Home » States » DelhiPM Narendra Modi says Karnataka victory is extraordinary

कर्नाटक की जीत पर बोले पीएम मोदी - झूठ फैलाने वालों को जनता ने सबक सिखाया

कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से बात की।

PM Narendra Modi says Karnataka victory is extraordinary

नई दिल्‍ली... कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से बात की। मोदी ने बनारस में हुए फ्लाईओवर हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि कर्नाटक में जीत की खुशी और बनारस में हुए हादसे ने उन्हें बेचैन कर दिया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि एक दल सिर्फ राजनीति के लिए भारत के संवैधानिक ढांचे को चोट पहुंचाना चाहता है। उन्होंने कांग्रेस को पूर्वोत्तर में लड़ाई फैलाने और केंद्र और राज्य सरकारों के बीच खाई बनाने का जिम्मेदार बताया। इससे पहले अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस को जनता ने स्वीकार नहीं किया, जहां पहले भाजपा की 40 सीटें थीं, वहां अब 104 सीटे हैं। लोगों का कांग्रेस से भरोसा उठ चुका है।


बनारस को हमारी हरसंभव मदद: मोदी

 

- मोदी ने भाषण की शुरुआत बनारस हादसे से करते हुए कहा, “वाराणसी यानी मेरे लोकसभा क्षेत्र में एक फ्लाईओवर हादसा होने की वजह से अनेक लोगों दब गए हैं। कई लोगों की मृत्यु हुई है। मुख्यमंत्रीजी और अधिकारियों से भी मेरी बात हुई है। जितनी मदद और राहत दी जा सकती है, वो किया जा रहा है। कर्नाटक की विजय की खुशी और दूसरी तरफ मन पर ये भारी बोझ है। स्वाभाविक है कि हिंदुस्तान के किसी भी कोने में इस तरह का हादसा बेचैन बना देता है। मुख्यमंत्री जी को भी मैंने कहा है कि भारत सरकार की तरफ से जो भी मदद की आवश्यकता है, आर्मी समेत सबको मोबलाइज किया है।”

 

झूठ फैलाने वालों को जनता ने सबक सिखाया

 

- पीएम ने कहा, “कर्नाटक की विजय अभूतपूर्व और असामान्य है। देश में यदि छवि बना दी गई कि भाजपा यानी उत्तर भारत की छवि, हिंदीभाषी पार्टी। ना गुजरात हिंदी भाषी है, ना महाराष्ट्र हिंदी भाषी है, ना गोवा हिंदी भाषी है, ना असम हिंदी भाषी है, लेकिन एक परसेप्शन बना दिया जाता है। झूठ बोलने वाले लोग बार-बार झूठ फैलाते हैं। इस तरह की विकृत सोच रखने वालों को कर्नाटक की जनता ने बड़ा झटका दिया है।”

 

पश्चिम बंगाल में जो कुछ हुआ वो चिंता का विषय

- मोदी ने पश्चिम बंगाल चुनाव पर सवाल खड़े करते हुए कहा, “कल पूरे देश ने देखा कि पश्चिम बंगाल के चुनावों में लोकतंत्र की किस तरह से हत्या की गई। नामांकन से लेकर मतदान तक लोकतंत्र की जगह नहीं थी। निर्विरोध चुनाव का प्रबंध किया गया, बैलट बॉक्स तालाब में से निकले। निर्दोष कार्यकर्तोओं की हत्या हुई। वहां के शासक दल के सिवाय सभी दलों को मुसीबत झेलनी पड़ी है। ये लोकतंत्र के खिलाफ जो कुछ भी हुआ है, ये चिंता का विषय है।”

राजनीति के लिए बंगाल को लहूलुहान किया गया

- “बंगाल पूरी पिछली शताब्दी के दौरान देश को मार्गदर्शन देता रहा है। उसका नाम लेते ही गर्व की अनुभूति होती है, ऐसे महान लोगों की धरती राजनीतिक स्वार्थ के लिए लहूलुहान कर दी गई। चुनाव कौन जीतता है, कौन हारता है ये बाद की बात है। लोकतंत्र के सीने में जो घाव पड़े हैं, उससे उबरने के लिए सभी राजनीतिक दलों, समाज, न्यायपालिका को सक्रिय भूमिका अदा करनी होगी।”

भाजपा बहुमत से दूर तो कांग्रेसियों की बांछें खिलीं: शाह

- इससे पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव में अच्छे प्रदर्शन के लिए कार्यकर्ताओं को बधाई दी। उन्होंने कहा, “2014 से जब से मोदी जी प्रधानमंत्री बने, 30 साल के बाद पहली बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। आजादी के बाद पहली बार किसी गैरकांग्रेसी दल की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। सरकार के मोर्चे पर मोदीजी की विकास यात्रा को हर राज्य ने अपना समर्थन दिया। इस विकास यात्रा के दरौन 15 चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने जीत हासिल की है। कर्नाटक में हम सबसे बड़ी पार्टी बनकर उतरे। मैजिक फिगर से हम 7 सीट दूर रह गए। कांग्रेसियों की बांछें खिल गईं। मैं बता दूं कि आपकी 122 सीटें थीं इन्हें 78 करने का काम कर्नाटक की जनता ने किया है।

 

कांग्रेस हर चुनाव गलत तरीके से लड़ी

 

- शाह ने कहा, “मैं देश की जनता को बताना चाहता हूं कि आजादी के बाद जितने भी इलेक्शन हुए होंगे तो सबसे ज्यादा गलत तरीके से कांग्रेस कर्नाटक में चुनाव लड़ी है। देशविरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने वाली पार्टियों से हाथ मिलाया। लिंगायत को अलग दर्जा देने का दांव चला। राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने के बाद देश को जातियों में बांटने का का्म कर रहे हैं। दलितों के बारे में भ्रांति बनाई गई कि एससी-एसटी एक्ट को खत्म किया जा रहा है। राहुल जी ये एक्ट अभी काम कर रहा है। कर्नाटक में फर्जी वोटर बनाए, पैसों का दुरुपयोग किया।”

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट