बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhiदिल्ली में सीलिंग के विरोध में 48 घंटे का बंद, 2500 बाजारों में नहीं होगा कारोबार

दिल्ली में सीलिंग के विरोध में 48 घंटे का बंद, 2500 बाजारों में नहीं होगा कारोबार

सीलिंग के विरोध में कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के एलान के बाद शुक्रवार से 48 घंटे का बंद शुरू हो गया है।

Major markets in Delhi closed on Friday to protest sealing drive

नई दिल्‍ली। सीलिंग के विरोध में कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के एलान के बाद शुक्रवार से 48 घंटे का बंद शुरू हो गया है। इस दौरान 2500 बाजारों में कारोबार नहीं होगा। शहर के 7 लाख से ज्यादा कारोबारी इस बंद का सपोर्ट कर रहे हैं। 500 बाजारों में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। शुक्रवार को इस मुद्दे पर राज्यसभा में हंगामा भी हुआ। इस बीच राजनिवास में लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल के साथ डीडीए की बैठक में सीलिंग में राहत देने का फैसला किया गया है।

 

कनाॅट प्लेस समेत ये बाजार बंद

- चांदनी चौक, सदर बाजार, चावड़ी बाजार, खारी बावली, नया बाजार, भागीरथ प्लेस, कनॉट प्लेस, लाजपतराय मार्केट समेत दिल्ली के बाजार बंद हैं।

- 2 से 4 फरवरी तक दिल्ली की 8 लाख दुकानें और 1.5 लाख फैक्ट्रियां पूरी तरह से बंद रहेंगी।

- इस बंद को 750 ट्रेड एसोसिएशन्स और 20 से अधिक इंडस्ट्रियल एरिया ने समर्थन दिया है।

 

क्यों हो रही है सीलिंग?

- सीलिंग की यह कार्रवाई 2007 में आए दिल्‍ली के मास्‍टर प्‍लान को पूरा करने के लिए की जा रही है। 
- इसके तहत दिल्‍ली को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाना है, ताकि शहर के लोगों को हर सुख-सुविधा मिल सके।
- इस मास्टर प्लान में शहर में 2021 के तहत कुल 2183 सड़के हैं जहां कमर्शियल और मिक्स रोड का इस्तेमाल करने की इजाजत दी गई है। ऐसे में इन जगहों पर नियम के खिलाफ अगर कंस्ट्रक्शन किया गया है तो उन्हें सील किया जा रहा है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट