बिज़नेस न्यूज़ » States » Biharमीसा भारती के खिलाफ ED ने फाइल की दूसरी चार्जशीट, 5 फरवरी को विचार करेगी कोर्ट

मीसा भारती के खिलाफ ED ने फाइल की दूसरी चार्जशीट, 5 फरवरी को विचार करेगी कोर्ट

ईडी ने मीसा भारती और उनके पति के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग के मामले में दूसरी चार्जशीट फाइल की है।

1 of

 

नई दिल्ली. एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) ने आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती और उनके पति के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग के एक मामले में दिल्ली की एक अदालत में दूसरी चार्जशीट दाखिल की है। दोनों चार्जशीट्स पर 5 फरवरी को विचार होगा।

हालांकि स्पेशल जज एन के मल्होत्रा ने मनी लॉन्डरिंग मामले में जांच में भारती और उनके पति शैलेष कुमार के खिलाफ चार्जशीट फाइल किए जाने पर नाराजगी जाहिर की। साथ ही एजेंसी द्वारा ट्रायल शुरू नहीं करने को लेकर एजेंसी को फटकार भी लगाई।

 

ट्रायल शुरू करेंगे या शिकायतें करते रहेंगेः जज

जज ने कहा, 'क्या आप ट्रायल शुरू करेंगे या शिकायतें फाइल करते रहेंगे? आप कितनी सप्लीमेंट्री चार्जशीट्स फाइल करेंगे? आप प्रमुख जांच एजेंसी हैं। आप इस तरह का व्यवहार नहीं कर सकते। यह गलत तरीके से ड्राफ्ट की गई शिकायत है।'

कोर्ट भारती और कुमार के खिलाफ 23 दिसंबर, 2017 को फाइल की गई चार्जशीट को संज्ञान नहीं ले सकी और ईडी के स्पेशल काउंसिल अतुल त्रिपाठी द्वारा मैटर में कुछ अन्य तथ्य रखने के लिए समय मांगने पर चार्जशीट पर विचार करने के लिए 5 फरवरी की तारीख तय कर दी थी।

 

जैन ब्रदर्स भी हैं आरोपी

गौरतलब है कि इसी मामले में अरेस्ट किेए गए चार्टर्ड अकाउंटैंट राजेश अग्रवाल की पैरवी कर रहे

एडवोकेट विजय अग्रवाल ने सुरेंद्र कुमार जैन और वीरेंद्र जैन की बेल लंबित होने के चलते मामले को स्थगित करने की मांग की। सुरेंद्र कुमार जैन और वीरेंद्र जैन शेल कंपनियों द्वारा इस्तेमाल करोड़ों रुपए की लॉन्डरिंग में आरोपी हैं।

राजेश अग्रवाल को ईडी ने बिचौलिया बनने और भारती की कंपनी मिशेल पैकर्स एंड प्रिंटर्स प्रा. लि. में निवेश के लिए जैन ब्रदर्स को 'शेयर प्रीमियम' के तौर पर अडवांस में 90 लाख रुपए उपलब्ध कराए थे।

 

 

मीसा और उनके पति का फार्महाउस हो चुका है अटैच

जांच एजेंसी ने भारती और उनके पति के खिलाफ जांच में कनेक्शन के मामले में उनका दिल्ली का एक फार्महाउस अटैच कर लिया था। साउथ दिल्ली के बिजवासन एरिया के 26, पालम फार्म्स में स्थित फार्महाउस को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्डरिंग एक्ट (पीएमएलए) के अंतर्गत प्रोविजनली अटैच किया गया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट