बिज़नेस न्यूज़ » States » Delhiनौकरी से बोर इम्प्लॉइज को Amazon का ऑफर, 5 हजार डॉलर लो-इस्तीफा दो

नौकरी से बोर इम्प्लॉइज को Amazon का ऑफर, 5 हजार डॉलर लो-इस्तीफा दो

दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन अपने कर्मचारियों के लिए यह बेहतरीन ऑफर दे रही है।

1 of

 

 

नई दिल्ली. अगर कोई शख्स अपनी नौकरी से बोर हो गया है और छोड़ना चाहता है। ऐसे में कंपनी खुद उसे लगभग 3.5 लाख रुपए ऑफर करे और वहां से जाने के लिए कहे तो इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता। हां, दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन अपने कर्मचारियों के लिए यह बेहतरीन ऑफर दे रही है। इसके मुताबिक, कंपनी में नौकरी से बोर हो चुके लोग 5 हजार डॉलर (3.4 लाख रुपए) लेकर जा सकते हैं। हालांकि, इस ऑफर को स्वीकार करने के लिए उन्हें एक शर्त स्वीकार करनी होगी।

 

 

पूरी करनी होगी यह शर्त

सीएनबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी साल में एक बार अमेजन फुलफिलमेंट सेंटर के फुल टाइम एसोसिएट्स को 5 हजार डॉलर लेकर नौकरी छोड़ने का ऑफर देती है। इसके लिए वही कर्मचारी पात्र होते हैं, जो कंपनी में कम से कम एक साल तक सर्विस कर चुके हैं। हालांकि इसके लिए एक कड़ी शर्त रखी गई है जिसके मुताबिक, ‘इस ऑफर को स्वीकार करने वाला शख्स अमेजन में फिर कभी काम नहीं कर पाएगा।’

अमेजन के स्पोक्सपर्सन ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि अमेजन में वही लोग काम करें, जो वहां करना चाहते हैं। लॉन्ग टर्म के लिहाज से अगर आप कहीं नहीं रहना चाहते हैं, तो वहां बने रहना इम्प्लॉई और कंपनी दोनों के लिए अच्छा नहीं है।’

 

 

कंपनी दे रही यह ऑफर

कंपनी ऐसे कर्मचारियों 2 हजार डॉलर का ऑफर देती है, जिन्होंने एक साल पूरा कर लिया हो और इससे ज्यादा साल बिताने वालों के लिए प्रति वर्ष 1,000 डॉलर तक ऑफर बढ़ा देती है। यह अधिकतम 5 हजार डॉलर हो सकता है।

 

आगे भी पढ़ें 

 

 

किसने शुरू किया था यह ऑफर

इस प्रोग्राम का नाम क्विट है, जिसकी शुरुआत ऑनलाइन शू रिटेलर Zappos ने की थी। इस कंपनी को वर्ष 2009 में अमेजन ने खरीद लिया थी। Zappos ने अपने नए नवेले कर्मचारियों को यह ऑफर दिया था और ज्वाइनिंग के कुछ हफ्तों के भीतर नौकरी छोड़ने वालों को 1,000 डॉलर ‘क्विटिंग बोनस’ दिया जाता था।

अमेजन ने दावा किया, ‘वास्तव में वह नहीं चाहती कि कोई इस ऑफर को स्वीकार करे। अमेजन के फाउंडर और सीईओ जेफ बेजोस के मुताबिक, हकीकत में इसकी हेडलाइन होती है कि कृपया इस ऑफर को स्वीकार नहीं करें।’

 

 

आगे भी पढ़ें 

 

 

क्या कहते हैं बेजोस

बेजोस ने 2014 में अपने शेयरहोल्डर्स को भेजे लेटर में लिखा, ‘इसका उद्देश्य कर्मचारियों को प्रोत्साहन देना और यह सोचने को मजबूर करना है कि वास्तव में क्या चाहते हैं।’ अमेजन के मुताबिक इस ऑफर को कम ही लोग स्वीकार करते हैं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट