पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Sports
  • Cricket
  • Bhaskar Cricket Podcast South Africas Youth Team Surprised India, We Are Backward In Both Batting And Bowling

भास्कर क्रिकेट पॉडकास्ट:साउथ अफ्रीका की युवा टीम ने भारत को हैरान कर दिया, हम बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में पिछड़े

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

साउथ अफ्रीका ने तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया को 7 विकेट से हराकर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया। इसके साथ ही भारतीय टीम का साउथ अफ्रीका में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने का सपना टूट गया। दिग्गज कमेंटेटर सुशील दोषी ने अपने पॉडकास्ट में मेजबान टीम के प्रदर्शन की जमकर तारीफ की। उन्होंने भारतीय टीम की खामियां भी बताईं। आप इस पॉडकास्ट को खबर के साथ लगे पहले ग्राफिक्स को क्लिक कर सुन सकते हैं।

कमेंटेटर सुशील दोषी का कहना है कि तीसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका की टीम ने भारत से बेहतर प्रदर्शन किया।
कमेंटेटर सुशील दोषी का कहना है कि तीसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका की टीम ने भारत से बेहतर प्रदर्शन किया।

हमारे गेंदबाज ज्यादा बाउंस नहीं निकाल पाए
दोषी ने कहा कि साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों ने अपनी होम कंडीशन में बेहतर प्रदर्शन किया। हमारे गेंदबाजों ने सीम और स्विंग मूवमेंट तो जरूर हासिल किया, लेकिन उस तरह की बाउंस हासिल नहीं कर पाए जैसी साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों ने हासिल की। यह फैक्टर आखिर में निर्णायक साबित हुआ। मेजबान गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजों के शरीर को निशाना बनाकर गेंदबाजी की। यह रणनीति कारगर साबित हुई।

हमारे दिग्गज बल्लेबाज फेल रहे
दोषी ने कहा कि पहले टेस्ट की पहली पारी को छोड़कर पूरी सीरीज में भारतीय बल्लेबाज असहज नजर आए। पहले टेस्ट में केएल राहुल और तीसरे टेस्ट में ऋषभ पंत को छोड़कर कोई भी भारतीय बल्लेबाज कगिसो रबाडा, मार्को जेन्सन जैसे तेज गेंदबाजों के आगे सहज नहीं दिखा।

टीम सिलेक्शन में कप्तान का दखल होना चाहिए
मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली ने टीम में आगे होने वाले बदलाव पर कमेंट करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यह सिलेक्टर्स का काम है। दोषी मानते हैं कि विराट ने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि उन्हें लगता है कि टीम के चयन में उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। आखिरकार जीत और हार की जिम्मेदारी कप्तान के ऊपर होती है तो टीम सिलेक्शन में भी कप्तान की बात सुनी जानी चाहिए।