Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »States »Rajasthan» 13,000 Inactive Companies Come Under Government Lens

    सरकार के रडार पर आईं 13 हजार इनैक्टिव कंपनियां, भेजे शोकॉज नोटिस

    सरकार के रडार पर आईं 13 हजार इनैक्टिव कंपनियां, भेजे शोकॉज नोटिस
     
    नई दिल्ली.शेल कंपनियों के माध्यम से अवैध रूप से फंड के लेनदेन पर कार्रवाई के बीच सरकार के रडार पर 13 हजार कंपनियां आ गई हैं। ये कंपनियां लंबे समय से बिजनेस एक्टिविटीज से दूर बनी हुई थीं।
    महज दो दिनों में कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री ने ऐसी कई कंपनियों को शोकॉज नोटिस जारी करके पूछा है कि उनका रजिस्ट्रेशन क्यों न कैंसिल कर दिया जाए, क्योंकि वे अपने बिजनेस के लिए लंबे समय से रेग्युलेटरी फाइलिंग्स नहीं कर रही हैं।
     
     
    आरओईसी अहमदाबाद और जयपुर ने जारी किए नोटिस
     
    अहमदाबाद और जयपुर सहित कई रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज ने 25 और 26 अप्रैल को ये नोटिस जारी किए हैं। इससे देश की 2.5 लाख कंपनियों को भी इसी तरह की वार्निंग दी जा चुकी है।
    ये नोटिस कंपनीज एक्ट के सेक्शन 248 के अंतर्गत जारी किए गए हैं, जिसे कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री द्वारा लागू किया गया है। यह सेक्शन चुनिंदा कारणों से कंपनियों के नाम हटाने से संबंधित है।
     
     
    रजिस्ट्रेशन हो सकता है कैंसिल
    जिन कंपनियों को नोटिस भेजा गया है, उन्हें अपना पक्ष रखना होगा और यदि उनका जवाब संतोषजनक नहीं होता है तो उनका रजिस्ट्रेशन कैंसिल कर दिया जाएगा। कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री के मुताबिक आरओसी अहमदाबाद ने 25 अप्रैल को 6356 कंपनियों को शोकॉज नोटिस जारी किए हैं।
    इसके अलावा आरओसी जयपुर और आरओसी जम्मू ने क्रमशः 5831 और 812 कंपनियों को नोटिस जारी किए हैं। ये नोटिस 26 अप्रैल को जारी किए गए थे।
     
    शेल कंपनियों के खिलाफ हो चुका है एक्शन
     
    मिनिस्ट्री का यह कदम संदिग्ध तौर पर मनी लॉन्ड्रिंग में लिप्त शेल कंपनियों के खिलाफ एक्शन के बाद सामने आया है। देश में लगभग 16 लाख रजिस्टर्ड कंपनियां हैं और सिर्फ 11 लाख ही एक्टिव हैं।
     

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY