बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhiकर्नाटक में राज्‍यपाल ने येदियुरप्पा को दिया सरकार बनाने का न्‍यौता, सुबह 9 बजे लेंगे शपथ

कर्नाटक में राज्‍यपाल ने येदियुरप्पा को दिया सरकार बनाने का न्‍यौता, सुबह 9 बजे लेंगे शपथ

कर्नाटक के राज्यपाल ने बुधवार को भाजपा नेता बी एस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने का आमंत्रण दिया।

Yeddyurappa to take oath as chief minister on Thursday morning
 
बंगलुरु. कर्नाटक के राज्यपाल वजूभाई वाला ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता बी एस येदियुरप्पा को राज्य के 23वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने का आमंत्रण दिया। वह गुरुवार को सुबह नौ बजे राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। 

भाजपा के राज्य प्रभारी मुरलीधर राव ने यहां बताया कि राज्यपाल ने येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने का निमंत्रण दिया है। उन्हें 15 दिन के अंदर बहुमत साबित करना होगा। राज्यपाल के इस निर्णय से 117 विधायकों के समर्थन वाले कांग्रेस और जनता दल (सेक्यूलर) काे करारा झटका लगा है। दोनों दलों ने गठबंधन सरकार बनाने के मकसद से हाथ मिलाया था। 
 
राज्य की 224 सदस्यीय विधानसभा के लिए 222 सीटों पर चुनाव हुए। जयनगर निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार का निधन हो जाने तथा राजराजेश्वरी नगर निर्वाचन क्षेत्र में भारी संख्या में मतदाता पहचान पत्र बरामद किए जाने के कारण चुनाव रद्द कर दिया गया। इन सीटों के लिए अब 28 मई को मतदान होगा।

इन चुनावों में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78, जनता दल (एस) को 37, बहुजन समाज पार्टी को एक और निर्दलीय को दो सीटों पर विजय हासिल हुई है। भाजपा सबसे अधिक सीटें जीत कर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आई, लेकिन कांग्रेस और जनता दल (एस) ने हाथ मिलाकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था। राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर भाजपा को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया है। 

ये हैं विकल्‍प 

-कांग्रेस-जेडीएस के 14 विधायक सदन से गैरहाजिर हो जाएं तो भाजपा के पास मौका

# कुल सीटें: 224

# 2 सीटों पर मतदान नहीं हुआ इसलिए कुल सीटें: 222

# एचडी कुमारस्वामी 2 सीटों से जीते इसलिए सदन में कुल विधायकों की संख्या: 221

# अगर 14 विधायक फ्लोर टेस्ट के दौरान सदन से गैरहाजिर हो जाएं तो विधायकों की संख्या: 207

# सदन में विधायकों की संख्या 207 होने पर बहुमत का आंकड़ा: 104

# बहुमत का आंकड़ा भाजपा के पास: 104
 

अब कांग्रेस-जेडीएस के पास क्या हैं विकल्प?
-जेडीएस-कांग्रेस को अपने सभी 116 विधायकों को एकजुट रखना होगा। कांग्रेस ने बुधवार देर शाम अपने सभी विधायकों को बेंगलुरु के पास इगलटन रिसॉर्ट में इकट्ठा भी कर लिया। सभी को एक बस में वहां ले जाया गया।

-जेडीएस और कांग्रेस गोवा में दिए फैसले के आधार पर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकती हैं।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट