बिज़नेस न्यूज़ » News Room » Taxation » ExciseCUSTOM : रेडबुल है एनर्जी ड्रिंक, मिनरल वाटर नहीं

CUSTOM : रेडबुल है एनर्जी ड्रिंक, मिनरल वाटर नहीं

सीईएसटीएटी ने कस्टम विभाग की उस अपील को ठुकरा दिया है जिसमें रेडबुल को मिनिरल वॉटर माना गया है।

Red bull is energy drink not merely mineral water or aerated water
मुंबई। कैफीन युक्‍त पेय पदार्थ को रेडबुल को कस्‍टम, एक्‍साइज, सर्विस टैक्‍स अपीलेट ट्रिब्‍युनल ने एनर्जी ड्रिंक माना है। ट्रिब्‍युनल ने कस्‍टम विभाग की उस अपील को ठुकरा दिया है, जिसमें पेय पदार्थ को मिनिरल वॉटर मानते हुए अलग वर्गीकरण किया गया था।

ट्रिब्‍युनल का निर्णय
  • रेड बुल में पानी, ग्‍लूकोज, विटामिन, कैफीन के साथ एसेंस और रंग मिलाए जाते हैं। ऐसे में इस मिनिरल वॉटर नहीं माना जा सकता। क्‍योंकि इसमें कैफीन मिला है।
  • ड्रिंक में मिलाए गए तत्‍वों के कारण रेडबुल का वर्गीकरण 2202 90 90 होगा। कस्‍टम विभाग द्वारा रेड बुल को 2202 10 10 के वर्गीकरण में शामिल करना गलत है।
  • फूड सेफ्टी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) ने इसे कैफीनयुक्‍त पेय पदार्थ माना है। साथ ही इसे बच्‍चों, गर्भवती महिलाओं को पीने की सलाह नहीं दी जाती।
  • अमेरिका ने भी इस प्रकार के एनर्जी ड्रिंक को खाद्य श्रेणी क्रमांक 2202 90 90 में वर्गीकृत किया है।
क्‍या है मामला-

यह मामला शीतल पेय निर्माता कंपनी रेडबुल से जुड़ा है। कंपनी के पेय पदार्थ के भारत में आयात की स्थिति में कस्‍टम विभाग द्वारा इसे मिनिरल वॉटर तथा कार्बनडाइऑक्‍साइड युक्‍त पानी मानते हुए इसे 2202 10 10 वर्गीकरण में शामिल किया। जबकि कंपनी का मानना था, चूंकि इस ड्रिंक में कैफीन के साथ ग्‍लूकोज, विटामिन, एसेंस और रंग आदि मिलाए गए हैं। इसलिए इसे अन्‍य वर्गीकरण 2202 90 90 में शामिल किया जाना चाहिए। इस मामले में कस्‍टम कमिश्‍नर ने कंपनी के पक्ष में निर्णय सुनाया। जिसके विरोध में कस्‍टम विभाग ने सीईएसटीएटी में मामला दर्ज करवाया।

                                                                                 (टैक्‍स इंडिया ऑनलाइन)
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट