पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेटा से निकाले जाएंगे 10 हजार कर्मचारी:CEO जुकरबर्ग ने रेवेन्यू में आई गिरावट को बताया वजह, नवंबर में 11 हजार लोगों को हटाया था

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप्प की पैरेंट कंपनी मेटा ने आज (मंगलवार, 14 मार्च) 10 हजार से ज्यादा कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है।

कंपनी ने दूसरे राउंड के तहत ये छटनी करेगी, मेटा ने इससे पहले राउंड में 11 हजार कर्मचारियों को निकाला था, जो पूरी वर्कफोर्स का 13% था। कंपनी के 18 साल के इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में कर्मचारियों की छंटनी हुई थी। कर्मचारियों को निकालने का ऐलान कंपनी के CEO मार्क जुकरबर्ग ने किया था। उन्होंने इसकी वजह गलत फैसलों से रेवेन्यू में आई गिरावट को बताया था।

5 हजार पोस्ट खाली रखी जाएगी
जुकरबर्ग ने कहा है कि ये फैसला काफी मुश्किल, लेकिन जरुरी है। 10,000 नौकरियां बंद करने के बाद कंपनी में 5 हजार पोस्ट खाली रखेगी। जुकरबर्ग ने स्टाफ को दिए मैसेज में लिखा कि कंपनी को 2022 में उस वक्त झटका लगा जब उसे पता चला कि उसका रेवेन्यू काफी गिर गया है।

जुकरबर्ग ने कहा, ' कंपनी की कमाई में गिरावट के लिए अमेरिका में बढ़ी ब्याज दरें, दुनिया में अस्थिरता और रेग्युलेटरी लॉ में बढ़ोतरी जिम्मेदार हैं। जुकरबर्ग ने मैसेज में कहा, 'मेरे ख्याल से हमें नई आर्थिक स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना चाहिए क्योंकि ये दौर थोड़ा लंबा खिचने वाला है।'

बुधवार को पता चलेगा किसकी नौकरी गई किसकी बची
जुकरबर्ग ने कहा, 'वो सबसे पहले कंपनी की रेक्रूटमेंट टीम को बताएंगे कि किसकी नौकरी गई है और किसकी बची है। जुकरबर्ग ने कहा है कि ये बात बुधवार तक साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा, 'उम्मीद है कि अप्रैल में टेक्निकल ग्रुप्स में री-स्ट्रक्चरिंग और छंटनी शुरू हो जाएगी और मई में बिजनेस ग्रुप्स को प्रभावित करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।'

इंटरनेशनल टीमों को लोकल लीडर देंगे जानकारी
जुकरबर्ग ने कर्मचारियों को दिए मैसेज में लिखा, 'कुछ मामलों में हम सारी प्रक्रिया साल के अंत तक ही पूरी कर लेंगे। इंटरनेशनल टीमों के लिए टाइमलाइन कुछ अलग होगी। इसके बारे में लोकल लीडर जानकारी शेयर करेगा।"

कंपनी इस स्थिति में कैसे पहुंची?
मार्क ने कहा था, 'कोविड की शुरुआत में, दुनिया तेजी से ऑनलाइन हो गई और ई-कॉमर्स के बढ़ने से रेवेन्यू में इजाफा हुआ। कई लोगों ने प्रिडिक्ट किया कि यह बढ़ोतरी स्थायी होगी जो महामारी खत्म होने के बाद भी जारी रहेगी। मैंने भी यही सोचा, इसलिए मैंने अपने इन्वेस्टमेंट में बढ़ोतरी करने का फैसला लिया। दुर्भाग्य से, यह मेरी अपेक्षा के अनुरूप नहीं रहा।

न केवल ऑनलाइन कॉमर्स पहले के ट्रेंड पर लौट आया है, बल्कि मैक्रोइकोनॉमिक डाउनटर्न, कॉम्पिटिशन और कम विज्ञापन के कारण रेवेन्यू मेरी अपेक्षा से कम हो गया है। मुझसे ये गलती हुई और मैं इसकी जिम्मेदारी लेता हूं। इस नए माहौल में, हमें और अधिक पूंजी कुशल बनने की जरूरत है। हमने संसाधनों को हाई प्रायोरिटी ग्रोथ एरिया में शिफ्ट कर दिया है।

AI डिस्कवरी इंजन, एडवर्टाइजमेंट और बिजनेस प्लेटफॉर्म और मेटावर्स के लिए हमारा लॉन्ग टर्म विजन है। हमने बिजनेस की लागत में कटौती की है, जिसमें बजट कम करना, भत्तों को कम करना और रियल एस्टेट फुट प्रिंट को कम करना शामिल है। हम अपनी एफिशिएंसी बढ़ाने के लिए टीमों का पुनर्गठन कर रहे हैं। लेकिन ये उपाय अकेले हमारे खर्चों को हमारी रेवेन्यू ग्रोथ के अनुरूप नहीं लाएंगे, इसलिए मैंने लोगों को जाने देने का कठिन निर्णय भी लिया है।'

मेटा में थे 87,314 कर्मचारी
सितंबर 2022 के अंत तक मेटा में 87,314 कर्मचारी थे। मेटा वर्तमान में वॉटेसऐप, इंस्टाग्राम और फेसबुक सहित दुनिया के कुछ सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का मालिक है। हालांकि कंपनी मेटावर्स पर अपना खर्च बढ़ा रही है।

मेटावर्स एक आभासी दुनिया है जहां यूजर अपने स्वयं के अवतार बना सकते हैं। लॉ अडॉप्टेशन रेट और महंगे R&D के कारण कंपनी को लगातार घाटा हुआ है। छंटनी से कंपनी का वित्तीय संकट कुछ हद तक कम होने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...