बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhi7 साल पहले की थी शुरुआत, खड़ी कर दी 3 लाख करोड़ की कंपनी

7 साल पहले की थी शुरुआत, खड़ी कर दी 3 लाख करोड़ की कंपनी

भारतीय स्‍मार्टफोन मार्केट में चीन की कंपनियों का दबदबा बढ़ता ही जा रहा है।

1 of

नई दिल्‍ली। भारतीय स्‍मार्टफोन  मार्केट में चीन की कंपनियों का दबदबा बढ़ता ही जा रहा है।  खासतौर पर चीन की स्‍मार्टफोन मेकर कंपनी श्‍योमी पिछले कुछ समय ये भारतीय बाजार में छाई हुई है। इंटरनेशनल डाटा कॉरपोरेशन (IDC) की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में श्‍योमी 23.5 फीसदी मार्केट शेयर के साथ टॉप पर है। लेकिन दिलचस्‍प बात ये है कि इस कंपनी के बने हुए ही सिर्फ 7 साल हुए हैं। जी हां, श्‍योमी की स्‍थापना 2010 में हुई थी और इस कंपनी के फाउंडर चीन के जून लेई हैं। आज हम आपको जून लेई की सफलता की कहानी बताने जा रहे हैं।  

 

 

श्‍योमी के फाउंडर जून लेई ने अपने कैरियर की शुरुआत  1992 में किंगसॉफ्ट नामक कंपनी से की। वह फाउंडर टीम के मेंबर रहे और 1998 में कंपनी के सीईओ बन गए। एक साल बाद उन्‍होंने आईटी इन्‍फॉर्मेशन सर्विस और डाउनलोड वेबसाइट Joyo.com की स्‍थापना की। कुछ ही दिनों बाद किंगसॉफ्ट का आईपीओ आया। इस आईपीओ को जबरदस्‍त रिस्‍पॉंस मिला। इसके बाद लेई को किंगसॉफ्ट का वाइस चेयरमैन बनाया गया। आगे पढ़ें - कैसे की शुरुआत 


 

साल 2000 में उन्‍होंने YY, UC और वैनकल जैसी कई सारी सफल स्‍टार्टअप  कंपनियों में निवेश किया। 6 अप्रैल  2010 में उन्‍होंने श्‍योमी का निर्माण किया। जुलाई 2011 में वह एक बार  फिर किंगसॉफ्ट में बोर्ड का चेयरमैन बनकर वापसी की।  लेई वर्तमान में श्‍योमी के चेयरमैन और सीईओ हैं।  श्‍योमी आज 3 लाख करोड़ के करीब की कंपनी बन गई है। वहीं जून के नेटवर्थ की बात करें तो तो वर्तमान में 5 लाख करोड़ के करीब है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट