बिज़नेस न्यूज़ » States » BiharIRCTC होटल स्‍कैम में CBI ने राबड़ी देवी से की पूछताछ, बदले में प्‍लाट लेने का आरोप

IRCTC होटल स्‍कैम में CBI ने राबड़ी देवी से की पूछताछ, बदले में प्‍लाट लेने का आरोप

राबड़ी देवी से मंगलवार को CBI ने IRCTC होटल स्‍कैम को लेकर पूछताछ की।

CBI questions Rabri Devi in IRCTC scam case

 

नई दिल्‍ली. बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री और लालू प्रसाद यादव की पत्‍नी राबड़ी देवी से मंगलवार को CBI ने IRCTC होटल स्‍कैम को लेकर पूछताछ की। आरोप है कि यह घोटाला तब हुआ जब लालू प्रसाद यादव रेल मंत्री थे। यह पूछताछ पटना में की गई।

 

 

होटल की देखरेख का ठेकादेने में अनियमितता का आरोप

आरोप है कि लालू प्रसाद यादव ने रेलमंत्री रहने के दौरान IRCTC के दो होटल्‍स की देखरेख की जिम्‍मेदारी नियमों के विपरीत दी थी। यह होटल्‍स रांची और पुरी में हैं। इनकी देखरेख का ठेका विनय कोच्‍चर और विजय कोच्‍चर को दिया गया था, जिन पर आरोप है कि उन्‍होंने बदले में पटना में प्राइम लोकेशन में प्‍लाट दिए। यह लेनदेन एक बेनामी कंपनी के माध्‍यम से किया गया।

 

 

अनुचित फेवर किया गया

इस मामले में दर्ज FIR के अनुसार RJD नेता लालू प्रसाद यादव ने अपने रेल मंत्री के पद का दुरप्रयोग करते हुए कोच्‍चर भाइयों को मदद की और इसके बदले में बेहद कीमती जमीन उपहार के रूप में दी। यह बेनामी लेनदेन डिलाइट मार्केटिंग कंपनी के माध्‍यम किया गया। इसमें कहा गया है कि यह काम नियमों के विपरीत हुआ है और इसमें बेइमानी की गई है।

 

बाद में कंपनी राबड़ी के नाम हो गई

सुजाता होटल की ओनल कंपनी डिलाइट मार्केर्टिंग ने जैसे ही इन दो होटल्‍स के देखरेख के टेंडर मिले, उसके तुरंत बाद इन कंपनी की मालिक सरला गुप्‍ता ने कंपनी राबड़ी देवी, उनके बेटे तेजस्‍वी यादव के नाम कर दी। यह वाकया वर्ष 2010 से 2014 के बीच का है। इसी समय लालू यादव ने रेलमंत्री के पद से इस्‍तीफा दिया था।

 

 

सीबीआई ने दर्ज किया की है FIR

सीबीआई ने इस मामले में FIR दर्ज की है, जिसमें लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी और तेजस्‍वी यादव को आरोपी बताया है। इस FIR में सरला गुप्‍ता को भी आरोपी बनाया गया है जो पूर्व मंत्री प्रेम चंद गुप्‍ता की पत्‍नी हैं।

 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट