंटरसेप्टर नाम के पब्लिशर ने एक्सेस करके अपनी वेबसाइट पर पब्लिश कर दिया है।

इस ब्लैक लिस्ट में शामिल भारतीय आतंकवादी संगठनों के नाम

1. ऑल त्रिपुरा टाइगर फोर्स 2. कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया- माओवादी 3. कांग्लेईपाक कम्युनिस्ट पार्टी 4. खालिस्तान टाइगर फोर्स 5. नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (इसाक-मुइवा टेरर साउथ एशिया) 6. पीपुल्स रिवोल्यूशनरी पार्टी ऑफ कांग्लेईपाक 7. सनातन संस्था 8. दावत-ए- हक आतंकी मीडिया विंग इस्लामिक स्टेट 9. अल-बदर मुजाहिदीन 10. आलम मीडिया टेरर इंडिया मीडिया विंग अंसार गजावत-उल-हिंद

2012 में शुरू किया था लिस्ट बनाना
साल 2012 में फेसबुक का इस बात को लेकर विरोध हुआ था कि उसके प्लेटफॉर्म से आतंकवाद को बढ़ावा दिया जा रहा है। तब इस सोशल मीडिया कंपनी ने आतंकवादी गतिविधियों को अपने प्लेटफॉर्म पर रोकने के लिए कुछ संगठनों को ब्लैक लिस्ट करना शुरू किया था।

कंपनी के कर्मचारियों को खतरा

द इंटरसेप्ट की रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक अब तक 4,000 से ज्यादा लोगों और संगठनों को ब्लैक लिस्ट कर चुका है। इसमें पॉलिटिशियन, लेखक, चैरिटी ऑर्गेनाइजेशंस और हॉस्पिटल्स आदि शामिल हैं। फेसबुक ने द इंटरसेप्ट द्वारा जारी ब्लैक लिस्ट का विरोध तो नहीं किया है, पर ये जरूर कहा है कि कंपनी इस लिस्ट को सीक्रेट रखती है। इसके बाहर आने के बाद अब कंपनी के कर्मचारियों को खतरा पैदा हो गया है।