पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Sports
  • Cricket
  • Virat Resigns From Test Captaincy After Humiliating Defeat In South Africa, Was Removed From ODI Captaincy

अब कोहली कैप्टन नहीं:अफ्रीका में शर्मनाक हार के बाद टेस्ट कैप्टेंसी से विराट का इस्तीफा, कहा- मेरे दिल में कोई संशय नहीं

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

साउथ अफ्रीका सीरीज में शर्मनाक हार के बाद विराट कोहली ने टेस्ट से कप्तानी छोड़ दी है। विराट कोहली ने एक स्टेटमेंट के जरिए इस बात की जानकारी दी। उन्होंने शनिवार शाम एक स्टेटमेंट जारी कर इस बात की सूचना दी। विराट ने कहा कि मैं हमेशा हर चीज में 120% योगदान देना चाहता हूं, अगर मैं ऐसा नहीं कर पाता हूं तो यह गलत होगा। मैं इस बात को लेकर एकदम स्पष्ट हूं और मैं अपनी टीम के साथ बेइमानी नहीं कर सकता हूं।

कोहली ने टी-20 वर्ल्ड कप के शुरू होने से पहले ही इस फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दी थी। वहीं, साउथ अफ्रीका दौरे से पहले उनको वनडे की कप्तानी से पद से भी हटा दिया गया था। चयनकर्ताओं ने कहा था कि White Ball क्रिकेट के दो कप्तान नहीं हो सकते।

टेस्ट कप्तानी से इस्तीफे के बाद विराट का स्टेटमेंट
विराट कोहली ने कहा, "टीम को सही दिशा में ले जाने के लिए मैंने 7 साल तक हर दिन कठिन परिश्रम किया। मैंने अपना काम पूरी ईमानदारी के साथ किया और इसमें कोई कसर नहीं छोड़ी। हर चीज को किसी न किसी मोड़ पर रुकना ही होता है और टेस्ट टीम के कैप्टन के तौर पर मेरे लिए रुकने का यही समय हैं। इस पूरी यात्रा के दौरान कई उतार-चढ़ाव भी आए, लेकिन मेरी कोशिशों और भरोसे में कभी कोई कमी नहीं आई। मैं हमेशा हर चीज में 120% योगदान देना चाहता हूं, अगर मैं ऐसा नहीं कर पाता हूं तो यह गलत होगा। मेरे दिल में कोई संशय नहीं है और मैं अपनी टीम के साथ बेइमानी नहीं कर सकता हूं।

मैं बीसीसीआई को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उसने इतने लंबे समय तक मुझे अपने देश की अगुआई करने का मौका दिया। इसके साथ ही मैं अपने साथियों का भी शुक्रिया करना चाहता हूं जिन्होंने पहले दिन से ही मेरे विजन पर भरोसा किया और किसी भी स्थिति में हथियार नहीं डाले। आपने मेरे सफर को यादगार और खूबसूरत बना दिया है। रवि भाई और सपोर्ट ग्रुप इस गाड़ी के इंजिन के तौर पर रहे, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट को लगातार ऊंचा उठाया है। आप सबने मेरे विजन को हकीकत में बदलने में अहम भूमिका निभाई है। आखिर में एमएस धोनी को बहुत ज्यादा शुक्रिया, जिन्होंने मुझ पर एक कप्तान के तौर पर बहुत ज्यादा भरोसा किया है। उन्होंने मुझे इस लायक समझा कि मैं भारतीय क्रिकेट को आगे लेकर जा सकता हूं।'

कोहली से छिनी गई थी वनडे की कमान
साउथ अफ्रीका सीरीज से पहले विराट कोहली को वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था। चयनकर्ताओं ने अपने बयान में कहा था कि हमने कोहली को टी-20 की कप्तानी छोड़ने से मना किया था, लेकिन उन्होंने हमारी बात नहीं मानी और सफेद बॉल के दो कप्तान नहीं हो सकते। वहीं, विराट ने टी-20 वर्ल्ड कप के शुरू होने से कुछ ही समय पहले कह दिया था कि वह अब इस फॉर्मेट में टीम का कमान नहीं संभालेंगे और केवल टेस्ट और वनडे फॉर्मेट की कप्तानी पर ध्यान देंगे।

टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा था और टीम ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई थी। वहीं, विराट की कप्तानी में टीम ने ICC के चार टूर्नामेंट खेले लेकिन एक बार भी ट्रॉफी नहीं जीत सके।

सामने आया BCCI कोषाध्यक्ष का बयान
विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद BCCI कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा- हम विराट कोहली के फैसले का सम्मान करते हैं। मुझे यकीन है कि उनके नेतृत्व, मार्गदर्शन और उनके बल्लेबाजी कौशल से भारतीय क्रिकेट अच्छा प्रदर्शन करता रहेगा। मुझे नहीं लगता कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज हारने से उनके फैसले पर इतना असर पड़ा होगा।

टीम इंडिया का अगला टेस्ट कैप्टन कौन होगा। इस पर धूमल ने कहा- कप्तान नियुक्त करने का निर्णय चयनकर्ताओं द्वारा किया जाता है, पदाधिकारियों द्वारा नहीं। वे आपस में चर्चा करेंगे कि अगला टेस्ट कप्तान कौन होगा।

खबरें और भी हैं...