Advertisement
Home » अपडेट » पालिसी एंड कॉर्पोरेटInterpol issued a red notice against fugitive Indian billionaire jeweller Nirav Modi

नीरव मोदी के खिलाफ इंटरपोल ने जारी किया रेड कार्नर नोटिस, 192 देशों में अलर्ट

विदेश मंत्रालय ने फरवरी में नीरव मोदी का पासपोर्ट रद्द कर दिया था।

Interpol issued a red notice against fugitive Indian billionaire jeweller Nirav Modi

 

नई दिल्ली. PNB घोटाले में नीरव मोदी के खिलाफ इंटरपोल ने सोमवार को रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया। इंटरपोल अपने सदस्य देशों की अपील पर किसी भगोड़े अपराधी के खिलाफ ये नोटिस जारी करता है। इसके जरिए इंटरपोल अपने 192 सदस्य देशों को जानकारी देता है कि आरोपी उनके वहां देखा जाए तो उसे गिरफ्तार कर लिया जाए या हिरासत में ले लिया जाए, जिससे प्रत्यर्पण की कार्रवाई शुरू की जा सके।
 
 
ED ने इंटरपोल से की थी अपील
प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इंटरपोल से नीरव मोदी के खिलाफ नोटिस जारी करने की अपील की थी। पीएनबी घोटाले में ईडी मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहा है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक नीरव के भाई निशाल और उसकी कंपनी के अधिकारी सुभाष परब के खिलाफ भी रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया है। नीरव मोदी फिलहाल ब्रिटेन में है। वहां की सरकार ने जून में भारत को इसकी जानकारी दी।
 
13 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का है घोटाला
नीरव मोदी 13,000 करोड़ से ज्यादा के पीएनबी घोटाले में मुख्य आरोपी है। पिछले हफ्ते प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की। ईडी ने कहा कि नीरव मोदी ने मनी लॉन्ड्रिंग के लिए देश-विदेश में डमी कंपनियां बनाईं। पीएनबी ने भी जांच एजेंसियों को एक आंतरिक रिपोर्ट सौंपी। इसके मुताबिक नीरव की कंपनियां पीएनबी की हॉन्गकॉन्ग और दुबई शाखाओं से भी लोन ले रही थीं। लेकिन, भारत में घोटाला सामने आने पर उसकी कंपनियों को दी जा रही क्रेडिट फैसिलिटी वापस ले ली। घोटाले में नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी के साथ ही नीरव की पत्नी और भाई भी आरोपी हैं। जनवरी के पहले हफ्ते में ये सभी विदेश भाग गए थे।
 
 

 

Advertisement

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss