बिज़नेस न्यूज़ » States » DelhiRBI ने बढ़ाई एटीएम विदड्रॉल लिमिट, अब रोज निकाल सकेंगे 10 हजार रुपए

RBI ने बढ़ाई एटीएम विदड्रॉल लिमिट, अब रोज निकाल सकेंगे 10 हजार रुपए

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने नोटबंदी के 65 दिन बाद दूसरी बार एटीएम विदड्रॉल लिमिट बढ़ा दी। अब रोजाना एटीएम से 10 हजार रुपए निकाले जा सकेंगे, अभी तक यह लिमिट 4500 रुपए थी।

1 of
 

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बड़ी राहत देते हुए हर दिन से एटीएम से विद्ड्रॉल की लिमिट 10 हजार रुपए कर दी। अभी तक यह लिमिट 4500 रुपए थी। हालांकि वीकली लिमिट पर पहले की तरह 24 हजार रुपए ही रखी गई है। इसके अलावा करंट एकाउंट के लिए भी विद्ड्रॉल लिमिट बढ़ा दी गई है।
 
 
4500 से बढ़ाकर 10 हजार की डेली विद्ड्रॉल लिमिट
 
सेंट्रल बैंक ने एक नोटिफिकेशन में कहा, ‘एटीएम और करंट अकाउंट्स से विद्ड्रॉल की लिमिट्स की समीक्षा के बाद इसे बढ़ाने का फैसला किया गया, जो तत्काल प्रभाव से लागू भी हो गया है।’ इससे पहले आरबीआई ने 1 जनवरी को एटीएम विद्ड्रॉल लिमिट को 2500 रुपए से बढ़ाकर 4500 रुपए कर दिया था।
आरबीआई ने वीकली विद्ड्रॉल लिमिट को बरकरार रखने की बात करते हुए कहा, ‘एटीएम विद्ड्रॉल लिमिट को 4500 रुपए से बढ़ाकर 10000 रुपए प्रति कार्ड कर दिया गया है।’
 
करंट अकाउंट पर विद्ड्रॉल मिलिट 1 लाख वीकली 
 
आरबीआई ने करंट अकाउंट पर भी विद्ड्रॉल लिमिट बढ़ा दी है। अब करंट अकाउंट पर एक हफ्ते में 1 लाख रुपए विद्ड्रॉल किया जा सकता है, जो अभी तक 50 हजार रुपए थी। 
 
रूरल और सेमी-अर्बन एरियाज में बैंक भेज रहे हैं 40 फीसदी कैश
 
बैंक ऑफ महाराष्ट्र के एग्जीक्यूटिव डायरेक्ट आर के गुप्ता ने कहा कि आरबीआई का यह फैसला हालात सुधरने का स्पष्ट संकेत है। उन्होंने कहा कि उनके बैंक के 75 फीसदी एटीएम अब 24 घंटे काम कर रहे हैं और सभी बैंक अपना 40 फीसदी कैश रूरल और सेमी-अर्बन एरिया में भेज रहे हैं, जिससे कैश की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके।
 
 
 
नोटबंदी के बाद दूसरी बार बढ़ाई लिमिट
 
इससे पहले 1 जनवरी 2017 को एटीएम से कैश विद्ड्रॉल की लिमिट रोजाना 2,500 रुपए से बढ़ाकर 4,500 रुपए कर दी गई थी। हालांकि, तब 24,000 रुपए की वीकली लिमिट को बरकरार रखा गया था।
 
गौरतलब है कि अभी तक कोई भी व्यक्ति अपने सेविंग्स अकाउंट से हर सप्ता 24,000 रुपए से ज्यादा की धनराशि नहीं निकाल सकता है। हालांकि, कई मामलों में बैंक सप्ताह में 24,000 रुपए भी लोगों को मुहैया नहीं करवा पा रहे थे।
 
अगली स्लाइड में पढ़िए-अब सुधर रहे हैं हालात
 
 
अब सुधर रहे हैं हालात
 
सरकार ने अब हालात सुधरने के बाद यह फैसला किया है। अब कैश को लेकर मारामारी की स्थिति नहीं है। फिर भी लोग जल्द कैश लिमिट बढ़ाने का इंतजार कर रहे हैं, ताकि छोटी-छोटी ही सही लेकिन सामने आ रही समस्याओं से निजात मिल सके। वैसे कहा यह जा रहा है कि सरकार कैश ट्रांजैक्शंस कम कर डिजिटल ट्रांजैक्शंस का चलन बढ़ाने के लिए एटीएम विदड्रॉल की मासिक मुफ्त सीमा घटाकर 3 करने पर विचार कर रही है, जिसका ऐलान बजट में हो सकता है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट