पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आखिरकार विराट ने झेले सवालों के बाउंसर:भारतीय कप्तान ने कहा- मुझे कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं, तीसरे टेस्ट में खेलूंगा

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली साउथ अफ्रीका दौरे पर पहली बार मीडिया के सामने आए। कप्तानी विवाद पर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया। मौजूदा टेस्ट सीरीज और अपनी बैटिंग फॉर्म पर उन्होंने खुलकर अपनी बात रखी। फिटनेस के मामले में विराट ने अच्छी खबर दी और कहा कि वे तीसरे मुकाबले में खेलेंगे।

विराट ने कहा- यह पहली बार नहीं है कि मेरी बैटिंग पर सवाल उठे हैं। 2014 में इंग्लैंड दौरे के समय भी ऐसा हुआ था। मुझे पता है कि मैं टीम के काफी अहम मोमेंट्स का हिस्सा रहा हूं। पिछले एक साल में भी मैं टीम के लिए कई महत्वपूर्ण पार्टनरशिप का हिस्सा रहा। मैं इस बात में यकीन रखता हूं कि मुझे किसी को कुछ साबित करने की जरूरत नहीं है। मेरे लिए यह महत्वपूर्ण नहीं है कि बाहर के लोग क्या कहते हैं।

सिराज नहीं है मैच फिट
दूसरे टेस्ट मैच के दौरान तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की 'हैमस्ट्रिंग' में खिंचाव आ गया था। कोहली ने उनकी फिटनेस को लेकर कहा- सिराज अभी रिकवरी कर रहे हैं। वे अभी पूरी तरह फिट नहीं हैं। मुझे नहीं लगता कि हमें एक ऐसे तेज गेंदबाज पर दांव खेलना चाहिए जो 110% मैच फिट नहीं है। हालांकि विराट ने यह नहीं बताया कि सिराज की जगह अगले टेस्ट में कौन खेलेगा। उन्होंने कहा कि इस बारे में फैसला वे, कोच और उप कप्तान मिल कर लेंगे।

विराट ने आगे कहा- मौजूदा समय में हमारे पास तेज गेंदबाजों का बढ़िया ग्रुप है। हम सोच में पड़ जाते हैं कि किसे प्लेइंग-XI में मौका दे और किसे नहीं। सच कहूं तो मैं इससे बहुत खुश हूं।

बहुत ज्यादा क्रिकेट खेलना चोट का कारण
विराट से भारतीय खिलाड़ियों की फिटनेस को लेकर भी सवाल किए गए। विराट ने कहा- यह नहीं भूलना चाहिए कि हम बहुत ज्यादा क्रिकेट खेल रहे हैं। तमाम इंटरनेशनल मैचों के लिए हम चाहते हैं कि अपनी बेस्ट टीम उतारें। लेकिन, जितनी क्रिकेट अब होती है उसे ध्यान में रखते हुए बीच-बीच में कुछ खिलाड़ियों का चोटिल होना असामान्य नहीं है।

जडेजा की गैरमौजूदगी में अश्विन ने किया अच्छा प्रदर्शन
टेस्ट सीरीज के शुरू होने से पहले रवींद्र जडेजा चोटिल होने के चलते साउथ अफ्रीकी दौरे पर जगह नहीं बना सके थे। कोहली के अनुसार, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जडेजा इंजर्ड हो गए। हालांकि, आर अश्विन ने अभी तक इस सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया है। अश्विन ने पिछले सालों में यह साबित किया है कि वे दुनिया में कहीं भी बतौर स्पिन बॉलिंग ऑलराउंडर खेल सकते हैं। उन्होंने हाल के समय में बल्ले से भी महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं।

फिर मिल सकता है रहाणे और पुजारा को मौका
बैटिंग ऑर्डर को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में विराट ने कहा कि रहाणे और पुजारा ने मुश्किल परिस्थितियों में कई अहम पारियां खेली हैं। यह ठीक है कि श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी ने मौका मिलने पर अच्छा परफॉर्म किया है। लेकिन, बैटिंग ऑर्डर में तब्लीदी नेचुरल होनी चाहिए। इसे फोर्स नहीं किया जाना चाहिए। कोहली के बयान से इस बात की उम्मीद बढ़ गई है कि रहाणे और पुजारा दोनों को तीसरे टेस्ट में भी मौका मिल सकता है। इन दोनों ने जोहान्सबर्ग टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक जमाया था।

राहुल ने अच्छी कप्तानी की, पंत गलतियों से सीखेंगे
विराट ने दूसरे टेस्ट मैच में बतौर कप्तान केएल राहुल के प्रदर्शन को अच्छा बताया। उन्होंने कहा- राहुल ने काफी बैलेंस्ड कप्तानी की। उन्होंने विकेट लेने की पूरी कोशिश की, लेकिन साउथ अफ्रीका ने अच्छा खेल दिखाया। ऐसी स्थितियों में बतौर कप्तान बहुत अलग नहीं किया जा सकता है। ऋषभ पंत के खराब शॉट को लेकर विराट ने कहा कि पंत से प्रैक्टिस के दौरान बात हुई है। बतौर क्रिकेटर हमारा काम यह होता है कि हम गलतियां कम करें और उसे कम से कम दोहराएं। विराट ने धोनी की एक सीख भी साझा की। उन्होंने कहा- धोनी ने मुझे करियर की शुरुआत में कहा था कि दो गलतियों के बीच कम से कम 7-8 महीने का अंतर होना चाहिए। मुझे उम्मीद है कि पंत भी इस मामले में सुधार करते जाएंगे।

खबरें और भी हैं...