Home » States » Delhiदेश की सबसे अमीर पॉलिटिकल पार्टी है बीजेपी, BJP Richest Party, ADR Report

देश की सबसे अमीर पॉलिटिकल पार्टी है बीजेपी, एक साल में 82 फीसदी बढ़ी आमदनी

भारतीय जनता पार्टी देया की सबसे अमीर पॉलिटिेल पार्टी है। यह 1000 करोड़ रुपए की पार्टी बन गई है।

1 of
नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी देया की सबसे अमीर पॉलिटिेल पार्टी है। यह 1000 करोड़ रुपए की पार्टी बन गई है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक एक साल में बीजेपी की आमदनी 82 फीसदी बढ़ गई है। बीजेपी के बाद दूसरे नंबर पर कांग्रेस है। कांग्रेस पार्टी की आय 225.36 करोड़ रुपए है। 

 
कांग्रेस की आय 14 फीसदी घटी
7 नेशनल पार्टियों ने फाइनेंशियल ईयर 2016-17 के लिए अपनी आमदनी घोषित की। इन सभी की कुल आय 1559 करोड़ रुपए रही है। सबसे ज्यादा आमदनी बीजेपी की है। इसके बाद कांग्रेस का नंबर है। भाजपा की कमाई 81.8% बढ़कर 1034 करोड़ रुपए हो गई। 2015-16 में यह 570.86 करोड़ रुपए थी। वहीं, इस दौरान कांग्रेस की आमदनी में 14% की कमी आई है। पार्टी की आय 261.56 करोड़ रुपए से घटकर 225.36 करोड़ रुपए रह गई है।
 
5 दलों की आमदनी घटी 
पार्टी आमदनी (2016-17) आमदनी (2015-16)
भाजपा 1034.27 करोड़ 570.86 करोड़
कांग्रेस 225.36  करोड़ 261.56 करोड़
बसपा 173.58 करोड़ 47.35 करोड़
सीपीएम 100.25 करोड़ 107.25 करोड़
एनसीपी 7.73 करोड़ 9.13 करोड़
टीएमसी 6.39 करोड़ 34.57 करोड़
सीपीआई 2.07 करोड़  2.17 करोड़ 
अनुदान, दान और योगदान से मिले पैसे 
बीजेपी ने बताया कि अनुदान, दान और योगदान के जरिए उसे 997.12 करोड़ रुपए मिले। यह फाइनेंशियल ईयर 2016-17 के दौरान की कुल आमदनी का 96.41 फीसदी है। उधर, इस दौरान कांग्रेस को समान सोर्स से 50.626 करोड़ रुपए मिले। यह उसकी कुल आमदनी का 51.32 फीसदी है।
 
 
कहां से कितनी आमदनी हुई?
 
पार्टी स्वैच्छिक योगदान बैंक से मिला ब्याज फीस    सदस्यता शुल्क
बीजेपी 997.12 करोड़ 31.18 करोड़ 4.29 करोड़
कांग्रेस 115.664 करोड़ 50.62 करोड़ 43.89 करोड़
 
खर्च किए
बीजेपी ने फाइनेंशियल ईयर 2016-17 में 606.64 करोड़ रुपए चुनाव और प्रचार अभियानों पर खर्च किए। वहीं, प्रशासनिक कामों पर 69.78 रुपए लगाए। इसी तरफ, कांग्रेस ने चुनाव में 149.65 करोड़ रुपए और प्रशासकीय कामों में करीब 115.65 करोड़ रुपए खर्च किए। इसके बाद, बसपा का नंबर आता है। मायावती की इस पार्टी ने चुनाव प्रचार में 40.97 करोड़ रुपए, सामान्य और प्रशासनिक कामों में 10.809 करोड़ रुपए खर्च किए।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट