बिज़नेस न्यूज़ » SME » Opportunityउद्योग आधार से लिंक हुईं सरकारी स्कीम, कारोबारी को फायदा

उद्योग आधार से लिंक हुईं सरकारी स्कीम, कारोबारी को फायदा

उद्योग आधार नंबर रखने वाले कारोबारी अब एमएसएमई मिनिस्‍ट्री की स्‍कीम का फायदा उठा सकते हैं।

1 of
 
नई दिल्‍ली। सरकार ने उद्योग आधार रजिस्‍ट्रेशन को और मजबूत करने के लिए अपनी कई स्‍कीम से जोड़ दिया है। जिन कारोबारियों के पास उद्योग आधार नंबर है, वे मिनिस्‍ट्री ऑफ माइक्रो, स्‍मॉल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज ( एमएसएमई) की स्‍कीम का ऑनलाइन फायदा उठा सकते हैं। इसके लिए कारोबारी के पास अपना नॉर्मल आधार नंबर भी होना चाहिए। ऑनलाइन साइन-अप करने के लिए कारोबारी को यूजर आईडी की जगह उद्योग आधार नंबर और पासवर्ड की जगह अपना नॉर्मल आधार नंबर भरना होगा। ईज ऑफ डुइंग बिजनेस के तहत मंत्रालय ने यह कदम उठाया है।
 
 
बार कोड के लिए आर्थिक सहायता लें
 
यदि कारोबारी बार कोड के लिए अप्‍लाई करते हैं तो सरकार द्वारा कुल खर्च का 75 फीसदी आर्थिक सहायता दी जाती है। इसके लिए कारोबारियों को पहले एमएसमई के डेवलपमेंट इंस्‍टीट्यूट में अप्‍लाई करना होता है, लेकिन कारोबारी के पास यदि उद्योग आधार है तो वह ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकता है। इस लिंक पर करें क्लिक –
 
आईएसओ सर्टिफिकेट सब्सिडी स्‍कीम के लिए करें अप्‍लाई
 
जो कारोबारी आईएसओ 18000, आईएसओ 22000, आईएसओ 27000 के लिए आवेदन करते हैं, उस पर आने वाला पूरा खर्च कारोबारियों को मंत्रालय द्वारा लौटा दिया जाता है। यदि कारोबारी के पास उद्योग आधार और आधार नंबर है तो वह एमएसएमई मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर आईएसओ सर्टिफिकेट सब्सिडी स्‍कीम के तहत ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकता है। या इस लिंक पर करें क्लिक
 
टैक्‍नोलॉजी एवं क्‍वालिटी अपग्रेडेशन सपोर्ट स्‍कीम
 
सरकार द्वारा कारोबारियों को टैक्‍नोलॉजी एवं क्‍वालिटी में अपग्रेडेशन करने के लिए फाइनेंशियल सपोर्ट दी जाती है। इसका मुख्‍य मकसद एनर्जी एफिशिएंसी, प्रोडक्‍ट की क्‍वालिटी को बढ़ाना और कॉस्‍ट ऑफ प्रोडक्‍शन को कम करना है। इसके तहत कारोबारी को प्रोडक्‍ट का सर्टिफिकेशन करना होता है, जिस पर आए खर्च का 75 फीसदी खर्च एमएसएमई मंत्रालय द्वारा कारोबारी को दिया जाता है। सरकार ने इसे भी ऑनलाइन कर दिया है। जिसके लिए इस लिंक पर क्लिक किया जा सकता है।
 
 
सरकार से लें पेटेंट पर आया खर्च
 
जो कारोबारी अपने इनोवेशन या रिसर्च एंड डेवलपमेंट को सुरक्षित रखने के लिए पेटेंट या रजिस्‍ट्रेशन करना चाहता है तो उस पर आने वाले खर्च के लिए भी सरकार फाइनेंशियल असिस्‍टेंस देती है। यदि इस असिस्‍टेंस के लिए कारोबारी ऑनलाइन अप्‍लाई करना चाहते हैं तो एमएसएमई की वेबसाइट पर उद्योग आधार और आधार नंबर के माध्‍यम से अप्‍लाई कर सकते हैं।
 
अागे की स्‍लाइड में पढ़ें - और कौन सी स्‍कीम का लाभ ले सकते हैं कारोबारी 
 
 
 
मार्केटिंग डेवलपमेंट स्‍कीम
 
अपना एक्‍सपोर्ट बढ़ाने के लिए अपने प्रोडक्‍ट की मार्केटिंग के लिए जो कारोबारी विदेशों में लगने वाले एक्‍सपो में हिस्‍सा लेना चाहते हैं। इसके लिए सरकार इकोनॉमी क्‍लास के किराये का 75 फीसदी और स्‍पेस का 50 फीसदी किराया देती है। यदि कारोबारी इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो एमएसएमई मंत्रालय ने अब यह सुविधा भी दे दी है। लेकिन जरूरी है कि कारोबारी के पास उद्योग आधार और आधार नंबर हो। यह सुविधा इस लिंक पर उपलब्‍ध है।
 
 
क्रेडिट लिंक्‍ड कैपिटल सब्सिडी स्‍कीम
 
छोटे कारोबारी टैक्‍नोलॉजी अपग्रेडेशन के लिए इंवेस्‍टमेंट करते हैं तो उन्‍हें सरकार की कैपिटल सब्सिडी दी जाती है, लेकिन इसके लिए कारोबारियों को एमएसएमई कार्यालयों के चक्‍कर काटने पड़ते हैं। अब मंत्रालय ने यह सुविधा ऑनलाइन सुविधा भी उप‍लब्‍ध करा दी है। इसके लिए इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट