Home » States » Uttar PradeshNCRB says cyber crimes increased in india-यूपी-महाराष्ट्र में हुए सबसे ज्यादा साइबर क्राइम, मुंबई-बेंगलुरू सबस�

यूपी-महाराष्ट्र में हुए सबसे ज्यादा साइबर क्राइम, मुंबई-बेंगलुरु सबसे अनसेफ सिटी

उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र साइबर क्राइम के लिहाज से सबसे आसान टारगेट के तौर पर सामने आए हैं।

1 of

नई दिल्ली.    उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र साइबर क्राइम के लिहाज से सबसे आसान टारगेट के तौर पर सामने आए हैं। वर्ष 2016 में साइबर क्राइम के सबसे ज्यादा 2639 मामले अकेले उत्तर प्रदेश में हुए, जबकि महाराष्ट्र 2380 मामलों के साथ दूसरे नंबर पर रहा। वहीं, मुंबई सबसे ज्यादा अनसेफ सिटी के तौर पर सामने आया, जहां पूरे साल के दौरान 980 साइबर क्राइम हुए। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की रिपोर्ट में ये आंकड़े सामने आए हैं।

 

देश भर में बढ़े साइबर क्राइम

साइबर क्राइम पूरे देश में लगातार बढ़ते जा रहे हैं। 2014 में देश में साइबर क्राइम के कुल 9622 मामले दर्ज हुए, जबकि साल 2015 में यह आंकड़ा बढ़कर 11592 जा पहुंचा था। NCRB की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक साल 2016 में साइबर क्राइम केस की संख्या 12317 जा पहुंची।

प्रशासनिक स्तर पर लाचारी और क्रिमिनल्स के हाईटेक होने से आम जनता ठगी की शिकार बन रही है। जागरूकता की कमी और टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी नहीं होना भी इसका एक बड़ा कारण है।

 

 

राज्यों में उत्तर प्रदेश की स्थिति सबसे ज्यादा बदतर

साइबर क्राइम के तहत दर्ज मामलों पर गौर करें तो उत्तर प्रदेश की स्थिति सबसे ज्यादा बद्तर है। 2016 में उत्तर प्रदेश में 2639 मामले में दर्ज हुए, जो किसी भी अन्य राज्य की तुलना में सबसे ज्यादा हैं।

इसके बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र रहा, जहां बीते साल 2380 साइबर क्राइम के केस दर्ज हुए। रैंकिंग के आधार पर भी महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है। वहीं 1101 मामलों के साथ कर्नाटक तीसरे, राजस्थान (941) चौथे और असम (696) 5वें नंबर पर रहा।

 

 

मुंबई और बेंगलुरु सबसे अनसेफ शहर

वहीं, शहरों में साइबर क्राइम की बात करें तो मुंबई सबसे अनसेफ सिटी बना हुआ है। 2016 में सिर्फ मुंबई में ही 980 मामले दर्ज हुए। वहीं 762 मामलों के साथ बेंगलुरु दूसरे, जयपुर (582) तीसरे, लखनऊ (361) चौथे, हैदराबाद (291) पांचवें, पुणे (269) छठे और कोलकाता (167) 7वें नंबर पर रहा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट