Home »States »Uttarakhand» Income Tax Department Conducted Raids On Four Govt Functionaries In UP & Uttarakhand

UP-उत्तराखंड में 20 जगह IT के छापे, 20 Cr की ब्लैकमनी और लग्जरी कारें मिलीं

नई दिल्ली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दो दिन के भीतर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में 20 जगहों पर छापा मारा। ये छापे सरकारी और पीएसयू कंपनियों के चार अधिकारियों के 20 ठिकानों पर मारे गए। IT ने 20 करोड़ रुपए की अनडिसक्लोज्ड इनकम का खुलासा किया, यहां लग्जरी कारें भी मिलीं। कई शहरों में प्रॉपर्टी सीज की गई...
 
 
- उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड (UPRNN) के जनरल मैनेजर पर ‘पद के दुरुपयोग’ और टैक्स चोरी के आरोप लगे थे।
- IT डिपार्टमेंट के सीनियर अफसर ने कहा,  "छापे के दौरान मिले डॉक्युमेंट्स के बेस पर सैकड़ों बीघा में फैले फार्म हाउस और कई शहरों में प्रॉपर्टीज सीज की गईं।"
 
रेंज रोवर, ऑडी और बीएमडब्ल्यू कारें मिलीं
- अफसर के मुताबिक, "अधिकारी और उसकी फैमिली के पास से महंगे एसेट्स के अलावा रेंज रोवर, ऑडी और बीएमडब्ल्यू जैसी लग्जरी कारें भी मिलीं। IT की टीम फार्म हाउस पर 15 बड़े एलईडी टेलीविजन देखकर हैरान रह गई।"
- "फॉर्म हाउस उस जमीन पर बना था, जो फैक्ट्री के लिए मार्क की गई थी। फार्म हाउस में मॉडर्न जिम, गेस्ट हाउस और अंडर कंस्ट्रक्शन स्विमिंग पूल भी था। डिपार्टमेंट इस अधिकारी और ऋषिकेश में उनके एसोसिएट्स के खिलाफ कई करोड़ की टैक्स चोरी की जांच कर रहा है।"
 
लोकल बॉडी चेयरमैन के पास मिली 10Cr की ब्लैकमनी
- यूपी के सिद्धार्थनगर जिले के लोकल बॉडी चेयरमैन के पास 10 करोड़ रुपए के अनडिसक्लोज्ड फंड का खुलासा हुआ। ये अभी शुरुआती अनुमान है।
- I-T अफसर के मुताबिक, "चेयरमैन के पास दो पेट्रोल पंपों और एक गैस एजेंसी का मालिकाना हक भी है। इन पर डेवलपमेंट के लिए मिली ग्रांट्स को निजी फायदे के लिए डायवर्ट करने का भी आरोप है।"
- I-T डिपार्टमेंट की टीम ने नोएडा के एक अधिकारी के ठिकानों पर छापे मारे। सूत्रों ने बताया, ‘नोएडा के अधिकारी के खिलाफ पत्नी के नाम इमूवेबल प्रॉपर्टी खरीदने के लिए 2 करोड़ रुपए कैश इस्तेमाल करने का मामला सामने आया।"
 
कानपुर के ब्यूरोक्रेट के ठिकानों पर छापे
- कानपुर में तैनात यूपी रोड ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अधिकारी के ठिकानों पर छापे मारे गए। IT ऑफिशियल ने कहा कि जल्द ही कुछ और ब्यूरोक्रेट्स पर इस तरह की छापेमारी हो सकती है, जिन पर पिछले कुछ समय से डिपार्टमेंट की नजर है।
 
15 दिन में 540 करोड़ की ब्लैकमनी का खुलासा
- प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के 31 मार्च को बंद होने के बाद IT डिपार्टमेंट अगले 15 दिन के दौरान कैम्पेन चलाकर 540 करोड़ रुपए की ब्लैकमनी का पता लगाया।
- डिपार्टमेंट के मुताबिक, "1 अप्रैल से फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के बाद कई सेक्टर्स में टैक्‍स चोरी की जांच और सर्वे किया गया। इसमें सरकारी अधिकारी, रियल एस्‍टेट और शेल फर्म जैसे सेक्‍टर शामिल हैं।"

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY