पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दांव पर कपिल और द्रविड़ के रिकॉर्ड:केपटाउन में कोहली करेंगे रिकॉर्ड्स की बारिश, अश्विन-रहाणे और इशांत के पास भी बड़ा मौका

केपटाउन5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच मंगलवार से 3 मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला खेला जाएगा। ये मैच केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान पर होगा। पहले टेस्ट भारतीय टीम 113 रन जीता था, लेकिन दूसरे टेस्ट में मेजबान टीम ने जोरदार वापसी की और मुकाबला 7 विकेट से जीत लिया। फिलहाल सीरीज 1-1 की बराबरी पर है। आइए जानते हैं इस मैच में कौन-कौन से बड़े रिकॉर्ड बन सकते हैं।

स्टीव वॉ की बराबरी का मौका
तीसरे टेस्ट में अगर टीम इंडिया जीत जाती है, तो विराट कोहली सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के मामले स्टीव वॉ के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। वॉ ने 57 मैचों में कप्तानी करते हुए 41 मुकाबले जीते। वहीं, कोहली अभी तक 68 टेस्ट मैचों कमान संभालते हुए 40 में जीत दर्ज कर चुके हैं। एक जीत भारतीय कैप्टन को सबसे सफल टेस्ट कप्तानों की सूची में संयुक्त तीसरे स्थान पर ले आएगी।

विराट कोहली के ये 99वां टेस्ट मैच होगा। इसके साथ ही सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने के मामले में पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की भी बराबरी कर लेंगे। अजहरुद्दीन ने भी भारत के लिए 99 टेस्ट खेले थे।

कोच द्रविड़ को पीछे छोड़ने का मौका
इस मैच में विराट अगर 14 रन बना लेते हैं, तो अफ्रीकी धरती पर सचिन तेंदुलकर (1161 रन) के बाद सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे। फिलहाल दूसरे पायदान पर टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ (624 रन) का नाम आता है। विराट ने अभी तक SA में खेले 6 टेस्ट मैचों में 50.92 की औसत से 611 रन बनाए हैं।

इतना ही नहीं विराट के पास एक और रिकॉर्ड बनाने का मौका रहेगा। दरअसल, भारतीय टेस्ट कैप्टन ने अभी तक टेस्ट क्रिकेट में कुल 98 कैच पकड़े हैं। विराट अगर 2 कैच पकड़ने में सफल रहे, तो अपने 100 कैच पूरे कर लेंगे। ऐसा करने के बाद IND के लिए 100 कैच पकड़ने वाले विराट छठे खिलाड़ी होंगे। वहीं, अजिंक्य रहाणे भी कैचों का शतक बनाने से केवल एक कदम दूर हैं।

60 पारियों से कोहली को शतक का इंतजार
इंटरनेशनल क्रिकेट में विराट कोहली ने 70 शतक लगाए हैं। अंतिम टेस्ट में अगर कोहली एक शतक लगाने में कामयाब रहे तो तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में संयुक्त रूप में रिकी पोंटिंग (71) की बराबरी पर आ जाएंगे। सबसे आगे सचिन तेंदुलकर (100) का नाम आता है।

भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली अपने 8000 टेस्ट रनों से 146 रन दूर हैं। अगर वह जोहान्सबर्ग में ऐसा कर देते हैं, तो टेस्ट फॉर्मेट में 8 हजार रन बनाने वाले दुनिया के 33वें और भारत के छठे खिलाड़ी बन जाएंगे। कोहली ने 98 टेस्ट में 50.35 की औसत से 7854 रन बनाए हैं। भारत की ओर से अभी तक वीरेंद्र सहवाग (93 टेस्ट), राहुल द्रविड (94), सुनील गवास्कर (95), सचिन तेंदुलकर (96) और वीवीएस लक्ष्मण ने (122) टेस्ट में यह कीर्तिमान अपने नाम किया था।

अश्विन की नजरें कपिल के रिकॉर्ड पर
दूसरे टेस्ट मैच में अगर रविचंद्रन अश्विन 5 विकेट लेने में सफल रहे, तो टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दुनिया के 9वें और भारत के दूसरे गेंदबाज बन जाएंगे। इस दौरान अश्विन न्यूजीलैंड के सर रिचर्ड हेडली (431), भारत के कपिल देव (434) और श्रीलंका के रंगना हैराथ (433) एक साथ तीन दिग्गजों को पीछे छोड़ देंगे। अभी तक आर अश्विन 83 टेस्ट मैचों में 24.23 की औसत के साथ 430 विकेट ले चुके हैं।

5 हजारी बनेंगे रहाणे
केपटाउन टेस्ट में अगर अजिंक्य रहाणे 79 रन बनाने में कामयाब हुए, तो टेस्ट क्रिकेट में अपने 5 हजार रन पूरे कर लेंगे। रहाणे ये उपलब्धि हासिल करने वाले भारत के 13वें खिलाड़ी होंगे।

कुछ अन्य रिकॉर्ड्स:

  • कगिसो रबाडा अगर ये मैच खेलते हैं, तो उनका ये 50वां टेस्ट मैच होगा।
  • केएल राहुल एक कैच पकड़ने के साथ ही टेस्ट में अपने 50 कैच पूरे कर लेंगे।
  • इशांत शर्मा अगर ये मैच खेलते हैं, तो इंटरनेशनल फॉर्मेट में उनका ये 200वां मुकाबला होगा।
  • एडेन मार्करम 124 रन बनाने के साथ ही टेस्ट में अपने 2 हजार रन पूरे कर लेंगे।
  • लुंगी एनगिडी 7 विकेट लेने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में 50 विकेट पूरे कर लेंगे।
  • जसप्रीत बुमराह 3 विकेट लेते ही कोहली की कप्तानी में 100 विकेट पूरे कर लेंगे।
  • आर अश्विन 7 विकेट लेते ही कोहली की कप्तानी में 300 विकेट पूरे कर लेंगे।
खबरें और भी हैं...