बिज़नेस न्यूज़ » States » Maharashtraस्पोर्ट्सवियर कंपनी प्रोलाइन के साथ RIL की पार्टनरशिप

स्पोर्ट्सवियर कंपनी प्रोलाइन के साथ RIL की पार्टनरशिप

स्पोर्ट्सवियर सेक्टर की दिग्गज कंपनियों नाइकी और एडिडास को अब सीधे मुकेश अंबानी की आरआईएल से टक्कर मिलेगी।

1 of

 

 

मुंबई. देश के स्पोर्ट्सवियर सेक्टर की दिग्गज कंपनियों नाइकी और एडिडास को अब सीधे मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) से टक्कर मिलेगी। दरअसल आरआईएल ने गुरुवार को स्पोर्ट्सवियर बनाने वाली घरेलू कंपनी ‘प्रोलाइन’ के साथ पार्टनरशिप  की है। यह कंपनी   स्पोर्ट्सवियर बनाने में आरआईएल के 'आर इलान' फैब्रिक्स का ही इस्तेमाल करती है।

 

 

2 साल में 8 अरब डॉलर का हो सकता है स्पोर्ट्सवियर मार्केट

यूरोमॉनिटर की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2015 से 2016 के बीच भारत का स्पोर्ट्सवियर मार्केट की ग्रोथ 22 फीसदी रही थी, जो 7 फीसदी की ग्लोबल ग्रोथ की तुलना में तिगुनी थी। 2020 तक इसके 12 फीसदी सीएजीआर दर से बढ़कर 8 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। इंडियन स्पोर्ट्सवियर मार्केट की नाइकी नंबर 1 कंपनी है और एडिडास दूसरे नंबर पर है।

 

 

आरआईएल के खास फैब्रिक्स से बनेंगे स्पोर्ट्सवियर

डील के मुताबिक ‘आर एलान’ के साथ को-ब्रांडेड ‘प्रोलाइन’ के प्रोडक्ट्स में कपड़ों को बनाने में आरआईएल के खास फैब्रिक्स का इस्तेमाल किया जाएगा। इसमें गंध मुक्त और जल्द सूखने जैसी खूबियां हैं।

कंपनी ने एक स्टेटमेंट में कहा, ‘आर इलान टेक्नोलॉजी से कंज्यूमर्स को सुखद और आरामदेह एहसास होगा। आरआईएल के फैब्रिक शानदार हैं। प्रोलाइन के मेकर्स ने भी इसे हाथोंहाथ लिया है।’

आरआईएल के मुताबिक, ‘इस डील से इंडियन स्पोर्ट्स अपारेल इंडस्ट्री पर कंपनी को पैठ बढ़ाने में मदद मिलेगी, जो लगभग 2500 करोड़ रुपए का मार्केट है।’

 

आगे भी पढ़ें 

 

 

अपारेल मार्केट में स्पोर्ट्सवियर की 15 फीसदी हिस्सेदारी

भारत की 2.5 लाख करोड़ रुपए की अपारेल इंडस्ट्री में स्पोर्ट्सवियर सेगमेंट की लगभग 10 से 15 फीसदी हिस्सेदारी है। आरआईएल के पॉलिस्टर बिजनेस की सीएमओ गुंजन शर्मा ने कहा, ‘हम प्रोलाइन को आर इलान टेक्नोलॉजी देकर खासा गर्व का अनुभव करते हैं, जो आरामदेह, किफायदी, क्वालिटी प्रोडक्ट्स उपलब्ध कराने का भरोसा दिलाती है। हम रिलायंस के तौर पर ऐसी टेक्नोलॉजी और प्रोडक्ट्स विकसित करने को उत्सुक हैं, जिससे कस्टमर्स के चेहरे पर मुस्कान आती है।’ इस पार्टनरशिप से तेजी से उभरते स्पोर्ट्सवियर मार्केट पर पकड़ बनाने में मदद मिलेगी।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट