बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhi40 से ज्यादा ऐप्स का चीनी लिंक होने की आशंका, सरकार ने सैनिकों से डिलीट करने के लिए कहा

40 से ज्यादा ऐप्स का चीनी लिंक होने की आशंका, सरकार ने सैनिकों से डिलीट करने के लिए कहा

चीन के बॉर्डर पर तैनात भारतीय सैनिकों से 40 से ज्यादा एप्लीकेशंस (ऐप्स) डिलीट करने के लिए कहा गया है।

1 of

नई दिल्‍ली। चीन के बॉर्डर पर तैनात भारतीय सैनिकों से 40 से ज्यादा एप्लीकेशंस (ऐप्स) डिलीट करने के लिए कहा गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इंटेलिजेंस ब्‍यूरो का कहना है कि इन ऐप्स का चाइनीज लिंक हो सकता है। इस घटनाक्रम के बाद Wechat, UC News, Truecaller और News-Dog जैसे ऐप्स जांच के दायरे में आ गए हैं। 


Truecaller ने दी सफाई 


हालांकि इस मसले पर कम्‍युनिकेशन ऐप Truecaller की  सफाई भी आ गई है। Truecaller की ओर से कहा गया है कि वह ऐसे किसी भी तरह के साइबर हैकिंग या हैकर्स से नहीं जुड़ी है। कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया, हम यह स्‍पष्‍ट करना  चाहते हैं कि हमारी कंपनी ऐसी किसी भी तरह की एक्‍टिविटी में संलिप्‍त नहीं है। हम स्‍वीडन की कंपनी हैं। हमें समझ में नहीं आ रहा कि इस रिपोर्ट में क्‍यों Truecaller के ऐप का नाम शामिल है। लेकिन हम इसकी जांच करेंगे। कंपनी ने आगे कहा कि Truecaller कोई संदिग्‍ध ऐप नहीं है। हमारे सभी फीचर्स सुरक्षित हैं। 

 

यह है मामला 


मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक इंटेलिजेंस ब्‍यूरो ने 24 नवंबर को बॉर्डर पर तैनात सेनाओं के लिए एक एडवाइजरी जारी की। इस एडवाइजरी के मुताबिक भारतीय सेना को अपने स्‍मार्टफोन से WeChat, Truecaller, Weibo, यूसी ब्राउजर और यूसी न्‍यूज समेत 40 ऐप को डिलीट करने की सलाह दी गई। इसके अलावा फोन को फॉर्मेट करने के लिए भी कहा गया। एडवाइजरी में कहा गया कि कई एंड्रॉयड/iOS ऐप्स को चाइनीज डेवेलपर्स ने बनाया है या इन ऐप्स में चाइनीज लिंक हैं, जिनमें स्पाईवेयर हो सकते हैं।  एजेंसियों के मुताबिक, कई ऐप सीक्रेट कम्युनिकेशंस के लिए सुरक्षित नहीं हैं। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट