बिज़नेस न्यूज़ » SME » Manufacturingसरकार ने टेक्‍सटाइल एक्सपोर्टर्स को दी राहत, इंसेंटिव अमाउंट में हुई बढ़ोतरी

सरकार ने टेक्‍सटाइल एक्सपोर्टर्स को दी राहत, इंसेंटिव अमाउंट में हुई बढ़ोतरी

GST की वजह से नुकसान झेल रहे टेक्‍सटाइल एक्‍सपोर्टर्स को सरकार की ओर से बड़ी राहत दी गई है।

Govt restores benefits for textiles exports

नई दिल्‍ली। गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स, GST की वजह से नुकसान झेल रहे टेक्‍सटाइल एक्‍सपोर्टर्स को सरकार की ओर से बड़ी राहत दी गई है। दरअसल, सरकार ने एक्सपोर्ट इंसेंटिव को बढ़ा दिया है। रेडीमेड कपड़ों के एक्सपोर्टर्स को पहले 2 फीसदी राशि इंसेंटिव के तौर पर मिलती थी जिसे बढ़ाकर 4 फीसदी कर दिया गया है। 

 

जून 2018 तक इस स्कीम का फायदा कारोबारी उठा सकते हैं। रेडीमेड गार्मेंट सेक्टर को करीब 1143 करोड़ रुपए की प्रोत्साहन राशि सरकार मुहैया कराएगी। जबकि 2018-19 के लिए 685.89 करोड़ रुपए हो गया है। माना जा रहा है कि जीएसटी से हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है।

 

रोजगार सृजन में मिलेगी मदद 


कॉर्मशियल मिनिस्ट्री ने कहा कि इससे रेडीमेड गारमेंट और मेड-अप्स का निर्यात बढ़ेगा जिससे रोजगार सृजन में मदद मिलेगी। मिनिस्‍ट्री ने कहा है कि भारत से व्यावसायिक निर्यात योजना (एमईआईएस) के तहत यह प्रोत्साहन दर बढ़ाई गई है। इसे 2 से बढ़ाकर 4 फीसदी कर दिया गया है। इस स्‍कीम के तहत कॉर्मशियल मिनिस्ट्री कई उत्पादों पर शुल्क लाभ देता है। यह 2 प्रतिशत, 3 और 5 फीसदी तक उत्पाद और देश के हिसाब से शुल्क लाभ उपलब्ध कराता है। बढ़ी दर एक नवंबर से अगले साल 30 जून तक लागू रहेगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट