Home » States » GujaratED attaches properties worth Rs375 crore in bank fraud case

बैंक फ्रॉड में सूरत की कंपनी की 375 करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच, ED की कार्रवाई

ईडी ने बैंक फ्रॉड के एक केस में सूरत की कंपनी नाकोडा लिमिटेड पर बड़ी कार्रवाई की है।

ED attaches properties worth Rs375 crore in bank fraud case

अहमदाबाद. एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) ने बैंक फ्रॉड के एक केस में बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने सूरत की कंपनी नाकोडा लिमिटेड की जमीन और प्लांट्स सहित 375.71 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी अटैच कीं।  कंपनी और उसके प्रमोटर्स के खिलाफ केस पहले ही दर्ज किया जा चुका है।

केंद्रीय जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने कहा कि ईडी ने सीबीआई द्वारा फाइल चार्जशीट के आधार पर कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया था। एफआईआर कंपनी चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर बाबूलाल जैन व उनके बेटे देवेंद्र जैन के खिलाफ दर्ज की गई है। देवेंद्र जैन कंपनी के ज्वाइंट एमडी भी हैं। 


2107 करोड़ रुपए के लोन का किया डिफॉल्ट 
नाकोडा लिमिटे ने कथित तौर पर कैनरा बैंक की अगुआई वाले 13 बैंकों के कंसोर्टियम से लोन लिया और लगभग 2,107 करोड़ रुपए के लोन रिपेमेंट का डिफॉल्ट किया।
अधिकारी ने बताया, ‘जांच में खुलासा हुआ कि बाबूलाल और उनके बेटे ने फर्जी बिक्री और फैंसी कपड़ों की खरीद की अपराधिक साजिश रची थी।’ इन फर्जी इनवॉइसेस के आधार पर नाकोडा लिमिटेड ने कथित तौर पर बैंकों से 816 लेटर ऑफ क्रेडिट हासिल किए। एलओसी के माध्यम से उधार लिया गया पैसा विभिन्न कर्जों के रिपेमेंट के लिए और संयंत्र और कारखाने को चलाने के लिए उपयोग किया गया था। 

 

इन प्रॉपर्टीज को किया गया जब्त 
आधिकारिक ने बताया कि, इस लोन का इस्तेमाल उन उद्देश्यों के लिए किया गया, जिनके लिए उन्हें स्वीकृति नहीं दी गई थी। ईडी ने कहा कि जब्त की गईं संपत्तियों में कंपनी का सूरत स्थित संयंत्र, एक इमारत और प्लॉट शामिल है। अधिकारी ने कहा, ‘इन कर्जों को दूसरे कामों के लिए इस्तेमाल किया गया।’

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट