बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksएस्सार स्टील के लिए न्यूमेटल-आर्सेलर मित्तल की बिड खारिज, लेंडर्स की कार्रवाई

एस्सार स्टील के लिए न्यूमेटल-आर्सेलर मित्तल की बिड खारिज, लेंडर्स की कार्रवाई

एसबीआई की अगुआई वाले एस्सार स्टील के लेंडर्स के कंसोर्टियम ने न्यूमेटल के साथ-साथ आर्सेलर मित्तल की बिड खारिज कर दी।

1 of

 

मुंबई. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) की अगुआई वाले एस्सार स्टील के लेंडर्स के कंसोर्टियम ने न्यूमेटल के साथ-साथ आर्सेलर मित्तल की बिड खारिज कर दी है। लेंडर्स ने इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) की शर्तों के तहत यह कार्रवाई की है, जो डिफॉल्डर्स से संबंधित पार्टीज को बिडिंग के लिए अपात्र ठहराती हैं। एस्सार स्टील की कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स की बुधवार को हुई मीटिंग में यह फैसला लिया गया।

 

प्रमोटर्स के साथ संबंधों के चलते लगा झटका

बैंकिंग इंडस्ट्री के एक सूत्र ने कहा, ‘वे (न्यूमेटल और आर्सेलरमित्तल) आईबीसी के सेक्शन 29ए के अंतर्गत अपात्र पाई गई हैं। वे इस मानदंड पर संतोषजनक नहीं पाई गईं,जिसमें कहा गया था प्रमोटर्स से संबंध रखने वालों लोगों को इसमें भाग नहीं लेना चाहिए।’

 

 

रवि रुइया के बेटे न्यूमेटल के एसपीवी के प्रमोटर्स में 
आर्सेलर मित्तल इंडिया को उत्तम गल्वा के साथ ज्वाइंट वेंचर के चलते अपात्र पाया गया। कर्ज में डूबी उत्तम गल्वा का एनसीएलटी में रिजॉल्यूशन के लिए केस चल रहा है। वहीं न्यूमेटल के मामले में देखा गया कि उसके स्पेशल परपज व्हीकल के प्रमोटर्स में रेवांत रुइया शामिल हैं, जो एस्सार ग्रुप के प्रमोटर रवि रुइया के बेटे हैं और एस्सार स्टील के मूल प्रमोटर्स में से एक हैं।

 

 

एस्सार स्टील पर है 45 हजार करोड़ का कर्ज

लेंडर्स ने एस्सार स्टील की बिडिंग के लिए दूसरे राउंड के लिए 2 अप्रैल की डेडलाइन तय की है। कंपनी पर 30 से ज्यादा बैंकर्स का लगभग 45 हजार करोड़ रुपए कर्ज है। बैंकर्स ने कहा कि यदि दोनों कंपनियां प्रमोटर्स के साथ संबंध खत्म कर लेती हैं या लोन्स को स्टैंडर्डाइज करती हैं तो वे फिर से बिडिंग कर सकती हैं।


आईबीसी में जुड़ा था नया क्लॉज

गौरतलब है कि आईबीसी में हाल में हुए संशोधन के क्रम में सेक्शन 29ए का नया क्लॉज जोड़ा गया था, जो एनसीएलटी एसेट्स के लिए बिडिंग से विभिन्न पार्टीज को प्रतिबंधित करता है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट