• Home
  • Tech
  • Most women and youth trust people they meet online says a report

सर्वे /अधिकांश महिलाएं और युवा ऑनलाइन मिलने वाले लोगों पर करते हैं भरोसा

  • ऑनलाइन डेटिंग को लेकर काफी खुली सोच रखते हैं भारतीय पुरुष और महिलाएं

Moneybhaskar.com

Feb 13,2020 06:53:00 PM IST

नई दिल्ली. किफायती इंटरनेट की उपलब्धता से जहां स्मार्टफोन मनोरंजन का प्रमुख माध्यम बन गया है वहीं ऑनलाइन डेटिंग ऐप की भी लोकप्रियता बढ़ने लगी और इसके जरिए मिलने वाले अनजान लोगों पर न सिर्फ युवा बल्कि अधिकांश महिलाएं भी भरोसा करती हैं।

1500 भारतीय वयस्कों पर हुआ सर्वे

उपभोक्ता साइबर सुरक्षा क्षेत्र की कंपनी नाॅर्टनलाइफलाॅक इंक ने गुरुवार को इंडिया डिजिटल वैलनेस रिपोर्ट के दूसरे संस्करण को जारी किया। इसको शहरों में रहने वाले 1500 भारतीय वयस्कों के ऑनलाइन सर्वे के आधार पर तैयार की गई। रिपोर्ट में, अलग-अलग यूज़र वर्ग में, ऑनलाइन डेटिंग ऐप की लोकप्रियता और किस तरह किफायती डेटा की उपलब्धता ने स्मार्टफोन को मनोरंजन का प्रमुख माध्यम बना डाला है, विषय पर प्रकाश डाला गया है।

आसानी से कर लेते हैं निजी जिंदगी की जानकारी साझा

रिपोर्ट के अनुसार इसमें सर्वे में शामिल 40 फीसदी प्रतिभगी डेटिंग ऐप पर मिलने वाले लोगों से असल जिंदगी में मिले बगैर भी उनके साथ अपनी निजी जानकारी साझा करने को लेकर किसी प्रकार की दुविधा में नहीं होते। इसमें शामिल 66 फीसदी महिलाओं और 63 फीसदी युवाओं को लगता है कि ऑनलाइन मिलने वाले लोग भरोसेमंद होते हैं।

10 में से चार लोग करते हैं डेटिंग ऐप का इस्तेमाल

कंपनी ने रिपोर्ट का हवाला देते हुूये कहा “इससे संकेत मिला है कि भारतीय पुरुष और महिलाएं ऑनलाइन डेटिंग को लेकर काफी खुली सोच रखते हैं। करीबी रिश्ते की अपनी तलाश में हर दस प्रतिभागियों में से चार प्रतिभागी ऑनलाइन डेटिंग ऐप का इस्तेमाल करते हैं। महानगरों में रहने वाले करीब 55 फीसदी प्रतिभागियों ने ऑनलाइन डेटिंग को चुनने के पीछे करीबी रिलेशनशिप होती है। टियर 1 शहरों में रहने वाले लगभग 68 फीसदी प्रतिभागियों और टियर 2 शहरों के 21 फीसदी प्रतिभागियों ने क्रमश कैजुअल डेटिंग और शारीरिक अंतरंगता की चाहत को प्रमुख कारण बताया। रिपोर्ट के अनुसार अधेड़ उम्र के 65 फीसदी प्रतिभागी कैजुअल डेटिंग के लिए ऑनलाइन डेटिंग का इस्तेमाल करते हैं जबकि युवा पीढ़ी के 63 फीसदी ने करीबी रिलेशनशिप के लिए इसे चुनने का कारण बताया।

डेटा किफायती होने से लोगों की ऑनलाइन जिंदगी पर पड़ रहा असर

नाॅर्टनलाइफलाॅक इंडिया के निदेशक ऋतेष चोपड़ा ने कहा कि स्मार्टफोन और डेटा के लगातार किफायती होने से लाेंगों की आॅनलाइन जिंदगी पर काफी असर पड़ा है। भारतीय पुरुष और महिलाएं ऑनलाइन डेटिंग की संकल्पना को लेकर काफी खुली सोच रखने लगे हैं। लेकिन लोगों को अपने डिजिटल फुटप्रिंट को लेकर काफी सचेत रहने की जरूरत है, क्योंकि साइबर अपराधियों के लिए नकली पहचान बनाकर यूजरों को ठगना या ऑनलाइन प्लेटफार्मों पर उपलब्ध व्यक्तिगत डेटा का दुरुपयोग करना आसान हो गया है।

X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.