Home » States » Uttar PradeshUP Govt issues RC against a Modi group Sugar mill

योगी के एक्शन में फंसा यह मोदी, करोड़ों का है खेल

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के एक्शन में देश का एक बड़ा मोदी फंस गया है।

1 of

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के एक्शन में देश का एक बड़ा मोदी फंस गया है। दरअसल इस मोदी पर सूबे के किसानों का करोड़ों रुपए का बकाया है। दरअसल योगी सरकार का यह एक्शन इसलिए भी अहम है, क्योंकि केंद्र की बीजेपी सरकार पहले से एक अन्य मोदी यानी नीरव मोदी के देश से भागने को लेकर सवालों के घेरे में है। अपोजिशन लगातार केंद्र की सत्ता पर काबिज बीजेपी सरकार पर लगातार हमले कर रहा है। इसके चलते योदी सरकार अब अरबपतियों के मामले में कोई कसर छोड़ने के मूड नहीं दिख रही है।

यह भी पढ़ें-श्रीदेवी पर दांव लगा इस शख्स ने कमाए थे करोड़ों, पैसा बनाने में है माहिर

 

कौन है यह मोदी

दरअसल यह देश का दिग्गज कारोबारी घराना मोदी ग्रुप है। उत्तर प्रदेश में इस मोदी ग्रुप की कई चीनी मिलें हैं। दरअसल यूपी सरकार ने मोदी ग्रुप की वेस्ट यूपी के मलकपुर स्थित एक चीनी मिल की आरसी काट दी है। राज्य सरकार के गन्ना विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि इस चीनी मिल पर गन्ना किसानों का खासा बकाया है। इसे देखते हुए यह कार्रवाई की गई है।


 

आगे भी पढ़ें

 

अरबों का है बकाया

गन्ना विभाग के एक अधिकारी ने कहा, 'गन्ना सीजन 2017-18 (अक्टूबर-सितंबर) के लिए मोदी ग्रुप के स्वामित्व वाली मलकपुर स्थित एक मिल की आरसी (रिकवरी सर्टिफिकेट) जारी की गई है।'

कुछ समय पहले की एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 'मलकपुर मिल पर किसानों का लगभग 239 करोड़ रुपए बकाया है, जिसमें इंटरेस्ट की रकम अलग है।' किसान इस मिल के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।

हालांकि यह चीनी मिल अकेली नहीं है, इसके अलावा 4 अन्य मिलों पर भी कार्रवाई हुई है।


 

आगे भी पढ़ें

 

 

अन्य मिलों की कटी आरसी

राज्य सरकार ने गन्ना सीजन 2016-17 के गन्ना बकाये का भुगतान नहीं करने पर चार अन्य मिलों की भी आरसी जारी की है। उन्होंने कहा, 'इन चार मिलों में बजाज हिंदुस्थान शुगर, सिंभावली शुगर मिल्स की चिलवरिया यूनिट, गोविंदनगर शुगर लिमिटेड और बस्ती शुगर मिल्स शामिल हैं।' 22 फरवरी तक इन चार मिलों पर बीते सीजन का गन्ना किसानों का 122 करोड़ रु बकाया था।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकारी ने बताया कि राज्य में मिलों पर गन्ना किसानों का लगभग 5,039 करोड़ रुपए का बकाया है।


 

आगे भी पढ़ें

 

45 शुगर मिल्स को नोटिस

अधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार ने इन 5 शुगर मिल्स के अलावा 45 शुगर मिल्स को नोटिस जारी किए हैं और गन्ना किसानों का समय से पेमेंट सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उत्तर प्रदेश गन्ना और चीनी का सबसे बड़ा उत्पाद राज्य है।

राज्य में इस साल 1.03 करोड़ टन चीनी पैदा होने का अनुमान है, जबकि बीते सीजन में यह आंकड़ा 88 लाख टन रहा था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट