पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एपल के सप्लायर्स भारत में बनाएंगे आईफोन:14 सप्लायर्स को भारत सरकार का क्लीयरेंस, जल्द शुरू करेंगे मैन्युफैक्चरिंग

नई दिल्ली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एपल के लिए आईफोन, अन्य उपकरण और उनके कंपोनेंट बनाने वाले चीन के एक दर्जन से ज्यादा सप्लायर्स को भारत में विस्तार करने के लिए आरंभिक क्लियरेंस मिल गया है। बहुत जल्द ये सप्लायर भारत में मैन्युफैक्चरिंग शुरू करेंगे। इसमें एयर पॉड और आईफोन असेंबलर लक्सशेयर प्रिसिशन इंडस्ट्री और लेंस निर्माता सनी ऑप्टिकल टेक्नोलॉजी जैसी कंपनियां शामिल हैं।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक प्रमुख सरकारी मंत्रालयों से मंजूरी मिलने के बाद इन कंपनियों को भारत में जॉइंट वेंचर पार्टनर की तलाश करनी होगी। लगभग 14 सप्लायर्स को भारत सरकार की हरी झंडी मिल चुकी है।

एपल ने इनका नाम उन कंपनियों में शामिल किया है जिनकी सेवाएं उसे भारत में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए जरूरी होगी। इन 14 कंपनियों को भारत में आने की मंजूरी मिलने से जहां एपल को चीन के बाहर विस्तार करने में मदद मिलेगी, वहीं भारत को मैन्युफैक्चरिंग हब बनने में मदद मिलेगी।

5% से भी कम आईफोन भारत में बनते हैं वर्तमान में
साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के अनुसार एपल ने अप्रैल से दिसंबर 2022 के बीच भारत से 2.5 अरब डॉलर के आईफोन एक्सपोर्ट किए हैं। यह पिछले वित्त वर्ष की तुलना में करीब दोगुना है। जेपी मॉर्गन ने इससे पहले अनुमान जताया था कि भारत साल 2025 तक दुनिया के 25% आईफोन असेंबल कर सकता है।

भारत में ही असेंबल हो रहे लेटेस्ट आईफोन मॉडल्स
एपल भारत में अपने लेटेस्ट आईफोन मॉडल्स भी असेंबल करा रहा है। इनमें आईफोन एसई, आईफोन 12, आईफोन 13 और आईफोन 14 (बेसिक) शामिल हैं। हालांकि, देश में बिकने वाले सभी प्रो मॉडल्स आयात किए जाते हैं। अमेरिकी कंपनी ने पिछले साल भारत में लेटेस्ट आईफोन मॉडल्स असेंबल करना शुरू किया था। इससे पहले नए मॉडल्स को फॉक्सकॉन सहित दूसरे सप्लायर्स तैयार करते आ रहे हैं।