पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Sports
  • Cricket
  • Bhaskar Cricket Podcast Team India Will Have To Take A Lead Above 300 Runs To Win Pujara Kohli Partnership Is Important

भास्कर क्रिकेट पॉडकास्ट:टीम इंडिया को जीत के लिए 300 रन से ऊपर की बढ़त लेनी होगी, पुजारा-कोहली की पार्टनरशिप अहम

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केपटाउन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन टीम इंडिया ने जोरदार वापसी की। भारत ने साउथ अफ्रीका की पहली पारी को 210 रन पर समेट कर 13 रन की बढ़त हासिल की। इसके बाद स्टंप्स तक दो विकेट के नुकसान पर 57 रन बना लिए। यानी भारत की कुल बढ़त 70 रन की हो गई है। दिग्गज कमेंटेटर सुशील दोषी ने अपने पॉडकास्ट में कहा कि दूसरे दिन का खेल भारत के नाम रहा है। हालांकि, मैच में जीत की स्थिति हासिल करने के लिए 300 रन से ऊपर की बढ़त बनाना जरूरी है।

पुजारा और विराट से फिर अच्छी बैटिंग की उम्मीद
दोषी ने कहा कि खेल के तीसरे दिन कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा के बीच अच्छी पार्टनरशिप हो जाए तो भारत का काम आसान हो जाएगा। इन दोनों ने पहली पारी में भी अच्छा खेल दिखाया था। साउथ अफ्रीका की बल्लेबाजी में बहुत ज्यादा गहराई नहीं है, लेकिन उसे पूरी तरह दबाव में रखने के लिए जरूरी है कि भारत की बढ़त 300 रनों से ज्यादा हो।

बुमराह ने फिर दिखाई मास्टर क्लास
दोषी दूसरे दिन के खेल में जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी से भी खासा प्रभावित नजर आए। उन्होंने कहा- मैंने पहले भी इस पॉडकास्ट में बोला है कि भारत को मैच में वापस लाने की जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह के ऊपर है। वे तेज गेंद करते हैं साथ ही उछाल भी हासिल करते हैं। उनके एक्शन को भांप पाना अच्छे-अच्छे बल्लेबाजों के बूते की बात नहीं है। खुशी है कि बुमराह अपनी जिम्मेदारी निभाने में सफल रहे। दूसरे छोर से उन्हें अन्य गेंदबाजों का भी अच्छा साथ मिला। विराट की कप्तानी ने भी गेंदबाजों की राह आसान कर दी। उन्हों फील्ड प्लेसिंग बहुत अच्छी की।

पीटरसन भविष्य के स्टार
दिग्गज कमेंटेटर ने कहा कि साउथ अफ्रीका के कीगन पीटरसन ने इस पारी में अच्छी बल्लेबाजी की। उनकी डिफेंस अच्छा है और वे शॉट्स भी आकर्षक खेलते हैं। तेंबा बाउमा भी काफी प्रतिभाशाली हैं। हालांकि, ये बल्लेबाज अर्धरशतक को शतक में तब्दील नहीं कर पा रहे हैं और साउथ अफ्रीका को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है।