Home »States »Haryana» Ola & Uber Taxi Driver Against Toll Tax Increase Of Haryana Govt

हरियाणा के टोल बढ़ाए जाने का विरोध कर रहे हैं टैक्सी ड्राइवर, गुड़गांव के लिए नहीं मिल रही कैब

हरियाणा के टोल बढ़ाए जाने का विरोध कर रहे हैं टैक्सी ड्राइवर, गुड़गांव के लिए नहीं मिल रही कैब
नई दिल्ली। ओला और उबर के ड्राइवर ने हड़ताल कर दी है। वह हरियाणा सरकार के टोल टैक्स बढ़ाने का विरोध कर रहे हैं। हरियाणा में 1 अप्रैल 2017 से  एक दिन का इंटर स्टेट बॉर्डर टोल टैक्स 5 सीटर के लिए 100 रुपए और बड़ी गाड़ी के लिए 500 रुपए कर दिया गया है। इससे पहले टैक्सी ड्राइवर तीन महीने का 950 रुपए एंट्री टैक्स देते थे।
 
हरियाणा सरकार ने बढ़ाया टैक्स
 
हरियाणा सरकार ने टोल टैक्स बढ़ा दिया है। इससे पहले टैक्सी ड्राइवर तीन महीने का 950 रुपए एंट्री टैक्स देते थे लेकिन राज्य सरकार ने एक महीने के पास को 3,000 रुपए कर दिया है। एक दिन का टोल टैक्स बढ़ा दिया गया है।
 
यात्रियों को नहीं मिल रही है कैब्स
 
हरियाणा सरकार के रोड़ टैक्स बढ़ाने से ऐप बेस्ड टैक्सी चलाने वाली को नुकसान पहुंचा रहा है। ड्राइवर का कहना है कि इससे उनकी कमाई पर असर पड़ रहा है। टैक्सी ड्राइवर के पैसेंजर्स को गुड़गांव जाने के लिए टैक्सी मिलने में दिक्कतें पेश हो रही हैं। यात्रियों को गुड़गांव जाने के लिए कैब नहीं मिल रही है।
 
ड्राइवर ने कर दी है हड़ताल
 
टैक्सी ड्राइवर एसोसिएशन का कहना है कि ड्राइवर बिमियादी हड़ताल पर चल गए हैं। वह टैक्स को पहले वाले लेवर पर करने की मांग कर रहे हैं। दिल्ली और गुड़गांव के बीच करीब 20,000 कैब्स चलती है। 
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY