Home » SME » Agri-BizGovt kicks off wheat procurement

गेहूं की सरकारी खरीद शुरू, 19.31 लाख टन अनाज खरीदा

सरकार ने नए गेहूं की खरीद शुरू कर दी है और अब तक करंट मार्केटिंग ईयर में 19.31 लाख टन अनाज खरीदा है

Govt kicks off wheat procurement

नई दिल्ली। सरकार ने नए गेहूं की खरीद शुरू कर दी है और अब तक करंट मार्केटिंग ईयर में 19.31 लाख टन अनाज खरीदा है। सरकार ने 2018-19 के लिए 320 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य तय किया है, जबकि पिछले साल सरकारी एफसीआई द्वारा खरीदे गए 308 लाख टन गेहूं खरीदा था। 

 

एफसीआई करता है खरीददारी 
गेहूं का मार्केटिंग ईयर अप्रैल-मार्च से चलता है, खरीद के पहले तीन महीनों में एफसीआई और राज्य एजेंसियां द्वारा बल्‍क में परचेज की जाती है। यह परचेज न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर की जाती है। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने इस साल अब तक 19.31 लाख टन गेहूं खरीदा है, जो पिछले साल की समान अवधि में 20.79 लाख टन से थोड़ा कम है।

 

इन राज्‍यों में हुई खरीददारी 
वर्तमान में मध्य प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में ज्यादातर खरीद हो रही है क्योंकि इन राज्यों में ताजा गेहूं का आगमन पूरे जोरों पर है। आने वाले महीनों में पंजाब में खरीददारी की उम्मीद है। पंजाब से, सरकार का उद्देश्य 119 लाख टन खरीदना है। एफसीआई ने इस साल अब तक 14,183 टन की खरीदारी की है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह 10,644 टन था।

 

एमपी में कम हुई खरीददारी 
मध्य प्रदेश में, एफसीआई और राज्य एजेंसियों ने इस साल अब तक 13.49 लाख टन की खरीद की है, जो पिछले साल के 16.5 लाख टन से कम है। हरियाणा में, इस अवधि में 3. 9 2 लाख टन की तुलना में 4.27 लाख टन गेहूं की खरीद कम रही।

 

हरियाणा में अधिक खरीददारी 
एफसीआई ने अभी तक 2018-19 के विपणन वर्ष में हरियाणा से 69,122 टन गेहूं खरीदा है, जो साल पहले की समान अवधि में 3,178 टन से काफी अधिक है।

 

राजस्‍थान में बढ़ी खरीददारी 
राजस्थान में गेहूं की खरीद 16,248 टन से बढ़कर 60,678 टन हो गई, जबकि गुजरात में 10, 944 टन की अवधि 1145 टन थी।

 

उत्‍पादन कम होने के आसार 
फरवरी में जारी दूसरे अनुमान में, सरकार ने अनुमान लगाया है कि इस साल 971 लाख टन गेहूं का उत्पादन थोड़ा कम होगा, जबकि पिछले साल 985.1 लाख टन गेहूं का रिकॉर्ड दर्ज किया गया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट