• Home
  • China is ahead in copying big brands of world

नकल करने में आगे है चीन, यहां Apple से लेकर KFC तक किए गए हैं कॉपी

State Team

Jul 21,2016 11:17:00 AM IST
नई दिल्ली। चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी है। चीन की कंपनियां तमाम तरह के प्रोडक्ट बनाती हैं और सस्ते होने के कारण उनका दुनियाभर के बाजारों में वर्चस्व है। हालांकि चीन इंटरनेशनल ब्रांड्स को कॉपी करने में भी आगे है। चीन की कंपनियां तमाम पॉपुलर ब्रांड्स से मिलते-जुलते प्रोडक्ट्स बनाकर बेच रही हैं। इन्हें देखकर आपके लिए असली-नकली के बीच फर्क करना मुश्किल हो जाएगा।moneybhaskar.com आपको ऐसे ही ब्रांड्स के बारे में बता रहा है...
चीन में Apple बनी नाशपाती

चीन अमेरिकी आई फोन निर्माता कंपनी Apple की कॉपी कर चुका है। चीन की एक कंपनी एप्पल के ब्रांड ‘Apple’ को कॉपी कर ‘नाशपाती’ ब्रांड लगाकर बेच रही है। एप्पल अमेरिका की सबसे बड़ी फोन बनाने वाली कंपनी है। एप्पल की नेटवर्थ करीब 624 अरब डॉलर है।
अगली स्लाइड में जानें – दूसरे किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..
स्टारबक्स बना सनबक्स अमेरिका की कॉफी-शॉप चेन स्टारबक्स चीन में सनबक्स बन गया है। स्टारबक्स के सीईओ हॉवर्ड अमेरिका के सबसे अमीर लोगों की गिनती में शामिल है। दुनिया भर में स्टारबक्स के 23,768 आउटलेट हैं। चीन ने स्टारबक्स के लोगो को हुबहू कॉपी किया है। इंडिया में स्टारबक्स ने टाटा के साथ मिलकर आउटलेट खोले हैं। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..Adidas बना डाएडास चीन ने Adidas के शूज की हुबहू नकल कॉपी बनाई है। फेक Adidas शूज का नाम चीन ने डाएडास रख दिया है। चीन में Adidas के फेक शूज बिक रहे हैं। Adidas जर्मनी की मल्टीनेशनल कंपनी है। ये कंपनी स्पोर्ट शूज डिजाइन और मैन्युफैक्चर करती है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..KFC को बना दिया केएफजी KFC दुनिया भर में मशहूर स्नैक्स एंड फूड रेस्टोरेंट है। इसकी स्थापना 20 मार्च 1930 को हुई थी। इस फास्ट फूड कंपनी के 118 देशों में 19000 से ज्यादा आउटलेट्स हैं। चीन ने इस ब्रांड की कॉपी KFG के नाम से की है। ऑरिजनल केएफसी पर एक फोटो लगा है, जबकि चाइना में उसी शक्ल का दूसरा व्यक्ति लगा दिया गया है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..प्ले स्टेशन को बनाया पॉली स्टेशन प्ले स्टेशन जापान का नामी ब्रांड है। इसकी स्थापना 3 दिसंबर 1994 को जापान में हुई थी। यह कंपनी वीडियो गेम बनाती है, जिन्हें सोनी कंप्यूटर एंटरटेनमेंट डेवलप करती है। चाइना ने इस ब्रांड को पॉली स्टेशन नाम से कॉपी कर लिया है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..NIKE को बना दिया नाइबी NIKE अमेरिका की स्पोर्ट्स कंपनी है, जिसकी स्थापना 1964 में ब्लू रिबन स्पोर्ट्स के नाम से हुई थी। 1971 में इसका नाम बदलकर नाइकी रखा गया था। चाइना ने इस मशहूर ब्रांड के नाम में छेड़छाड़ कर नाइबी (NIBE) कर दिया है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..पिज्जा हट को बना दिया पिज्जा हुह पिज्जा हट की स्थापना अमेरिका के कंसास राज्य में 1958 में हुई थी। इस कंपनी ने दुनिया के 150 से ज्यादा देशों में 12000 से ज्यादा आउटलेट्स खोल रखे हैं। चाइना ने इस ब्रांड के लोगो को लगभग हूबहू कॉपी कर लिया है। चाइना में इसकीस्पेलिंग (PIZZA HUH) है, जबकि इसे असल में PIZZA HUT कहा जाता है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..मैकडोनल्ड्स को बनाया मा डॉनल चाइना ने मशहूर बर्गर ब्रांड मैकडोनल्ड्स को भी नहीं छोड़ा है। मैकडोनल्ड्स के नाम पर चाइना में मा डॉनल चलता है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..OLAY शैंपू को बना दिया ओके OLAY ब्यूटी प्रोडक्ट बनाने वाली नामी इंटरनेशनल ब्रांड है। इसकी स्थापना डरबन, साउथ अफ्रीका में 1949 में हुई थी। यह शैंपू, फेसवॉश जैसे कई प्रोडक्ट बनाती है। चाइना ने इस कंपनी के शैंपू ब्रांड को OKAY नाम से कॉपी कर लिया है। अगली स्लाइड में जानें ; चीन ने किस नामी ब्रांड्स को किया कॉपी..PUMA को बना दिया टूना PUMA जर्मनी का ब्रांड है, जिसकी स्थापना 1924 को हुई थी। लेकिन चाइना में इसे टूना (tuna) बना दिया है।
X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.