पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को रौंदा:होबार्ट टेस्ट में 146 रन से हराया, 4-0 से एशेज सीरीज पर जमाया कब्जा; हेड बने प्लेयर ऑफ द सीरीज

होबार्ट4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेला जा रहा एशेज सीरीज का पांचवां मुकाबला कंगारू टीम ने 146 रन से जीत लिया है। दोनों टीमों के बीच होबार्ट में पिंक बॉल टेस्ट खेला जा रहा था, जहां ENG को मैच जीतने के लिए 271 रन बनाने थे। टारगेट हासिल करने के लिए इंग्लैंड के पास पूरे ढाई दिन का समय था और टीम को जीत फेवरेट भी माना जा रहा था, लेकिन टीम तीसरे ही दिन 124 के स्कोर पर ढेर हो गई।

होबार्ट टेस्ट जीतने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज पर 4-0 से कब्जा जमाया। पहली पारी में शतक लगाने वाले ट्रेविस हेड को 'मैन ऑफ द मैच' और 'प्लेयर ऑफ द सीरीज' का अवॉर्ड मिला।

इंग्लैंड ने फिर किया निराश
टारगेट का पीछा करते हुए इंग्लैंड की शुरुआत शानदार रही थी। पहले विकेट के लिए रोरी बर्न्स और जैक क्राउली ने 68 रन जोड़े। इस पार्टनरशिप को कैमरून ग्रीन ने बर्न्स (26) को आउट कर तोड़ा। दो ओवर के बाद ही ग्रीन ने डेविड मलान (10) का भी विकेट चटकाया। इसके बाद इंग्लैंड के विकेट की झड़ी ही लग गई। एक भी खिलाड़ी विकेट पर खड़े रहने का साहस नहीं दिखा सका।

क्राउली (36), कप्तान जो रूट (11), बेन स्टोक्स (5) और सैम बिलिंग्स (1) रन बनाकर आउट हुए। ऑस्ट्रेलिया की जीत में कप्तान कमिंस, स्कॉट बोलैंड और कैमरून ग्रीन ने 3-3 विकेट हासिल किए। एक विकेट मिचेल स्टार्क के खाते में आया।

ऑस्ट्रेलिया का एशेज पर 34वीं बार कब्जा
ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेली गई ये 72वीं एशेज सीरीज थी, जिसपर कंगारूओं ने 34वीं बार जीतकर अपना कब्जा जमाया। एशेज पर ऑस्ट्रेलिया ने लगातार तीसरी बार कब्जा जमाया है। 2017/18 में AUS ने इंग्लैंड को 4-0 से हराया था। 2019 में खेली गई एशेज सीरीज 2-2 से ड्रॉ रही थी। सीरीज ड्रॉ होने के बाद भी गत-विजेता होने के चलते ऑस्ट्रेलिया को ही एशेज का विजेता माना गया था। इस बार भी कमिंस एंड कंपनी ने 4-0 से सीरीज अपने नाम की।

एशेज ट्रॉफी के साथ कप्तान पैट कमिंस
एशेज ट्रॉफी के साथ कप्तान पैट कमिंस

कमिंस ने लिए सबसे ज्यादा विकेट
एशेज शुरू होने से ठीक पहले दुनिया के नंबर-1 टेस्ट गेंदबाज पैट कमिंस को ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनाया गया था और उन्होंने इस सीरीज में बतौर कप्तान और बतौर गेंदबाज शानदार खेल दिखाया। चार मैचों में कमिंस ने सबसे ज्यादा 21 विकेट अपने नाम किए। वाकई में उनके लिए यह सीरीज यादगार रही। कमिंस के अलावा मिचेल स्टार्क ने (19) और स्कॉट बोलैंड ने (18) विकेट चटकाए। नाथन लॉयन के खाते में भी 16 विकेट आए। ENG की ओर से मार्क वुड ने सबसे ज्यादा 17 विकेट लिए।

खबरें और भी हैं...