पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57260.580.27 %
  • NIFTY17053.950.16 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47964-0.39 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62820-0.87 %

ट्विटर फीचर अपडेट:ट्विटर ऐप पर अब एंड्रॉयड और iOS पर AMP लिंक नहीं खुलेंगी, 2015 में  लॉन्च होते ही विवादों में आया

8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जब भी ट्विटर पर किसी वेबसाइट या पोर्टल की लिंक होती है तो वह क्लिक करने पर ट्विटर पर ही खुल जाती है। इसे ही एक्सिलेरेटेड मोबाइल पेज (AMP) फीचर कहा जाता है। लेकिन ट्विटर ने मोबाइल पर AMP के लिए अपना सपोर्ट वापस ले लिया है। इससे अब कोई लिंक ट्विटर ऐप की बजाय ब्राउजर पर ही खुलेगी। इसे कुछ डिवाइस में आज से ही रोल आउट कर दिया गया है। वहीं साल के अंत तक इसका सभी डिवाइसेस से एक्सेस हटा दिया जाएगा।

2015 में लॉन्च होते ही यह विवादों में रही
AMP की मदद से ट्विटर पर कोई पेज की स्पीड से लोडिंग, हाई परफॉर्मेंस मोबाइल एक्सपीरिएंस मिलता है। लेकिन इसके 2015 में लॉन्च होते ही यह विवादों में रही है। रिपोर्ट के मुताबिक अब ट्विटर के किसी पेज पर टैप करने पर यूजर्स को सीधे रेगुलर वेब पेज पर सेंड किया जा रहा है।

गूगल का वेब में कंट्रोल से हुआ विवाद
कुछ आलोचकों का दावा है इस पर गूगल का वेब पर कंट्रोल करने की वजह से हमेशा विवाद होते रहे हैं। बताया जा रहा है कि ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म के लिए इसमें URLs से गड़बड़ करने जैसी बेसिक यूजर इंटरफेस वाली समस्याएं होती हैं।

ब्राउजर एक्सटेंशन का भ्रम दूर होगा
रिपोर्ट के अनुसार, ऑटोमैटिक AMP पेज को ओरिजिनल आर्टिकल URL से ब्राउजर एक्सटेंशन की वजह से जो भ्रम होता था इससे वह कम हो जाएगा। कंपनी का यह कदम मई 2020 में ही गूगल के पॉलिसी में बदलाव के बाद आया है, जब उसने घोषणा की थी कि अब उसे अपने सर्च इंजन के टॉप स्टोरीज सेक्शन में अपने पेज के AMP वर्जन पेश करने के लिए न्यूज साइट्स की जरूरत नहीं होगी।