बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhiअपने जिले में खोलिए ड्राइविंग स्‍कूल, 1 करोड़ रुपए देगी सरकार

अपने जिले में खोलिए ड्राइविंग स्‍कूल, 1 करोड़ रुपए देगी सरकार

सरकार ने देश के हर जिले में रीजनल ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर (RDTC) खोलने की योजना शुरू की है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. सरकार ने देश के हर जिले में रीजनल ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर (RDTC) खोलने की योजना शुरू की है। इस योजना के लिए सरकार अधिकतम 1 करोड़ रुपए की सहायता भी देगी। सरकार का इरादा देश में सड़क हादसों के चलते हर साल होने वाली करीब डेढ लाख मौतों को रोकने का है। सरकार की तरफ से कराए गए कई सर्वे में यह बात सामने आई है कि देश में ड्राइवरों की ट्रेनिंग की व्‍यवस्‍थ्‍ाा अच्‍छी नहीं है, जिसके चलते यह हादसे होते हैं।

 

 

कब तक चलेगी यह योजना

सरकार ने यह योजना 31 मार्च 2020 तक के लिए शुरू की है। हालांकि जो लोग 30 अप्रैल 2018 तक आवेदन करेंगे उनकी आवेदन को 31 मई 2018 तक प्रोसेस कर दिया जाएगा। इसके बाद आने वाले आवेदनों पर तक प्रक्रिया के तहत निर्णय किया जाएगा।

 

 

क्‍या हैं शर्ते

ड्राइविंग स्‍कूल खोलने के लिए न्‍यूनतम 2 एकड़ जमीन की जरूरत होगी। यहां पर दो क्‍लास रूम बनाने होंगे। इसके अलावा ब्रॉडबैंड कनेक्‍शन के साथ बायो मैट्रिक सिस्‍टम होना चाहिए। दो तरफा कंट्रोल के साथ दो हल्‍के और दो भारी वाहन होने चाहिए।

 

 

कौन कर सकता है आवेदन

स्‍कीम के तहत ड्राइविंग स्‍कूल खोलने के लिए स्‍टेट अंडरटेकिंग, एनजीओ, ट्रस्‍ट, वाहन कंपनियां, फर्म से लेकर कई और कैटेगरी में लोग आवेदन कर सकते हैं। लेकिन एनजीओ और अन्‍य कैटेगरी के लिए कुछ शर्तें हैं, जिन्‍हें आवेदन के पहले पढ़ लेना जरूरी है। यह पूरी जानकारी मिनिस्‍ट्री ऑफ ट्रांसपोर्ट एंड हाइवे की साइट पर अपलब्‍ध हैं। यहां से आवेदन का पूरा प्रोसेस समझा जा सकता है।

 

 

किसको करना है आवदेन

इच्‍छुक लोग अपने जिले के डीएम के माध्‍यम से ट्रांसपोर्ट कमिश्‍नर को यह आवेदन भेजेंगे। इसके बाद यह आवेदन केन्‍द्र सरकार के पास जाएंगे जहां यह फाइनल किए जाएंगे।

 

 

आगे पढ़ें : कैसे मिलेगी 1 करोड़ रुपए की सहायता

 

 

क्‍या है 1 करोड़ रुपए की सहायता का नियम

केन्‍द्र सरकार इस तरह के ड्राइविंग स्‍कूल खोलने के लिए अधिकतम 1 करोड़ रुपए की सहायत देगी। लेकिन शर्त यह है कि वह किसी भी प्रोजेक्‍ट में वह सहायता के रूप में 50 फीसदी से ज्‍यादा मदद नहीं देगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट