बिज़नेस न्यूज़ » States » Uttar Pradeshयूपी इन्वेस्टर्स समिट आज से, मोदी लेंगे हि‍स्सा

यूपी इन्वेस्टर्स समिट आज से, मोदी लेंगे हि‍स्सा

उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 'यूपी इन्वेस्टर्स समिट' की शरूआत 21 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी करेंगे।

1 of

 

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 'यूपी इन्वेस्टर्स समिट' की शरूआत 21 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी करेंगे। राज्‍य सरकार इस समिट के माध्‍यम से 3 लाख करोड़ रुपए का निवेश जुटाने का प्रयास करेगी। दो दिन चलने वाली इस समिट के समापन पर राष्‍ट्रपति संबोधित करेंगे।

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस समिट को सफल बनाने के लिए मुंबई जाकर ज्‍यादातर बड़े कार्पोरेट घरानों से सीधा संपर्क किया था, जिसका नतीजा है कि टाटा से लेकर रिलायंस सहित करीब 6 हजार प्रतिनिधि इसमें शामिल हो रहे हैं।

 

 

यूपी इन्‍वेस्‍टर्स समिट: 3 साल में 10 हजार करोड़ का निवेश करेंगे- मुकेश अंबानी

 

दो दिनों में हो सकते हैं 600 MOU

इस समिट में राज्‍य सरकार को उम्‍मीद है कि करीब 600 मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्‍टेंडिंग (MOU) पर हस्‍ताक्षर हो सकते हैं। राज्‍य सरकार को उम्‍मीद है कि बुंदेलखंड इलाके में बनने वाले डिफेंस कॉरीडोर में करीब 1 लाख करोड़ रुपए का निवेश आ सकता है। इसके अलावा दो लाख करोड़ रुपए का निवेश माध्‍यम से आकर्षित करने का प्रयास इस समिट के माध्‍यम से किया जाएगा।  

 

 

6 हजार से ज्‍यादा डेलीगेट आने की संभावना

इस समिट में आधिकारियों के अनुसार विभिन्न औद्योगिक घरानों के 6000 से अधिक प्रतिनिधियों ने समिट में भाग लेने की पुष्टि कर दी है। देश के नामी गिरामी उद्योगपतियों के अलावा नीदरलैंड, जापान, चेक गणराज्य,फिनलैंड, स्लोवाकिया,थाइलैंड और मारीशस के प्रतिनिधि भी समिट में भाग लेने वाले हैं।

 

 

आज योगी देंगे मेहमानों को रात्रिभोज

सीएम योगी 20 फरवरी को करीब 200 मेहमानों के सम्मान में रात्रि भोज देंगे। मेहमानों में रिलांयस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी, टाटा समूह के अध्यक्ष एन चंद्रशेखरन, कुमार मंगलम बिड़ला, गौतम अडानी, सुभाष चन्द्रा, सुधीर मेहता, संजीव पुरी, हेमंत कनोरिया,कुलिन लालभाई, जी एम राव और सुब्रामणियम शर्मा जैसे दिग्‍गज शामिल हैं।

 

 

लखनऊ में तैयारियों को दिया जा रहा अंतिम रूप

इस समिट से प्रदेश की भाजपा सरकार बदले हुए प्रदेश की तस्‍वीर पेश करना चाहती है। इसीलिए लखनऊ को पूरी तरह से सजा दिया गया है। यह समिट गोमतीनगर स्थित इंदिरागांधी प्रतिष्‍ठान में होने वाला है। इसका मुख्‍यमंत्री आदित्‍यनाथ ने खुद कई बार दौरा किया है। उनका कहना है कि पहले प्रदेश में निवेश करने के लिये कोई औद्याेगिक घराना तैयार नहीं होता था, लेकिन अब छवि बदल चुकी है। इसका नतीजा है कि बड़े उद्योगपतिओं और निवेशकों ने राज्य में निवेश के प्रति रूचि दर्शाई है।

 

 

उद्योग के लिए जमीन उपलब्‍ध

उद्योग मंत्री सतीश महाना के अनुसार प्रदेश में उद्योगों की स्थापना के लिए जरूरी जमीन की राज्य में कोई कमी नहीं है। उद्योगों की जैसी जरूरत होगी उनको सरकार जमीन उपलब्ध कराएगी। इसके लिए औद्योगिक विकास प्राधिकरण को जरूरी दिशा निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं।

 

 

कई शहरों में किए गए थे रोडशो

समिट को सफल बनाने के लिए प्रदेश सरकार ने नई दिल्ली, बेंगलूरू, हैदराबाद, मुंबई, कोलकाता और अहमदाबाद में रोड शो आयोजित किए थे। मुबंई में रोड शो के दौरान योगी ने रतन टाटा और मुकेश अंबानी से मुलाकात की थी। इस दौरान उन्‍हें निवेश के लिए आमंत्रित किया था। बाद में बिड़ला समूह के कुमारमंगलम बिडला से मुख्यमंत्री ने लखनऊ में स्थित अपने आवास में मुलाकात की और उन्‍हें भी निवेश की संभावनाओं से अवगत कराया।

 

 

 

यह भी पढ़ें : उत्‍तर प्रदेश में मिलेंगी 20 लाख नौकरियां, 22 फरवरी को होगी बड़ी घोषणा

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट